Connect with us

भिवानी

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर फ़ेमस हुआ हरियाणा के खेत का साधारण विडियो

Published

on

रियली इंडिया इज ग्रेट कंट्री एंड कलरफुल। हरियाणा इज क्लचरफुल। यह कहना है मेक्सिको के प्रोग्रेसिव फार्मर निकोल्स हेमर्लीन का जो बहल के गांव हरियावास में प्रगतिशील किसान रामफल गुलिया के फार्म हाउस पर उनके द्वारा प्राकृतिक तरीके से की जा रही खेती को देखने आए थे।

मैक्सिको के निकोल्स हेमर्लीन, रोड्रिगो हेमर्लीन, स्टेफिन  व इस्बल के साथ आए इन दिनों भारत भ्रमण पर आए हुए हैं। इन सेलानियों ने किसान रामफल गुलिया की बालू रेत के टीलों पर ऑर्गेनिक खेती का यूट्यूब पर वीडियो देखकर संपर्क सूत्र निकाला और किसान के एमबीए पुत्र संजीत गुलिया से मैक्सिको में इस पर जानकारी ली। संजीत गुलिया के साथ  मैक्सिको के ये चारों किसान चंडीगढ़ से हरियावास पहुंचे तो ग्रामीण इनको देखने को गुलिया फार्म हाउस में जुट गये। ग्रामीणों ने अपने अपने तरीके से विदेशी मेहमानों से बात की। किसी ने हिंदी-अंग्रेजी मिक्स करके बातें की तो किसी ने संकेतों में मेहमानों को समझाने की कोशिश की। ये वाकया इतना रोमांच भरा था कि सभी के हंसी के मारे ठहाके फूट रहे थे।

ऊंट गाड़ी और ट्रैक्टर की सवारी का लिया आनंद

ग्रामीणों ने अंग्रेज मेहमानों को ऊंट गाड़ी, ट्रैक्टर की सवारी करवाई और हरियाणवी व्यंजनों को बनाने की विधि से भी अवगत कराया। मेहमानों को गाजर के हलवे को पसंद किया तो  गाय के दूध व मक्खन को भगवान कृष्ण का प्रसाद बताया।  मेहमानों ने अगले वर्ष फिर आने का न्यौता स्वीकार किया। मेहमानों को किसान रामफल गुलिया की ओर से गाय का घी मेहमान नवाजी में भेंट किया और मेहमानों ने गुलिया को मैक्सिको आने का प्रस्ताव दिया।

बोले- बालू मिट्टी पर फसल उगाने का हम करेंगे प्रयास

मैक्सिकों के किसानों ने किसान रामफल गुलिया की प्राकृतिक खेती तकनीक को अंग्रेजों ने खूब सराहा। फार्म हाउस पर लगे जलदूत वाटर कंडीशनर की  क्रियाओं पर जानकारियां ली और उसके फंक्शन व तकनीक  पर अध्ययन किया। किसान की सरसों व गेहूं की फसल पर भी जानकारियां जुटाई। उन्होंने बताया कि मैक्सिको में इस तरह की फसलें  नहीं उगाई जाती है। लेकिन  बालू रेत के टीलों पर लगी इस तरह की तकनीक के माध्यम से वे अपने खेतों में भी ट्राई करेंगे। किसानों ने गाय व ऊंट,भेड़, बकरी  आदि के बारे में भी स्थानीय लोगों से  कई तरह की जानकारियां ली।

फर्टिलाइजर और पेस्टीसाइड के प्रयोग पर जताई चिंता

निकोल्स ने फार्म हाउस पर लगी खेती की जानकारी ली और इसके उपयोग व पैदावार के साथ मार्केटिंग पर बात की। मैक्सिको के किसानों ने उपयोग हो रहे फर्टिलाइजर पर चिंता व्यक्त की और कहा कि पेस्टीसाइड का बहुतायत में हो रहा उपयोग सीधे तौर पर जनजीवन पर विपरीत प्रभाव डालता है। इससे अनाज की पौष्टिकता से क्षीण हो रही है और इससे शरीर में रोग प्रतिरोधकता बहुत ही अल्प होती जा रही है। निकोल्स ने यह भी कहा कि इस तरह से रासायनिक उपयोग स्वस्थ व हष्ट-पुष्ट भारत के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ है।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: बुरी नज़र वाले तेरा मुँह कला