Connect with us

विशेष

अपने जीवन का सबसे बड़ा फैसला लेने की तैयारी में भूपेंद्र सिंह हुड्डा…

Published

on

दिग्गज कांग्रेसी नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा जिंदगी का कोई बहुत बड़ा फैसला लेने की तैयारी में हैं। इसलिए उन्होंने करीबी कार्यकर्ताओं की बैठक बुलाई है। हुड्डा लोकसभा चुनाव में हार से आहत हैं और अपने दम पर विधानसभा चुनाव लड़ना चाह रहे हैं। जिसकी रणनीति तैयार करने के लिए हुड्डा ने आगामी नौ जून को दिल्ली में पार्टी के करीबी कार्यकर्ताओं की बैठक बुलाई है। इस बैठक में आर-पार का फैसला हो सकता है। बैठक में चर्चा का विषय हरियाणा की कमान अपने हाथ में लेना होगा। सूत्रों के मुताबिक एक बार फिर से आलाकमान पर इस बाबत दबाव बनाया जाएगा कि जब अन्य राज्यों में विधानसभा चुनाव में पुराने चेहरों पर भरोसा कर कांग्रेस चुनाव जीत सकती है तो हरियाणा में क्यों नहीं।

हालांकि हुड्डा ने इस ओर कोई इशारा नहीं किया है, लेकिन बैठक महत्वपूर्ण इसलिए है, क्योंकि दीपेंद्र हुड्डा ने नौ जून को रोहतक लोकसभा के कार्यकर्ताओं की बैठक दिल्ली में बुलाई थी। इस बैठक में रोहतक लोकसभा में हुई हार के कारणों की समीक्षा होनी थी। जिसका समय बढ़ाकर 16 जून कर दिया गया। अब यह बैठक 16 जून को रोहतक में ही होगी।

भूपेंद्र सिंह हुड्डा

विधानसभा चुनाव मुद्दों पर लड़ा जाएगा

यहां पत्रकारों से बातचीत में भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि 2019 लोकसभा चुनाव में कांग्रेस की हार का कारण मोदी लहर और क्षद्म राष्ट्रवाद का प्रचार करने में सफल रही भारतीय जनता पार्टी है, लेकिन विधानसभा चुनाव मुद्दों पर होगा। हरियाणा में विधानसभा चुनाव में अलग मुद्दे होंगे, जिन पर आधारित यह चुनाव लड़ा जाएगा।

खींचतान नहीं छुप रही
हरियाणा में अशोक तंवर और हुडडा खेमे की आपस में खींचतान छुप नहीं रही है। पंजाब सहित अन्य कई राज्यों में कांग्रेस सरकार होने को लेकर हुड्डा और उनके समर्थक विधायक पिछले काफी समय से आलाकमान पर यह दबाव बना रहे हैं कि हरियाणा की कमान उनके हाथ में हो, लेकिन आलाकमान के सामने किसी की नहीं चल रही, अब नौ जून की बैठक में क्या फैसला होगा, इस पर सबकी नजर होगी।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You're currently offline

error: बुरी नज़र वाले तेरा मुँह कला