Connect with us

विशेष

अवैध संबंधों के शक में पत्नी पर किया कैंची से तबाड़तोड़ हमला, गला काट कर किया अलग

ग्रीन फील्ड कॉलोनी में पत्नी अंजू की निर्मम तरीके से गला काट कर हत्या करने के आरोपी पति संजीव को शक था कि उसकी पत्नी के उसके जीजा राजू के साथ अवैध संबंध हैं। इसको लेकर दोनों में अक्सर झगड़ा होता रहता था। घटना से एक रात पहले और उस दिन भी सुबह दोनों पति-पत्नी […]

Published

on

ग्रीन फील्ड कॉलोनी में पत्नी अंजू की निर्मम तरीके से गला काट कर हत्या करने के आरोपी पति संजीव को शक था कि उसकी पत्नी के उसके जीजा राजू के साथ अवैध संबंध हैं। इसको लेकर दोनों में अक्सर झगड़ा होता रहता था।

घटना से एक रात पहले और उस दिन भी सुबह दोनों पति-पत्नी के बीच झगड़ा हुआ था। झगड़ा इस कदर बढ़ गया कि उसने कैंची से गला काटकर उसकी हत्या कर दी।

आरोपी संजीव कौशिक ने सोमवार देर शाम ड्यूटी मजिस्ट्रेट के समक्ष समर्पण कर दिया था। क्राइम ब्रांच डीएलएफ ने उसे पांच दिन के रिमांड पर लिया है। पूछताछ के दौरान उसने बताया कि दोनों के बीच अक्सर झगड़े होते थे।

इसी के चलते उनका बेटा भी अधिकतर अपने ताऊ के घर रहता था। गत शनिवार को भी सुबह दोनों की किसी बात पर बहस हो गई, जो कि धीरे-धीरे झगड़े में बदल गई।

अंजू ने पहले किया था हमला

फाइल फोटो

इस दौरान अंजू के हाथ ड्रेसिंग टेबल पर रखी कैंची आ गई और उसने उस पर कैंची से हमला कर दिया। कैंची संजीव की छोटी अंगुली पर लगी। इससे गुस्साए संजीव ने उसके हाथ से कैंची खींच कर उसकी गर्दन पर ताबड़ तोड़ कई वार कर उसकी हत्या कर दी।

संजीव इतने गुस्से में था कि उसने कैंची से धीरे-धीरे उसका गला काट कर अलग कर दिया।  हत्या  के बाद उसने अपने खून से सने कपड़े बदले और फ्लैट को ताला लगाकर फरार हो गया। जांच के दौरान मौके से पुलिस को वह कैंची बरामद कर ली थी।

हालांकि उस समय पुलिस का कहना था कि कैंची से गला नहीं काटा जा सकता, मगर आरोपी ने पुलिस को बताया कि उसने उसी कैंची से वहीं बैठ कर धीरे-धीरे उसका गला काट दिया था। फरारी के दौरान वह अलवर और दिल्ली में भटकता रहा।

इसने अपने रिश्तेदारों से भी मदद मांगी, मगर किसी ने इसका साथ नहीं दिया तो मंगलवार शाम को उसने अदालत में समर्पण कर दिया। पुलिस आरोपी से पूछताछ कर रही है।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *