Connect with us

Cities

आख़िर वर्कर क्लास में पहुँच गया वायरस, ये पूर गाँव हुआ सील.. ग़रीबों तक पहुँची मार- पानीपत

Published

on

हरियाणा में कोरोना वायरस संक्रमित महिला की एक गलती से सैंकड़ों की जिंदगी पर खतरा मंडरा गया है। प्रशासन के भी हाथ पैर फूल गए हैं। पानीपत जिले 18 मार्च को कोरोना वायरस का पहला पॉजिटिव मामला सामने आया था। मॉडल टाउन निवासी राइस मिल मालिक के इंग्लैंड से लौटे 21 वर्षीय बेटे के कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई थी। अब नौल्थ स्थिति इसी राइस मिल की 30 वर्षीय महिला कर्मी को भी कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि हो गई है।

मालिक के बेटे को कोरोना की पुष्टि होने के दौरान महिला रोहतक की तेज कालोनी स्थित अपने मायके चली गई थी, जहां तबियत खराब होने पर उसे रोहतक पीजीआई में भर्ती कराया गया। उसका सैंपल भी कोरोना पॉजिटिव आ गया है। महिला नौल्था गांव में किराए के मकान पर रहती और राइस मिल में काम करती है। पानीपत में कोरोना वायरस को दूसरा पॉजिटिव केस आने के बाद स्वास्थ्य विभाग की चिंता बढ़ गई है।

Image result for वायरस

नौल्था गांव को आइसोलेट करने के साथ ही राइस मिल और महिला के ससुराल को भी क्वारंटीन किया जा रहा है। इस दौरान महिला किस-किस के संपर्क में आई, इसकी भी जांच की जा रही है। इसी को लेकर सोमवार की शाम डीसी हेमा शर्मा और सिविल सर्जन ने आपात बैठक बुलाई।

ट्रेन में रोहतक गई थी महिला, खतरा बढ़ने का भय
बताया जा रहा है कि महिला ट्रेन में पानीपत से रोहतक गई थी। इसलिए खतरा बढ़ने का अधिक भय बना हुआ है। स्वास्थ्य विभाग रेलवे की मदद से ये पता लगा रहा है कि महिला किस ट्रेन में गई थी। उस ट्रेन में कितने व्यक्ति थे और उन्हें कैसे ट्रेस किया जाए।

रोहतक में स्वास्थ्य विभाग हुआ सक्रिय

महिला रोहतक में तेज कॉलोनी में आने के बाद किन किन लोगों के संपर्क में आई है। उनको विभाग क्वारंटीन कर रहा है। उसके बच्चों और परिवार के लोगों को आईसोलेट किया गया है। विभाग लगातार उनके बारे में जानकारी ले रहा है।

Image result for वायरस

मिल के कर्मचारियों को किया जा रहा क्वारंटीन
महिला नौल्था गांव में किराये पर रहती थी। चावल मिल में काम करती थी। बताया जा रहा है कि इसी मिल में एक संदिग्ध मरीज भी मिला था। महिला के पॉजिटिव मिलने के बाद स्वास्थ्य विभाग ने नौल्था गांव की चावल मिल के कर्मचारियों को क्वारंटीन करने का काम शुरू कर दिया है।

अब तक लिए गए 16 सैंपल
स्वास्थ्य विभाग ने अब तक 16 सैंपल जांच के लिए भेजे हैं। इनमें से 12 रिपोर्ट नेगेटिव आई है, जबकि तीन की रिपोर्ट पेंडिंग है। इन रिपोर्ट में एक पॉजीटिव मिला है। रोहतक में पॉजीटिव मिली महिला का सैंपल रोहतक पीजीआई में लिया गया था। सोमवार को जांच के लिए तीन सैंपल भेजे गए हैं। इसराना के विधायक बलबीर वाल्मीकि का सैंपल भी सोमवार को भेजा गया है।

अब तक 333 लोग नहीं हुए ट्रेस
स्वास्थ्य विभाग के विदेश से आने वाले कुछ और लोगों की भी लिस्ट आई है। अब तक शहर में विदेश से 548 लोग आए हैं। इनमें से अब तक विभाग 215 लोगों को ही ट्रेस कर पाया है। 333 लोगों को ट्रेस करने के लिए स्वास्थ्य विभाग प्रयास कर रहा है। इसके लिए एक विशेष टीम भी बनाई गई है। ये शहर के लिए बड़ा खतरा बने हुए हैं।