Connect with us

चंडीगढ़

एक अजूबा है ये ‘बुलेट ट्रेन’, देखकर भूल जाएंगे प्लेन…पटरियों पर दौड़ता फाइव स्टार होटल

Published

on

एक ऐसी ‘बुलेट ट्रेन’ बनाई गई है, जिसे देखकर लोग प्लेन को भूल जाएंगे। यह पटरियों पर दौड़ता एक फाइव स्टोर होटल है, जिसमें ऐसी-ऐसी सुविधाएं, जानेंगे तो इसमें बैठकर सफर करने की चाहत जाग उठेगी।

तेजस एक्सप्रेस

15 अगस्त से चंडीगढ़-दिल्ली रेलवे ट्रैक पर यह हवाई ट्रेन ‘तेजस’ दौड़ सकती है। इसकी पुष्टि खुद नॉर्दन रेलवे के प्रबंधक विश्वेश चौबे ने की। वह बुधवार को हरियाणा मुख्यमंत्री मनोहर लाल से मुलाकात के लिए चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन पहुंचे थे। महाप्रबंधक ने उम्मीद जताई है कि 15 अगस्त से तेजस का संचालन चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन से शुरू किया जाएगा। इस दौरान नार्दन रेलवे महाप्रबंधक के साथ अंबाला मंडल के डीआरएम, सीनियर डीसीएम व चंडीगढ़ के स्टेशन अधीक्षक भी मौजूद थे।

तेजस एक्सप्रेस

तेजस ट्रेन प्रोजेक्ट के प्रपोजल पर रेल मंत्री ने भी संज्ञान लिया था। इसका प्रपोजल रेलवे बोर्ड के पास भेजा गया है। हाल हीं में तेजस के कोच भी दिल्ली आ चुके हैं। ऐसे में ट्रेन का चलना अब स्वाभाविक है। वहीं शताब्दी की संख्या कम करने की बात पर महाप्रबंधक ने कहा कि यह रेलमंत्री की अपनी व्यक्तिगत राय थी। रेलवे बोर्ड की ओर से ऐसा कुछ भी नहीं किया जा रहा है। हां, शताब्दी में पैसेंजर कम का मुद्दा गंभीर है। इस बात का अध्ययन किया जाएगा कि ऐसा क्यों हो रहा है।

तेजस एक्सप्रेस

तेजस के कोच विमान के केबिन से कम नहीं

तेजस के कोचों को आधुनिक और लग्जरी स्टाइल में डिजाइन किया गया है। तेजस के कोच किसी विमान के केबिन से कम नहीं हैं। इसमें बैठने वाले यात्री विमान का एहसास करेंगे। सुरक्षा के लिहाज से पूरी ट्रेन में सीसीटीवी कैमरे लगाए हैं। फर्श पर मार्बल फिनिश एंटर ग्रेफिटी कोचिंग होगी और रोशनी के लिए पूरी तरह से एलईडी लाइट लगाई गई है। डस्टबिन भी नए डिजाइन का लगाया है। कोच दरवाजों को गार्ड पैनल से नियंत्रित किया जा सकता है।

तेजस एक्सप्रेस

खासियतों पर डालें एक नजर

12 डिब्बों वाली तेजस 200 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ेगी। पूरी ट्रेन साउंड प्रूफ है, गेट ऑटोमेटिक हैं। वाई-फाई, सीट के पीछे टच स्क्रीन एलईडी, स्मोक डिटेक्टर, सीसीटीवी। वीनीशन विंडो- यह आकार में बड़ा है। बेहतर दृश्य, धूप से बचाव के लिए लगे पर्दे पॉवर से चलेंगे। हवाई जहाज की तरह कॉल बेल बजाते ही ट्रेन होस्टेस हाजिर होंगी। मनोरंजन के लिए एलईडी का प्रबंध है, वहीं टचलेस वाटर और सोप डिस्पेंसर सफर को और भी खुशनुमा बनाएंगे। आराम के मामले में ट्रेन के अंदर का माहौल किसी होटल से कम नहीं है।

तेजस एक्सप्रेस

गैजेट्स के लिए यूएसबी पोर्ट का भी प्रावधान है। ट्रेन में इंगेजमेंट बोर्ड, हैंड ड्रायर की सुविधा मुहैया कराई गई है। एक्जीक्यूटिव क्लास में ज्यादा आराम के लिए सीट के पीछे सर टिकाने के लिए हेडरेस्ट, पैरों के लिए फूटरेस्ट दिए गए हैं। पैसेंजर सो कर जा सकते हैं। लेटने के लिए अत्यंत सुविधाजनक सीट तैयार की गई है। स्टेशनों के बारे में और दूसरी सूचनाएं माइक के अलावा एलईडी पर भी मिलेगी। सीट और कोच के छत के निर्माण में नारंगी और पीले रंग का इस्तेमाल किया गया है।

तेजस एक्सप्रेस

कोच में तेजस यानी सूर्य के नारंगी और पीले रंग की ही इनडोर इंटीरियर विनाइल लगाई गई है। इसकी सीट, छत का भी निर्माण नारंगी और पीले रंग की विदेशी स्पॅाज और फेब्रिक से तैयार किया गया है, जिससे बाहरी कोच की तरह अंदर के रंग भी दिखे। कोच में 56 लोगों के बैठने की क्षमता के साथ एक एग्जीक्यूटिव एसी चेयर कार होगी और प्रत्येक बोगी में 78 सीट क्षमता के साथ 12 एसी चेयर कार होंगी। एक कोच में आगे-पीछे लगे दो सीसीटीवी सुरक्षा को पुख्ता बनाएंगे।

तेजस एक्सप्रेस

सबसे बड़ी खासियत यह है कि अत्याधुनिक तकनीकों की मौजूदगी के बावजूद इसमें पर्यावरण और स्वच्छता का प्राथमिक तौर पर ध्यान रखा गया है। इसके लिए बायो वैक्यूम टॉयलेट और जल संरक्षण के मद्देनजर ऐसा सिस्टम लगाया गया है, जिसमें ज्यादा से .5 से 1.5 लीटर पानी ही इस्तेमाल होगा। इससे जल के दुरुपयोग की गुंजाइश को बेहद कम कर दिया गया है। इंटरनेट कनेक्टिविटी के लिए आगे-पीछे लगी पावर कार में निर्धारित सर्वर की जगह छोड़ी गई है, वहीं सूप, चाय और कॉफी वेंडर लगाने के लिए भी अनिवार्य स्पेस का प्रावधान है।
तेजस एक्सप्रेस
मेट्रो की तर्ज वाले हाइड्रोलिक डोर इसकी खूबसूरती में चार चांद लगा रहे हैं। सबसे अहम आग लगने की सूरत में ऐसे सेंसर स्थापित किए गए है कि आग के धुएं की मात्रा के अनुसार सेंसर की आवाज ज्यादा-कम होगी। मामूली धुआं होने पर पावर कार में मौजूद गार्ड को तुरंत इसकी सूचना मिलेगी और वह आग को बुझाने को तुरंत पहुंचेगा। अगर आग ज्यादा हुई तो ट्रेन रुक जाएगी।

चंडीगढ़

हरियाणा में अब कॉलेजों के प्रिंसिपल बना सकेंगे ड्राइविंग लाइसेंस

Published

on

By

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल की अध्यक्षता में गुरुवार को हुई राज्य मंत्रिमंडल की बैठक में हरियाणा मोटर वाहन नियम, 1993 में संशोधन को स्वीकृति प्रदान की गई। ताकि लर्नर्स ड्राइविंग लाइसेंस जारी करने और स्थायी ड्राइविंग लाइसेंस हेतु योग्यता परीक्षण के लिए शक्तियां सौंपी जा सकें।

शैक्षणिक संस्थान में ही लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने की मिलेगी सुविधा

संशोधन के अनुसार सभी विश्वविद्यालयों के रजिस्ट्रार, मेडिकल कॉलेजों के निदेशकों, राजकीय कॉलेजों, सरकारी सहायता प्राप्त कॉलेजों, राजकीय शिक्षा कॉलेजों, राजकीय बहुतकनीकी संस्थानों, राजकीय आईटीआई, राजकीय नर्सिंग कॉलेज, राजकीय फार्मेसी कॉलेजों, राजकीय आयुर्वेदिक / होम्योपैथिक / यूनानी कॉलेजों के प्रधानाचार्यों और विश्वविद्यालय इंजीनियरिंग एवं प्रौद्योगिकी संस्थान के निदेशकों को ये शक्तियां सौंपी जाएंगी।

इससे विद्यार्थियों को अपने शैक्षणिक संस्थान से बिना किसी परेशानी के लर्नर ड्राइविंग लाइसेंस प्राप्त करने की सुविधा मिलेगी। इसके अतिरिक्त, विद्यार्थियों को अपने संबंधित संस्थानों में ही स्थायी ड्राइविंग लाइसेंस के लिए आवश्यक ड्राइविंग परीक्षण देने की सुविधा भी प्राप्त होगी।

Continue Reading

चंडीगढ़

पंजाब, हरियाणा और हिमाचल के लोगों के लिए अच्छी खबर

Published

on

By

चंडीगढ़ और आसपास के लोगों का 24 घंटे उड़ान का सपना जल्द पूरा होने जा रहा है। लोग पिछले कई वषो से 24 घंटे हवाई यात्रा का इंतजार कर रहे हैं। चंडीगढ़ इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड (चिआल) की मानें तो 31 मार्च 2019 से यहां पर दिन और रात में लोग किसी भी समय उड़ान भर सकेंगे। इसके लिए हवाई पट्टी को अत्याधुनिक बनाने के साथ ही विश्व स्तरीय सुविधाओं से सुसज्जित किया जा रहा है।

 

इससे चंडीगढ़ के साथ-साथ पंजाब, हरियाणा, हिमाचल और जम्मू के लोगों को राहत मिलेगी।  चंडीगढ़ इंटरनेशनल एयरपोर्ट विश्वस्तरीय बनने की दिशा में एक कदम और आगे बढ़ गया है। रिटेल आपरेशंस की शुरुआत के साथ ही चिआल को 24 घंटे चालू करने की दिशा को गति मिल गई है। चिआल के सीईओ सुनील दत्त ने कहा कि चंडीगढ़ एयरपोर्ट को हम एक विश्व स्तरीय एयरपोर्ट बनाने की दिशा में आगे बढ़ रहे हैं।

अगर सब कुछ सही चला तो अगले साल 31 मार्च से लोगों को हवाई यात्रा के लिए समय का इंतजार नहीं करना पड़ेगा। यहां से यात्रियों को 24 घंटे हवाई सेवाएं मिल सकेंगी, जिसकी प्रक्रिया तेजी से चल रही है। चंडीगढ़ इंटरनेशनल एयरपोर्ट के 24 घंटे शुरू हो जाने के बाद सिटी ब्यूटीफुल, पंजाब, हरियाणा, हरियाणा और जम्मू के लोगों के लिए हवाई यात्राएं बेहतर विकल्प साबित होंगी।

इसकी प्रमुख वजह यह है कि दिल्ली जाने के लिए हर किसी को अभी सड़क मार्ग से होकर जाना पड़ रहा है। सिटी ब्यूटीफुल से दिल्ली सड़क मार्ग से होकर जाना आम लोगों के लिए किसी मुसीबत से कम नहीं है। ऐसे में एयरपोर्ट अथॉरिटी हर हाल में चाहती है कि आगामी 31 मार्च तक हर समय लोगों को उड़ान की सुविधा मिल सके।

Continue Reading

चंडीगढ़

रास्ते में तड़प रहा था घायल, वित्तमंत्री ने काफिला रोक बचाई जान…गाड़ी से अस्पताल भेजा

Published

on

By

हरियाणा के वित्तमंत्री कैप्टन अभिमन्यु सोमवार को रात नेशनल हाईवे पर हादसे की वजह से घायल तड़प रहे एक व्यक्ति की जान बचाई।

घटना गतरात्रि करीब 10 बजे की है। हरियाणा के वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु बीती रात सड़क मार्ग से दिल्ली से चंडीगढ़ लौट रहे थे। तभी उन्होंने लालडू के पास राष्ट्रीय राजमार्ग पर हुई सड़क दुर्घटना की वजह से घायल तड़प रहा था।

वित्तमंत्री ने उसे देखते ही अपनी गाड़ी रुकवा ली और अपने काफिले में लगी पुलिस की पायलट गाड़ी में मौजूद पुलिस कर्मियों को तुरंत घायल व्यक्ति को अस्पताल में इलाज के लिए ले जाने को कहा। पुलिस कर्मचारियों ने घायल व्यक्ति गुरदीप सिंह व निवासी लालडू को लालडू के ही सिविल अस्पताल में दाखिल करा दिया।

अस्पताल में गुरदीप सिंह का समय रहते इलाज हो गया, जिससे उसकी जान बच गई। बताया जाता है कि गुरदीप सिंह किसी कार्य से मोटरसाइकिल से कहीं जा रहा था और एक वाहन ने उसे टक्कर मार दी थी, जिससे वह घायल हो गया।

Continue Reading

Trending

Copyright © 2018 Panipat Live