Connect with us

पानीपत

एक बार फिर उसी गि रोह ने बनाया पानीपत के व्यापारी को अपना शिकार

Published

on

एक ठग ने आंध्रप्रदेश के 12 व्यवसायियों के साथ मिलकर इंसार बाजार के रेडीमेड गारमेंट्स विक्रेताओ से 95 लाख रुपये की ठगी कर ली। यह गि रोह पहले भी 2018 में गीता कालोनी के हैंडलूम व्यवसायी गगनीश भाटिया से 2.45 करोड़ की ठगी कर चुका है। इसी गि रोह ने चार अन्य व्यापारियों के साथ एडवांस देकर विश्वास जीतकर करोड़ों रुपये की ठगी की थी।

इंसार बाजार स्थित प्रथम ट्रेडिंग कंपनी के मालिक मनोज कुमार मक्कड़ ने पुलिस को शिकायत दी कि उसका बच्चों और पुरुषों के रेडीमेड कपड़ों की होल-सेल का काम है। उनके भाई प्रेम कुमार की रमेश नगर में गोल्डन टैक्सो फैब व जयधारी फैब सरदार सम्मी की साझे में परदे बनाने की फैक्ट्री है। एजेंट एवं जेएस होम डेकोर के मालिक भरत चिंताल भाई व सम्मी के साथ उसके पास आया। आश्वासन दिया कि वह उसका माल हैदराबाद, आंध्रप्रदेश और तेलंगाना में बिकवा देगा। इससे उसका बिजनेस बढ़ेगा और मालामाल हो जाएगा। उसका 2017 से मार्च 2018 तक 1.50 करोड़ रुपये का माल हैदराबाद के 12 ट्रेडर को बिकवा दिया। मार्च 2018 में उसकी 95 लाख रुपये की पेमेंट रुक गई। आरोपित ने फोन भी बंद कर लिया।

उसने आरोपित द्वारा बताए गए पते पर जाकर देखा तो वहां पर कई लोगों ने उसे जान से मारने और झूठे केस में फंसाने की धमकी दी। भरत पहले उसके रुपये लौटाने के लिए कहता रहा, लेकिन बाद में मुकर गया। थाना शहर प्रभारी मोहनलाल ने बताया कि उक्त आरोपितों के खिलाफ मामला दर्ज करके जांच शुरू कर दी है।

इनके खिलाफ हुआ केस दर्ज

ठगी के आरोप में भरत, कुमारी बस्ती लोयला, सिकंदराबाद, सुरेश बाबू प्रोपराइटर विजय अरुणदती सिलेक्शन, राकेश, वैष्णवी एंटरप्राइजेज हैदराबाद, अमरनाथ विधनेशवरा साडीज एंड रेडिमेड हैदराबाद, दुदुकरी वैकंटा रामा दिया फैशन और पतूरी प्रभाकर श्री सलेक्शन दुकान तेनाली के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। इसी तरह से सुब्रमण्यम बाला जी ट्रैडर्स हैदराबाद, सतीश वेलावती श्री साई सिल्क हैदराबाद, दुदुकेला कासिमवली आरके फैशन हैदराबाद, भिसेटी नागा विजयकुमार जेएस साडीज एंड टैक्सटाइल और राधिका साडिज आंध्रप्रदेश, के रामा प्रसाद बिग बाजार फैक्ट्री, बी मलिका अर्जुना राव सारावनास शॉपिंग माल और सरस्वती इसैटी देवी श्री देवी साड़ी सेंटर आंध्रप्रदेश के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।

गि रोह के 29 ब दमाश कर रहे ठगी

पीड़ित मनोज ने बताया कि भरत व उसके 28 साथी शहर में रेडीमेड गारमेंट्स और हैंडलूम के व्यापारियों के साथ करोड़ों रुपयों की ठगी कर चुके हैं। आरोपितों के खिलाफ पहले भी थाना शहर में ठगी के मामले दर्ज हैं। एक आरोपित को जेल भी भेजा जा चुका है।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *