Connect with us

City

करनाल में घुसा तेंदुआ, किसी छत पर हो सकता है

Published

on

सावधान रहें बच्‍चों को अकेले घर से बाहर न जाने दें
Advertisement

Advertisement

Advertisement

जंगल से निकलकर तेंदुआ शहर में पहुंच गया है। करनाल शहर में तेंदुओं को दो दिन से देखा जा रहा है। हालांकि वो पकड़ में नहीं आ रहा। अब पानीपत और रोहतक से वन्‍य प्राणी विभाग की टीमें बुलाई गई हैं।

करनाल में तेंदुए को ढूंढने के लिए सर्च अभियान चलाती टीम।

Advertisement

किसी भी खतरे से निपटने के लिए एक गन भी साथ है, जिससे तेंदुए को बेहोश किया जा सकता है। पुलिस और वन्‍य प्राणी विभाग ने करनाल के कुछ एरिया में अलर्ट जारी कर दिया है। सभी सावधान रहें।

Wildlife activity increased in cold leopard spotted in Malihabad area of  Lucknow Jagran Special

Advertisement

अगर तेंदुआ दिखे तो तुरंत बताएं। अनुमान लगाया जा रहा है कि किसी न किसी छत पर तेंदुआ बैठा होगा। लेकिन किसी की नजर में नहीं आ रहा है। करनाल के सेक्‍टर छह, सेक्‍टर सात, सेक्‍टर आठ, सेक्‍टर नौ, सेक्‍टर 32 और 33, बुढ़ाखेड़ा गांव के लोगों को सावधान रहने को कहा गया है। दरअसल, इन्‍हीं जगहों पर तेंदुए की होने की आशंका है।

करनाल में तेंदुए की सूचना पर सर्च अभियान चलाने गई टीम के साथ पुलिस भी अलर्ट रही।

बच्‍चों को बाहर न निकालें 

वन्‍य प्राणी विभाग ने कहा है कि जब तक तेंदुआ पकड़ में नहीं आता, तब तक बच्‍चों को अकेले घर से बाहर नहीं जाने दें। अभिभावक भी सावधान होकर ही बाहर निकलें। क्‍योंकि किसी के साथ कोई हादसा भी हो सकता है।

एडवोकेट ने सेक्‍टर आठ की तरफ देखा 

एडवोकेट कुणाल चोपड़ा ने पुलिस को सूचित किया कि उन्‍होंने बुढ़ाखेड़ा से होते करनाल के सेक्‍टर आठ की तरफ तेंदुए को जाते हुए देखा है। उनकी आंखों के सामने तेंदुआ ओझल हो गया। एक बार तो वह भी घबरा गए थे। तेंदुए को पकड़ा बेहद जरूरी है।

रातभर चलाया सर्च अभियान

इससे पहले शनिवार रात को सर्च अभियान चलाया गया। दरअसल, रात के समय तेंदुए की आंखें चमकती हैं। इस दौरान यह पता चल सकता है कि तेंदुआ कहां पर है। सुबह चार बजे तक टीमें इधर से उधर खाक छानती रहीं लेकिन कुछ पता नहीं चल सका। सेक्‍टर नौ चौकी के इंचार्ज सुलेंद्र ने बताया कि पुलिस की टीमें भी तलाश कर रही हैं। कोशिश यही है कि तेंदुए को भी नुकसान न पहुंचे। उसे जाल में फंसाकर जंगल में छोड़ा जाएगा।

Source Jagran

Advertisement

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *