Connect with us

Cities

कोरोना वायरसः फिलीपींस में फंसे हरियणा के छात्र, वहां की सरकार ने दिए अपने देश लौटने के आदेश

Published

on

फिलीपींस में पढ़ने गए हरियाणा के कई छात्र एयरपोर्ट पर दो से तीन दिन तक फंसे रहे। जहां कुछ छात्र अन्य रास्ते से होते हुए भारत लौट आए लेकिन कई छात्र अभी भी फिलीपींस में फंसे हुए हैं। ऐसे ही शहर की सेक्टर-16-17 निवासी रितिका ग्रेवाल भी फिलीपींस में एमबीबीएस की पढ़ाई करने के लिए गई थी। मत्स्य पालन विभाग के अधिकारी सतेंद्र ग्रेवाल व पूनम ग्रेवाल की बेटी रितिका वहां एमबीबीएस द्वितीय वर्ष की छात्रा है।

Image result for फिलीपींस में फंसे हरियाणा

रितिका की माता पूनम ग्रेवाल ने बताया कि उनकी बेटी बीती रात करीब तीन बजे फिलीपींस से हिसार लौटने के लिए मनीला एयरपोर्ट पहुंची। इस दौरान उसके साथ करीब सात छात्र और थे लेकिन इसी बीच वह फ्लाइट रद्द होने के कारण उन्हें एयरपोर्ट पर ही रुकना पड़ा। पूनम ग्रेवाल ने बताया कि हैरानी की बात तो यह है कि यह फ्लाइट तो रद्द हो गई लेकिन टिकट को अभी भी ऑनालाइन कन्फर्म बताया जा रहा था।

Image result for फिलीपींस में फंसे हरियाणा

दो दिन तक एयरपोर्ट पर फंसे होने के कारण परेशान होते छात्रों को देखकर भारतीय दूतावास ने हस्तक्षेप किया। इसके बाद गुरुवार को सभी छात्रों को वापस अपने हॉस्टल लौट जाने को कहा गया। पूनम ने बताया कि इससे पूर्व वहां की सरकार ने आदेश किए थे कि 72 घंटे के भीतर सभी विदेशी छात्र अपने देश लौट जाएं, लेकिन अब उन छात्रों को 31 मार्च तक वहीं रुकने को कहा गया है। उन्होंने बताया कि एयरपोर्ट पर फंसे इन छात्रों में कुछ छात्र सेक्टर 16-17, स्याहड़वा और सेक्टर-14 व अन्य जगह के हैं। इसके अलावा एक छात्र बालसमंद का भी था लेकिन वह एयरपोर्ट नहीं गया था।

Image result for फिलीपींस में फंसे हरियाणा

एक बैच आ चुका वापस
पूनम ने बताया कि उनकी बेटी को जिस एजेंट के जरिये फिलीपींस भेजा गया था, उसके जरिये हरियाणा के अन्य छात्र भी गए थे। उनमें से किसी ने एक व्हाट्सएप ग्रुप बनाया है, जिसमें 94 छात्र व अन्य हैं। इनमें से ही कुछ छात्र बुधवार को फिलीपींस से लौटे हैं, जिनमें एक छात्र फतेहाबाद का है। उन्होंने बताया कि उन्हें जानकारी मिली है कि कुछ छात्र सीधे आने के बजाय अन्य देशों से होते हुए भारत पहुंच रहे हैं। वहीं एक छात्र गुरुवार को भी लौटा है।

Image result for फिलीपींस में फंसे हरियाणा

उपमुख्यमंत्री से साधा संपर्क
मामले को लेकर रितिका के परिजनों ने विधानसभा चुनाव में जजपा प्रत्याशी रह चुके जितेंद्र श्योराण से इस बारे में बात की। जितेंद्र ने मामले को उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला के संज्ञान में लाया। उन्होंने बताया कि उपमुख्यमंत्री दुष्यंत ने विश्वास दिलाया है कि वह इस बारे में भारतीय दूतावास से संपर्क साधेंगे और विदेश में फंसे लोगों को जल्द भारत लाने के लिए कदम उठाए जाएंगे।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *