Connect with us

Cities

कोहरे में लुका-छिपी… दोपहर को खिली धूप

Published

on

घने कोहरे की चादर लगातार दूसरे दिन पूरे शहर पर छाई रही। मंगलवार रात को कोहरा इतना ज्यादा हो गया था कि पैदल चलना भी बेहद मुश्किल था। बुधवार सुबह नौ बजे तक कोहरा छाया रहा। उसके बाद मौसम का साफ होना शुरू हो गया। दोपहर 12 बजे तक  पहर को बादल छंट गए। आसमान साफ होने के कारण सूरज निकला। इससे कुछ राहत तो मिली लेकिन शीतलहर जारी रहने से कंपकंपी चढ़ रही। तापमान में मंगलवार के मुकाबले 3 डिग्री बढ़ोतरी हुई। मौसम विभाग के अनुसार 25 जनवरी तक सुबह और शाम काे कोहरा छा सकता है। दिन में धूप खिल सकेगी लेकिन 5 से 10 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से उत्तरी-पश्चिमी हवाओं के चलने के आसार रात को फैक्ट्री से लौटते वक्त बाइक भिड़ी, माैके पर हुई मौत भास्कर न्यूज | पानीपत कोहरे ने जन्मदिन के दिन ही शटल लेस मशीन अाॅपरेटर
जान ले ली। मंगलवार रात करीब 11 बजे फैक्ट्री से घर जाते वक्त उसकी बाइक काेहरे में दूसरी बाइक से भिड़ गई। माैके पर ही उसकी माैत हाे गई। वह डे ड्यूटी पूरी कर घर वापस पहुंच गया था लेकिन मशीन में खराबी अा जाने के कारण वह वापस फैक्ट्री में गया था। लाैटते वक्त वह सेक्टर- 29 पार्ट टू स्थित कृष्णा गार्डन के पास हादसे का शिकार हाे गया। चांदनी बाग काॅलाेनी निवासी 24 साल का विकास उर्फविक्की तीन भाइयाें में दूसरे नंबर का था। िपता बनी सिंह की अाठ साल पहले पानीपत स्टेशन के पास ट्रेन की चपेट में अाने से त हाे गई थी। विकास सात साल से सेक्टर- 29 पार्ट टू स्थित डीके फैक्ट्री में काम करता था।

भाई दीपक ने बताया कि मंगलवार काे विकास का जन्मदिन था। वह बर्थ डे मनाने के लिए फैक्ट्री चला गया। ड्यूटी पूरी कर रात करीब अाठ बजे वह घर वापस अा गया। एक घंटे बाद ही मास्टर ने उसे काॅल किया। बताया कि शटल लेस मशीन में खराबी अा गई है। इसके चलते विकास वापस फैक्ट्री चला गया। वह रात करीब पाैने 11 बजे तक घर वापस नहीं अाया ताे वह उसे तलाशते हुए फैक्ट्री पहुंच गए। वहां से वह विकास के साथ ही घर वापस
रहे थे। दाेनाें अलग-अलग बाइक पर थे। वह कृष्णा गार्डन के पास पहुंचे ही थे कि तभी सामने से अा रही बाइक ने विकास की बाइक में टक्कर मार दी। इससे वह सड़क किनारे गिर पड़ा। हेलमेट दूर जाकर गिरा। विकास के सिर  गंभीर चाेट अाई। हादसे के बाद
बाइक सवार भाग गया। वे उसे सिविल अस्पताल ले गए। डाॅक्टर ने उसे मृत घाेषित कर दिया।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *