Connect with us

पानीपत

दरिंदे का शिकार बनी 3 वर्षीय मासूम, क्यूँकि निगम को रैन बसेरा बनाना ज़रूरी नहीं लगता.. -Cr ime Against Girl

Published

on

GT Road रेलवे माेड़ के पास फुटपाथ पर अपने माता-पिता के साथ रहने वाली 3 साल की बच्ची का बुधवार तड़के 4 बजे के आसपास एक ग द्दार ने अप हरण कर लिया। ट्रेन स्टेशन के पास एक खली स्थान पर ले जाने के बाद, वह पर दु ष्कर्म किया और खू न बहने की स्थिति में भाग छोड़ कर भाग गया। करीब दो घंटे के बाद लड़की रोती हुई पाई गई। उन्हें सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया। गहरी व्यक्तिगत चोटों के कारण र क्तस्राव नहीं रुका, इसलिए उसे रोहतक पीजीआई रेफर कर दिया गया। सीसीटीवी कैमरों के आधार पर, पुलिस ने लगभग 12 घंटे के बाद ही आरोपी को पहचान लिया और गिरफ्तार कर लिया।

यूपी का एक युवक अपनी पत्नी और 3 साल की बेटी के साथ पानीपत के फुटपाथ पर लगभग तीन साल से रहता था। दिव्यांग की पत्नी भीख मांगकर परिवार का पालन पोषण करती है। जहां रात होती है, परिवार फुटपाथ पर जाता सोने चला जाता है। पिता ने कहा कि वह करीब 3 दिन पहले यूपी से आया था। रात स्टेशन पर बिताई

स्टेशन माेड़ पर फुटपाट पर साे रहा था। सुबह 3 बजे जब देखा तो बच्ची साथ में ही सो रही थी । फिर करीब 4:30 बजे फुटपाथ पर चाय का ठेला लगाने वाला युवक ने उठया तो बच्ची नहीं थी । इसके बाद हमने लड़की की तलाश शुरू की। दो घंटे बाद लड़की स्टेशन के पास खू न से लथपथ पड़ी थी। उन्होंने लड़की को देखा तो युवकों ने तुरंत एसपी सुमित कुमार काे फाेन कर दिया। इसके बाद पुलिस मोके पैर पहुंची ।

 

एसपी ने कहा कि सीसीटीवी के आधार पर, आरोपी की पहचान यूपी के गेरखपुर जिले के देवरिया गांव के निवासी नंदकिशोर के रूप में की गई। आरापी एक ड्र ग एडिक्ट है और स्टेशन के करीब रहता है। कभी-कभी मजदूरी भी करता है। पैसा कमाने के बाद वह फिर से न शे में होने लगा। गहराई से पूछताछ करने के बाद गुरुवार को आरोपी को हिरासत में ले लिया गया

एसपी ने कहा कि जैसे ही डीजीपी मनोज यादव को मामले का पता चला, उन्होंने एक आदेश पारित किया जिसे हरियाणा पुलिस विभाग को लड़की के बच्चे की देखभाल के लिए खर्च की गई पूरी राशि के लिए वहन करना था। 12 घंटे में आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *