Connect with us

पानीपत

पानीपत के मॉडल टाउन से आयी चौंकाने वाली ख़बर, सबके सामने चल रहा रैकेट… खुल्लेआम ऐसी बेशर्मी

Published

on

महिला थाना पुलिस ने शुक्रवार शाम को मॉडल टाउन में किराये के मकान में हो रही वेश्यावृत्ति का भांडा फोड़ दिया। फाइनेंस ऑफिस की आड़ में देह व्यापार से जुड़े दंपती समेत एक युवती, एक महिला और एक युवक को गिरफ्तार किया गया है। पांचों आरोपितों को अदालत ने न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। मुख्य आरोपित दंपती की पहचान रित और सतीश निवासी यमुनानगर के रूप में हुई है। दोनों ने एक महीना पहले ही यहां दो कमरे किराये पर लिये थे। ग्राहकों से 500 से 6000 रुपये तक वसूले जाते थे।

Demo pic

महिला थाना प्रभारी नेहा राठी ने बताया कि एक मुखबिर ने मामले की सूचना दी थी। पड़ताल के लिए पहले मॉडल टाउन चौकी के हवलदार सतीश को ग्राहक बनाकर मकान में भेजा गया। बाकी पुलिस टीम मकान की दीवार की आड़ में खड़ी हो गई।

पांच सौ रुपये में बनी बात

हवलदार सतीश ने पहली मंजिल पर जाकर आरोपित महिला से बात की और 500 रुपये में बात तय हो गई। इस बीच, हवलदार ने साथी पुलिसकर्मियों को इशारा कर दिया और आरोपित महिला को पैसे समेत गिरफ्तार कर लिया गया। वहीं, तलाशी ली गई तो एक कमरे से युवती और पुरुष आपत्तिजनक हालत में पकड़े गए। महिला उत्तर प्रदेश के शामली की हाल पता धूप ङ्क्षसह की युवती मुमताज है और आरोपित युवक यूसुफ कुटानी रोड बाबरी मस्जिद का है। यूसुफ के पास से 500 रुपये मिले। एक अन्य कमरे से उत्तर प्रदेश के जिला बिजनौर की हाल पता बतरा कॉलोनी निवासी पूजा और सतीश कुमार को गिरफ्तार किया गया। सतीश से 600 रुपये बरामद किये। थाना मॉडल टाउन पुलिस ने मामला दर्ज किया है।

Demo pic

मकान मालिक ने कहा, घिनौने खेल का पता ही नहीं चला

मकान मालिक परिवार सहित ग्राउंड फ्लोर पर रहते हैं। 24 जनवरी को मॉडल टाउन के एजेंट मोनू ने पहली मंजिल के दो कमरे यमुनानगर के सतीश को आठ हजार रुपये में किराये पर दिलाए थे। सतीश अपनी पत्नी व एक बेटे के साथ रह रहा था। एक कमरे में सतीश ने फाइनेंस का कार्यालय खोल रखा था। इसमें महिला व पुरुष आते रहते थे। मकान मालिक का कहना है कि उसे कभी शक नहीं हुआ कि उनके मकान में ऐसा घिनौना खेल खेला जा रहा था। कहा कि भविष्य में वह बिना जांच-पड़ताल के मकान किराये पर नहीं देगा।

दिल्ली के ब्यूटी पार्लर से भी मंगाई जाती थीं लड़कियां

महिला थाना प्रभारी नेहा राठी ने बताया कि सतीश व उसकी पत्नी दिल्ली के ब्यूटी पार्लर से भी चार से पांच हजार रुपये में लड़कियां मंगवाते थे। इसके अलावा उन्होंने धूप सिंह नगर, बतरा कॉलोनी व एक दर्जन बाहरी कॉलोनियों में दलाल छोड़ रखे थे। ये दलाल ही महिलाओं को वहां पहुंचाते थे। इसका उन्हें कमीशन दिया जाता था। ग्राहकों से मोबाइल फोन से संपर्क किया जाता था।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *