Connect with us

पानीपत

पानीपत-सोनीपत-दिल्ली नहरों के साथ चलेगी नई सड़क, 334 करोड़ की सड़क मंज़ूर

सोनीपत व पानीपत के हजारों वाहन चालकों को सीएम मनोहर लाल ने पश्चिमी यमुना नहर व कैरियर लाइन चैनल के बीच की सड़क को राष्ट्रीय राजमार्ग-44 के विकल्प के तौर पर जीर्णोद्धार कराने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। दिल्ली के हरेवली से पानीपत के डिंडार तक 46 किलोमीटर लंबी सड़क बनाए जाने से […]

Published

on

सोनीपत व पानीपत के हजारों वाहन चालकों को सीएम मनोहर लाल ने पश्चिमी यमुना नहर व कैरियर लाइन चैनल के बीच की सड़क को राष्ट्रीय राजमार्ग-44 के विकल्प के तौर पर जीर्णोद्धार कराने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। दिल्ली के हरेवली से पानीपत के डिंडार तक 46 किलोमीटर लंबी सड़क बनाए जाने से लोगों को दिल्ली की ओर आवागमन का सुगम रास्ता उपलब्ध होगा। वहीं वाहनों के दबाव और इस मार्ग पर होने वाले हादसों में कमी आएगी।

पश्चिमी यमुना नहर व कैरियर लाइन चैनल के बीच की सड़क पर वाहनों के बढ़ते दबाव व टूटी सड़क से लगातार हो रहे हादसों पर संज्ञान लेते हुए मंत्री कविता जैन व सीएम के मीडिया सलाहकार राजीव जैन ने पीडब्ल्यूडी अधिकारियों को इसका समाधान तलाशने के निर्देश दिए थे।

इसके बाद अधिकारियों ने पहले इस मार्ग के लिए स्पेशल रिपेयर कराने का प्रस्ताव दिया, जिसे मंत्री कविता जैन व सीएम के मीडिया सलाहकार राजीव जैन ने सीएम मनोहर लाल से 2 करोड़ रुपये मंजूर कराकर वाहन चालकों को राहत दिलाई थी।

इसके बाद राजीव जैन ने एनएच-44 पर मुकरबा चैक, सिंघु बार्डर से होते हुए पानीपत तक बढ़ रहे जाम व भविष्य में यातायात अवरुद्ध होने की संभावना को ध्यान में रखते हुए इस नहरी मार्ग को जीटी रोड के विकल्प के तौर पर इस्तेमाल कराने की संभावना पर जोर दिया।

 

इस संभावना पर काम करते हुए एचएसआरडीसी के अधिकारियों ने दिल्ली के हरेवली से लेकर पानीपत के डिंडार गांव तक इस खंड को सात मीटर चौड़ा निर्माण कराने व वाहनों के दबाव के अनुकूल तैयार करने के मुताबिक 334 करोड़ रुपये का प्रस्ताव दिया। अब नए वर्ष के मौके पर सीएम मनोहर लाल ने इस प्रस्ताव को मंजूरी प्रदान कर दी है।

20 से ज्यादा गांवों के लोगों को होगा फायदा 

सीएम के मीडिया सलाहकार राजीव जैन ने बताया कि नहर के बीच मार्ग निर्माण से दिल्ली के हैदरपुर रिंग रोड तक वाहन चालकों को एक बेहतर विकल्प मिलेगा, इस मार्ग पर सोनीपत में रोहतक रोड पर रोहट, गोहाना रोड पर बडवासनी पर जंक्शन एवं जींद-गोहाना रेलवे लाइन पर उपरगामी पुल को बनाया जाएगा। यही नहीं हरेवली, नाहरी, नाहरा, बिंदरौली, रोहट, ककरोई, महलाना, बडवासनी, हुल्लाहेड़ी, चिटाना, माहरा, जुआं, कैलाना, सिटावली, महमूदपुर माजरा, खूबडू, सरढाना, आहुलाना, नया बांस, डिंडार गांव व इनके साथ लगते गांवों के लोगों को सुविधा मिलेगी।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *