Connect with us

पानीपत

पुलिस को बड़ी कामयाबी: बड़ा लू ट गि रोह ढेर, सरगना पुलिस के हाथ आया

Published

on

पुलिस ने 10 दिनों में दूसरी मु ठभेड़ में दो और ब दमाशों को काबू कर लिया। रात दो बजे पत्थरगढ़ गांव के पास सीआइए-टू और दो बद माशों में 13 राउंड फा यरिंग हुई। अंतरराज्यीय लू ट और स्नेचिंग गि रोह के सरगना 25 वर्षीय कपिल उर्फ आशू के दायें पांव में गोली लगी है। वह उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर के हकीमपुरा गांव का रहने वाला है और सातवीं पास है। उसके साथी बागपत के ददवाडिया पट्टी गांव के आकाश उर्फ गुड्डू को भी गिरफ्तार कर लिया गया।

ब दमाशों ने पुलिस पर चार, जबकि पुलिस ने नौ फा यर किए। इनसे बिना नंबर प्लेट की स्पलेंडर बाइक, दो देसी पि स्तौल, मोबाइल फोन और तीन गो लियां बरामद हुई हैं। घायल सरगना कपिल को सामान्य अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

पानीपत में लू ट की दो वारदात कर रखी

सरगना कपिल के खिलाफ 25 मामले दर्ज हैं। इसमें पानीपत में लू ट के दो, करनाल, उत्तर प्रदेश के कैराना, मुजफ्फरनगर, बागपत, उत्तराखंड के हरिद्वार के बहादराबाद थाने में छह मामले दर्ज हैं। थाना सनौली में ह त्या के प्रयास और अवैध हथियार का मामला दर्ज किया गया है। ब दमाश आकाश को अदालत में पेश कर तीन दिन की रिमांड लिया गया है।

पुरकाजी नपा चेयरमैन की ली थी सु पारी

एसपी सुमित कुमार ने लघु सचिवालय में पत्रकारों को बताया कि कपिल पहले उत्तर प्रदेश के कई गि रोह का सदस्य रह चुका है। वर्ष 2016 में रोशनाबाद जेल में बंद इंतजार पहलवान ने कपिल को उत्तराखंड के पुरकाजी नगरपालिका के चेयरमैन जहीर फारुखी की ह त्या की सुपारी दी थी। कपिल ने चेयरमैन पर गोली भी चलाई थी। इसी दौरान उसे एसटीएफ ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। कपिल 2018 में बाहर आया था।उसने 12 ब दमाशों का गि रोह बनाया। हरियाणा, उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश में लू ट व स्नेङ्क्षचग की वारदात की। उत्तर प्रदेश की पुलिस की सख्ती बढ़ी दो कपिल और उसके गुर्गे करनाल-पानीपत में वारदात करने लगे।

रेत पर बाइक फिसली तो पकड़े गए

सीआइए-टू प्रभारी दीपक कुमार को सूचना मिली थी कि जलालपुर से पत्थरगढ़ की ओर कच्चे रास्ते पर टी प्वाइंट के पास अवैध हथियारों से लेस बाइक सवार दो ब दमाश वारदात की फिराक में हैं। इसी दौरान एएसआइ अशोक कुमार की में टीम नवादा पार गांव से पत्थरगढ़ की ओर भेजी। गाड़ी का आता देख ब दमाश बाइक लेकर पत्थरगढ़ यमुना बांध की तरफ भागने लगे। एक ब दमाश ने पुलिस की गाड़ी पर फा यर किया। इसी दौरान सनौली व बापौली पुलिस ने नाकाबंदी कर दी।  इसी हड़बड़ी में रेत पर बाइक फिसल गई और ब दमाश गिर गए। ब दमाश ने पुलिस की गाड़ी पर फा यर किया। पुलिस ने नौ फा यर किए। एक गो ली कपिल के पैर में लग गई।

ये कर चुके हैं वारदात 

  1. 27 जुलाई को पि स्तौल के बल पर गांव छाजपुर खुर्द गांव में शराब के ठेके पर कारिंदे शिवकुमार से सात हजार रुपये लू टे।
  2. 4 सितंबर को समालाखा से जौरासी रोड पर बाइक सवार जौरासी के राहुल व उसके दादा रामफूल 50 हजार रुपये से भरा थैला छीना।
  3. अगस्त महीने में बागपत में एक व्यक्ति से पि स्तौल के बल पर नकदी लू टी।
  4. अगस्त में ही बागपत में स्कूटी सवार महिला से 35 हजार रुपये लू टे।

उप्र की तर्ज पर ब दमाशों को निशाना बना रही पुलिस

योगी सरकार आने के बाद उप्र पुलिस ब दमाशों को निशाना बना रही है। अब वहां के ब दमाश पानीपत में वारदात कर रहे हैं। उप्र पुलिस के अंदाज में पानीपत पुलिस भी ब दमाशों से निपट रही है। 7 सितंबर की रात को सीआइए-1 ने एंबियंस सिटी के पास तीन ब दमाशों से मु ठभेड़ हुई थी। गैंग के सरगना उत्तर प्रदेश के जिला शामली के बिरालीयन गांव के मंगल के पैर में गोली मारी थी। मंगल के साथी विक्की और राहुल को भी गिरफ्तार किया। मंगल ने स्नेङ्क्षचग की तीन और बाइक चोरी की 50 वारदात कर रखी हैं।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *