Connect with us

राज्य

पुलिस ने छापा मारा, बदमाश ने छत से छलांग लगाई, मौके पर हुई मौत

समालखा के खटीक मोहल्ले में दिल्ली क्राइम ब्रांच प्रशांत विहार सेक्टर 14 की टीम ने सोमवार देर रात साढ़े 12 बजे दबिश देकर मोस्टवांटेड इनामी दो बदमाशों को गिरफ्तार किया। वहीं पुलिस को देखकर एक मुख्य इनामी बदमाश ने भागने का प्रयास किया। जिसकी घर की छत से कूद जाने पर 18 फीट नीचे जमीन […]

Published

on

समालखा के खटीक मोहल्ले में दिल्ली क्राइम ब्रांच प्रशांत विहार सेक्टर 14 की टीम ने सोमवार देर रात साढ़े 12 बजे दबिश देकर मोस्टवांटेड इनामी दो बदमाशों को गिरफ्तार किया। वहीं पुलिस को देखकर एक मुख्य इनामी बदमाश ने भागने का प्रयास किया। जिसकी घर की छत से कूद जाने पर 18 फीट नीचे जमीन पर गिरने से मौके पर ही मौत हो गई।  गिरफ्तार बदमाशों से मृतक के परिजनों का फोन नंबर लेकर उन्हें घटना की सूचना दी गई। सूचना मिलते ही दिल्ली प्रहलादपुर निवासी परिजन मौके पर पहुंचे, लेकिन तब तक पानीपत पुलिस मृतक के शव को सामान्य अस्पताल ले जा चुकी थी। मंगलवार सुबह परिजन अस्पताल पहुंचे, जहां उन्होंने पुलिस पर ही छत से धक्का देकर हत्या करने का आरोप लगाया। दिनभर पुलिस व परिजनों के बीच खींचातानी का माहौल बना रहा।

मामले की गंभीरता को समझते हुए मौके पर समालखा एसडीएम गौरव को ड्यूटी मजिस्ट्रेट के रूप में बुलाया। जिसके समक्ष परिजनों के वीडियोग्राफी कर बयान दर्ज किए गए। वहीं बुधवार को मृतक का पोस्टमार्टम करवा कर पुलिस आगामी कार्रवाई अमल में लाएगी।

पूर्व पार्षद के एकलौते बेटे को किडनैप कर मांगे थे 50 करोड़
दिल्ली के कुख्यात भगौड़े बदमाश महेश निवासी प्रहलादपुर, दिल्ली की पानीपत के कस्बे समालखा की पंजाबी कॉलोनी में घर की छत से संदिग्ध हालात में सड़क पर गिर कर मौत हो गई। वहीं मृतक महेश की गिरफ्तारी पर दिल्ली पुलिस ने दो लाख रुपये का इनाम घोषित कर रखा था। दिल्ली पुलिस को कुख्यात महेश (39) उर्फ ठेकेदार पुत्र जय भगवान की लंबे अर्से से तलाश थी।

सांकेतिक तस्वीर

डीसीपी क्राइम ब्रांच दिल्ली जॉय ट्रकी ने बताया कि महेश पर 8 बदमाशों के साथ मिलकर दिल्ली के प्रीतमपुरा निवासी पूर्व पार्षद व कारोबारी शंभू शर्मा के एकलौते बेटे का 27 सितंबर 2016 को अपहरण कर एक करोड़ रुपये की फिरौती वसूलने के मामले में तलाश थी। बदमाश ने अपहरण कर 50 करोड़ रुपये मांगे थे। 9 दिन तक दोनों के बीच रुपयों को कम-ज्यादा पर बातचीत होती रही। नौवें दिन बदमाशों ने 1 करोड़ रुपये की फिरौती लेकर पूर्व पार्षद के बेटे को छोड़ा था।

8 बदमाश को कर लिया था गिरफ्तार, मास्टमाइंड था फरार
फिरौती लेने के बाद से ही दिल्ली पुलिस बदमाशों की धरपकड़ के लिए कई टीम बनाकर उनकी तलाश में जुट गई थी। जिसके बाद पुलिस ने 8 बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया था। जिसमें दिल्ली निवासी विक्रांत, पालमपुर निवासी आनंद, चांदपुर दिल्ली निवासी मंजीत, दीनपुर निवासी विनोद्र अनूप नगर बुलंदशहर निवासी विचित्र वीर, नजफगढ़ निवासी विनोद सहित स्वरूप नगर निवासी भक्त को पुलिस ने गिरफ्तार किया था। जबकि किडनैपिंग का मास्टर माइंड महेश व एक अन्य बदमाश दीपक तभी से ही फरार थे।

पुलिस ने छापा मारा, बदमाश ने छत से छलांग लगाई, उड़ गए प्राण पखेरू

हत्यारोपी की निशानदेही पर एक और इनामी बदमाश गिरफ्तार

सोमवार को दिल्ली पुलिस ने बदमाश दीपक को गिरफ्तार किया था। जिसकी निशानदेही पर ही समालखा में दबिश दी थी। गौरतलब है कि दीपक ने एक बदमाश सुरेंद्र उर्फ कैरा के साथ मिलकर 2006 में पंजाबी बाग इलाका निवासी ब्रहम सिंह की हत्या की थी। ब्रहम सिंह मोनू दरियापुर गैंग का बदमाश था। इस हत्या के बाद से सुरेंद्र को गिरफ्तार कर लिया था, जो कि पैरोल पर बाहर आया था व फरार हो गया था।
Panipat News - haryana news red cross in the delhi crime branch39s samalkha team 2 lakh prima facie roam from the ceiling death

दीपक की सोमवार को गिरफ्तारी के बाद ही दिल्ली पुलिस ने समालखा में सतीश के मकान में दबिश देकर कुख्यात अपराधी भगौडा महेश उर्फ ठेकेदार, विजय उर्फ विनय निवासी गांव प्रहलादपुर दिल्ली, सुरेंद्र उर्फ केरा निवासी गांव बख्तावरपुर सोनीपत, को मौके पर काबू कर लिया था। महेश पुलिस से बचकर छत से कूद गया था, जिससे उसकी मौत हो गई थी। सोमवार को हुई इस गिरफ्तारी में बदमाश विनय हत्या के जुर्म में भगोड़ा व 50 हजार का इनामी बदमाश था, जिसे गिरफ्तार कर लिया गया।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *