Connect with us

राज्य

प्यार के कुछ पल साथ बिताने गए थे, प्रेमी ने ऐसा तोहफा दे दिया कि वो ताउम्र नहीं भूलेगी

Spread the love

Spread the love प्यार के कुछ पल साथ बिताने के लिए गए थे, लेकिन प्रेमी ने प्रेमिका को ऐसा तोहफा दे दिया कि वो ताउम्र नहीं भूल पाएगी, देखने वाले भी हैरान रह गए। घटना हरियाणा के रोहतक की है। मॉडल टाउन पुलिस चौकी के सामने स्थित होटल में वीरवार दोपहर को शादी से मना […]

Published

on

Spread the love

प्यार के कुछ पल साथ बिताने के लिए गए थे, लेकिन प्रेमी ने प्रेमिका को ऐसा तोहफा दे दिया कि वो ताउम्र नहीं भूल पाएगी, देखने वाले भी हैरान रह गए।

घटना हरियाणा के रोहतक की है। मॉडल टाउन पुलिस चौकी के सामने स्थित होटल में वीरवार दोपहर को शादी से मना करने पर सीआरपीएफ के कांस्टेबल ने युवती पर चाकू से 9 हमले किए। चाकू के वार से युवती बेहोश हो गई तो उसे मृत समझ खुद भी पंखे पर रस्सी से फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। होटल कर्मियों से सूचना मिलने पर पुलिस और एफएसएल की टीम मौके पर पहुंची।

गंभीर रूप से घायल युवती को पीजीआई में भर्ती कराया गया। जवान के शव को पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया गया। शाम को युवती के बयान के आधार पर जवान पर धारा 307 के तहत जानलेवा हमले का केस दर्ज कर लिया गया। मृतक जवान सुनील और घायल युवती भिवानी के धनाना गांव निवासी हैं। सुनील दिल्ली में सीआरपीएफ में कांस्टेबल के पद पर तैनात था और कुछ ही दिन बाद उसकी शादी थी, जबकि युवती बीकॉम के बाद एसएससी की तैयारी कर रही है।

पुलिस को वीरवार दोपहर 2.40 पर सूचना मिली कि होटल सिरोक्स में एक युवक ने पंखे पर फंदे से लटककर आत्महत्या कर ली है, जबकि युवती खून से लथपथ घायल पड़ी है। सूचना पाते ही डीएसपी ताहिर हुसैन के अलावा एसएफएल की टीम मौके पर पहुंची। होटल मालिक संदीप ने बताया कि दोनों होटल के कमरा नंबर 202 में वीरवार को ही दोपहर के समय आईडी प्रूफ दिखाने के बाद रुके थे।

वहीं डीएसपी ताहिर हुसैन ने बताया कि युवती ने बयान में कहा है कि एक माह बाद सुनील की शादी किसी अन्य स्थान पर होनी थी। इसीलिए वह उस पर जबरदस्ती कोर्ट मैरिज का दबाव बना रहा था। मगर उसने परिजनों की अनुमति के बिना शादी से इनकार कर दिया था। जिसके बाद सुनील ने उस पर चाकू से हमला बोल दिया। चाकू के हमले से वह बेहोश हो गई। होश में आई तो सुनील भी पंखे पर फंदे से लटकर आत्महत्या कर चुका था।

डीएसपी ने बताया कि नौ बार चाकू लगने के बाद भी तड़पती युवती ने जिंदगी बचाने के लिए जमकर संघर्ष किया। करीब आधे घंटे तक युवती खुद को बचाने के लिए छटपटाती रही। जैसे ही उसे होश आया तो युवती बंद कमरे का दरवाजा खोलने का प्रयास करती रही। काफी देर तक छटपटाने के बाद उसने ऊपर से बंद की गई दरवाजे की चिटकनी को खोलकर बाहर निकलने का प्रयास किया, लेकिन ज्यादा देर तक खुद को खड़ा ना रख पाने के चलते युवती कमरे के अंदर ही गिर गई।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *