Connect with us

पानीपत

महिपाल की गाड़ी को ट्रैक्टर-जेसीबी अड़ाकर रोका गया, धारा सिंह रावल के इलाक़े में बड़ा विरोध

Published

on

ग्रामीण विधानसभा से भाजपा प्रत्याशी और विधायक महीपाल ढांडा का धारा सिंह रावल के गांव काबड़ी में समर्थकों ने ही विरोध कर दिया। तय कार्यक्रम से उलट ढांडा दूसरे के यहां चले गए, जिससे नाराज एक गुट ने हंगामा कर दिया। विधायक की कार के आगे जेसीबी और ट्रैक्टर अड़ाकर सड़क जाम कर दिया।

हंगामे के बीच ढांडा को पैदल ही दूसरे कार्यक्रम स्थल पर जाना पड़ा। सूचना के बाद मॉडल टाउन थाना पुलिस मौके पर पहुंची। ट्रैक्टर-जेसीबी हटवाकर ढांडा को अपने साथ गढ़ी सिकंदरपुर ले गई। ढांडा का सोमवार शाम भाजपा में शामिल हो चुके धारा सिंह रावल के गांव में दो जगह कार्यक्रम थे। तय कार्यक्रम के तहत ढांडा को पहले सरकारी स्कूल के पास बलवान सिंह के कार्यक्रम में जाना था।

Tharmal News - haryana news instead of the scheduled program in village kabri dhanda went to the first place then the supporters went to the protest stopped the car with a tractor jcb the commotion

इसके बाद सरपंच के ससुर रामनिवास रावल द्वारा चौपाल में रखे कार्यक्रम में जाना था। काफिला स्कूल के पास ही रुका। कार छोड़कर ढांडा रामनिवास रावल के साथ चौपाल की ओर चले गए। इस पर बलवान सिंह के यहां इंतजार कर रहे युवाओं ने हंगामा कर दिया। भाजपा के झंडे फेंक दिए। ढांडा की कार के आगे जेसीबी अड़ा दी। ढांडा जब रावल के यहां से लौटकर आए तो कार नहीं निकाल सके। इस पर पैदल की बलवान सिंह के यहां गए। इस बीच पुलिस आई और जाम खुलवाकर विधायक को अपनी सुरक्षा में गढ़ी सिकंदरपुर ले गई।

Image result for महिपाल ढांडा

ढांडा के नामांकन में आए थे धारा सिंह

2014 के चुनाव में ढांडा के खिलाफ निर्दलीय चुनाव लड़ने वाले धारा सिंह अब भाजपा में हैं। टिकट के लिए दावेदारी जता रहे थे, लेकिन पार्टी ने ढांडा पर ही भरोसा किया। ढांडा के नामांकन में शामिल तो हुए, लेकिन प्रचार में साथ नहीं हैं। सोमवार को रावल के अपने गांव काबड़ी में ढांडा का कार्यक्रम था, तब भी रावल शामिल नहीं हुए।

लोग शिकायत करने लगे तो बिना सुने ही निकले ढांडा : काबड़ी के बाद ढांडा गढ़ी सिकंदरपुर पहुंचे। गांव के युवाओं ने खेल के सामान न मिलने की शिकायत की तो ढांडा निकल गए। इस पर युवा माइक से ही आवाज लगाने लगे, बीच में छोड़कर क्यों जा रहे हो, जवाब तो दे दो।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *