Connect with us

विशेष

मां की हालत देख चोर लौटा गया तीन दिन पहले चोरी हुआ बच्चा, बैग में सड़क पर मिला नवजात

Published

on

Advertisement

राजस्थान (Rajasthan) के बाड़मेर (Barmer ) के जिला अस्पताल (District Hospital) से तीन दिन पहले चोरी हुआ तीन दिन (Infant Stolen) का बच्चा वापस मिल गया है. तीन दिनों से मां कमला बेसुध पड़ी थी. कमला का रो-रोकर बुरा हाल था. पिछले तीन दिनों से बाड़मेर का पूरा अस्पताल हैरान परेशान था. बच्चे के मिल जाने से मां की जान में जान आई है.

ममता हुई शर्मसार, झाड़ी में मिला नवजात

Advertisement

अस्पताल से चोरी किए गए बच्चे को पुलिस और प्रशासन ढूंढने में लगा हुआ था कि अचानक से बाड़मेर पुलिस चौकी से क़रीब सौ मीटर दूर एक राहगीर रमेश सोनी की नज़र एक बैग पर पड़ी जिसमें बच्चा रखा हुआ था. उसने अस्पताल के स्टाफ को इसकी सूचना दी जिसके बाद बच्चे को अस्पताल लाया गया.

बाड़मेर के मेडिकल कॉलेज के राजकीय चिकित्सालय की पोस्ट ऑपरेटिव वार्ड से 3 दिन का बच्चा चोरी हो गया था. जिसके बाद पिता जसराज सिंह ने बताया सुबह जब 5:00 बजे उनका बच्चा गायब था. उन्होंने इसकी शिकायत नर्स, अस्पताल प्रशासन से की लेकिन कोई जवाब देने को तैयार नहीं था. फिर इसकी जानकारी अस्पताल पुलिस चौकी में दी गई. सबसे चौंका देने वाली बात तो यह है कि अस्पताल के अंदर लगे सभी सीसीटीवी कैमरे खराब थे और कोई सुरक्षा गार्ड ड्यूटी पर नहीं था.

Advertisement

पुलिस अधीक्षक आनंद शर्मा ने कहा कि बच्चा दिन भर बैग में नहीं रहा था बल्कि किसी ने लाकर रखा था और बताया है. इसलिए मामले की जांच की जा रही है कि किडनैपर कौन है और बच्चे को कहां- कहां रखा गया था.

नौ दुर्गा के दिनों में जन्मे बच्चे ने एक हाथ से किया लोगों को अचंभित | New born attraction for this reason in Navratri - Hindi Oneindia

Advertisement

पुलिस का मानना है कि कोई जानकार ही बच्चे को किडनैप किया था. जिस तरह से उसके मां की हालत ख़राब हो रही थी उसे देखते हुए हो सकता है उसे दया आई होगी या फिर पुलिस की कार्रवाई से डरकर वह बच्चे को सुरक्षित सड़क किनारे रख गया. डॉक्टरों के अनुसार फ़िलहाल बच्चे की हालत ठीक है पर ऐसा लग रहा है किडनैपर ने बच्चे की देखभाल की है.  पुलिस जल्द इस पूरी वारदात का खुलासा करेगी.

लापरवाही के आरोप में नर्स सस्पेंड 
बाड़मेर के जिला कलेक्टर लोक बंधु ने इस मामले में सीएमओ से रिपोर्ट मांगी जिसमें प्रथम दृष्टया यह पाया गया कि नर्स लापरवाही सामने आई जिस पर कलेक्टर ने नर्स को सस्पेंड कर दिया. इस कार्रवाई के बाद नर्सिंग स्टाफ ने बवाल मचा दिया और नर्सिंग स्टाफ सड़कों पर उतर गए और आखिर में इस मामले में कलेक्टर की ओर से कमेटी बनाई गई.

आज पुलिस करेगी खुलासा
पुलिस अधीक्षक आनंद शर्मा ने बताया कि पुलिस के हाथ कुछ सबूत लगे हैं जिस पर पुलिस काम कर रही है. आज ही इस पूरी वारदात का खुलासा कर दिया जाएगा.

Source aajtak

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *