Connect with us

पानीपत

लालबत्ती चौक से चोरी ऐक्टिवेट को मालिक ने खुद पीछाकर पकड़ा

Published

on

लाल बत्ती से जीपीएस वाली एक्टिवा चुराकर भागे बदमाश को पौने घंटे बाद करनाल में पकड़ा गया। मालिक को जीपीएस की मदद से एक्टिवा की लोकेशन और स्पीड की जानकारी मिल रही थी। पीड़ित ने दो बार डायल 100 पर कॉल करके पुलिस को लोकेशन बताई, लेकिन मदद न मिलते देख मालिक ने खुद पीछा कर बदमाश को पकड़ लिया और पुलिस के हवाले कर दिया।

Panipat GPS Activa theft owner caught thief did not get any support form police

मॉडल टाउन शांति नगर निवासी अशोक वीका की असंध रोड पर दुकान है। उन्होंने बताया कि सोमवार शाम करीब 3 बजे वह लाल बत्ती पंजाब एंड सिंध बैंक के पास बिजनेस के सिलसिले में आया था। बैंक के पास गली में एक्टिवा खड़ी करके वह मीटिंग में चला गया। करीब 15 मिनट बाद आया तो एक्टिवा गायब मिली। एक्टिवा में जीपीएस लगा था। मोबाइल पर चेक किया तो एक्टिवा की लोकेशन कोहंड में मिली। वह समझ गया कि एक्टिवा चोरी हो गई है।

अशोक ने पुलिस को सूचित किया लेकिन पुलिस नहीं आई। इसके बाद उसने दोस्त की बाइक मांगकर आरोपी का पीछा शुरू किया। कोहंड पहुंचने पर एक्टिवा की लोकेशन देखी तो वह घरौंडा थी और 50 से 60 की स्पीड पर चल रही थी। दोबारा 100 नंबर पर फोन घरौंडा टोल पर आरोपी को पकड़ने के लिए पुलिस को कहा लेकिन पुलिस ने फिर कोई रिस्पांस नहीं दिया।

घरौंडा पहुंचने पर एक्टिवा मधुबन पहुंच चुकी थी। अशोक ने करनाल के दोस्त सतीश को फोन पर एक्टिवा का नंबर बताकर जीटी रोड पर खड़ा किया। अशोक एक्टिवा की लोकेशन बताता रहा और सतीश ने चोर को एक्टिवा सहित पकड़ लिया। आरोपी ने अपना नाम जयसिंह निवासी जिरकपुर बताया। उसने कबूला कि अशोक के जाते ही उसने एक्टिवा चुरा ली थी। वह एक्टिवा को जिरकपुर ले जा रहा था। वहां उसे एक्टिवा को बेचना था।

अशोक ने 4 हजार रुपए में जीपीएस लगवाया था। इसकी लोकेशन मोबाइल पर एप्लीकेशन के माध्यम से देखी जा सकती थी। इसी की मदद से आरोपी को पकड़ा जा सका। वहीं डीएसपी हेडक्वार्टर सतीश कुमार वत्स का कहना है कि ऐसा मामला अभी नोटिस में नहीं है। अगर वाहन मालिक ने 100 नंबर पर फोन कर लोकेशन बताई तो पुलिस को तुरंत एक्शन लेना चाहिए था। इसकी जांच करवाई जाएगी और जो दोषी पाया जाएगा उस पर कार्रवाई की जाएगी।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *