Connect with us

करनाल

श्री गुरु रविदास का मंदिर गिराए जाने के विरोध में 2 घंटे से नेशनल हाइवे-44 बंद कर दिया

Published

on

दिल्ली के तुगलकाबाद में 10 अगस्त को प्रशासनिक अमले द्वारा रविदास मंदिर तोड़े जाने पर करनाल में कुछ युवकों व महिलाओं ने नेशनल हाइवे-44 बंद कर दिया।

करनाल के निर्मल कुटिया चौक पर दोपहर 12.40 पर बड़ी संख्या में जुटे युवकों व महिलाओं ने सड़क पर यातायात रुकवा दिया। दोपहर 2.24 बजे जाम खुला।

जाम खुलवान के लिए बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों मौके पर पहुंचे। पहले डीएसपी राजीव कुमार और एसडीएम नरेंद्र पाल ने उन्हें समझाने का प्रयास किया लेकिन जब प्रदर्शनकारी नहीं माने तो डीसी विनय प्रताप सिंह और एसपी सुरेंद्र भौरिया मौके पर पहुंचे।

दोनों ने प्रर्दशन कर रहे लोगों को समझाया और उनका ज्ञापन लिया। उन्होंने आश्वासन दिया कि उनके ज्ञापन को सरकार तक पहुंचा दिया जाएगा। इसके बाद जाम खोला गया।

रणदीप सुरजेवाला ने दी प्रतिक्रिया


कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीटर पर बयान देते हुए कहा कि मंदिर गिराना जघ्न्य अपराध है। सरकार चाहती तो जमीन दे सकती थी। अगर सरकार चाहती तो वह और जमीन दे सकती थी या अदालत में रिव्यू दायर कर सकती थी। लेकिन नहीं रविदास समाज का अपमान करना, उन्हें नीचा दिखाना, भाजपा का तौर तरीका है। यह अशोभनीय है, शर्मनाक है। हम मांग करते हैं कि उस मंदिर को दोबारा बनाया जाए और अदालत से जो आदेश लेने हैं, वे लिए जाएं।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *