Connect with us

मनोरंजन

सपना चौधरी की नई तस्वीरों ने Facebook पर मचाया धमाल, देखिए कितनी निखर गई हैं

Published

on

सपना चौधरी के ठुमके तो दीवाना बनाते ही हैं, उनकी तस्वीरें भी बहुत खूबसूरत होती हैं। कुछ नई तस्वीरें सामने आई हैं, देखकर पगला जाएंगे…

सपना चौधरी की ये तस्वीरें फेसबुक और इंस्टाग्राम पर वायरल हो रही हैं। इनमें सपना चौधरी काफी खूबसूरत नजर आ रही हैं, वहीं वे थोड़ी स्लिम भी दिख रही हैं।

दरअसल, सपना चौधरी ने अपना वजन कम कर लिया है और अब वो पहले से ज्यादा फिट और खूबसूरत दिखने लगी हैं। बता दें कि सपना को सलमान खान ने वजन कम करने की सलाह दी थी।

बिग बॉस 11 के दौरान घर में रहते हुए सपना चौधरी का वजन काफी बढ़ गया था। इसलिए शो से बाहर आने के बाद सपना चौधरी ने जिम में पसीना बहाते हुए वजन कम करने पर काम किया।

वहीं बिग बॉस 11 का हिस्सा बनने के बाद तो हरियाणवी डांसर सपना चौधरी की किस्मत ही बदल गई। उनके डांस टैलेंट को देखते हुए उन्हें टीवी और बॉलीवुड फिल्मों में परफॉर्म करने का मौका मिला।

 

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

मनोरंजन

भारत में ऑटो के सफर से भी सस्‍ती है विमान यात्रा, मंत्री जी ने बताई ये कैलकुलेशन

Published

on

By

भारत में विमान यात्रा करना ऑटो में सफर करने से भी सस्‍ता है. आपको शायद यकीन ना हो, लेकिन मंत्री जी ने खुद इस बात को पुष्‍ट करने के लिए अपनी कैलकुलेशन दी है. दरअसल केंद्रीय नागर विमानन राज्‍यमंत्री जयंत सिन्‍हा ने सोमवार को इसकी जानकारी देते हुए बताया कि देश में हवाई सफर ऑटो रिक्‍शा के सफर से भी सस्‍ता है.

Image result for भारत में ऑटो के सफर से भी सस्‍ती है विमान यात्रा, मंत्री जी ने बताई ये कैलकुलेशन

सोमवार को गोरखपुर हवाई अड्डे के नए टर्मिनल का भवन का लोकार्पण करने पहुंचे केंद्रीय मंत्री जयंत सिन्‍हा ने कहा, ‘मौजूदा समय में हवाई यात्रा ऑटो रिक्‍शा के सफर से भी सस्‍ती है. आप पूछेंगे कि यह कैसे संभव है, लेकिन जब दो लोग ऑटो से क‍हीं जाते हैं तो वे किराये के रूप में 10 रुपये देते हैं. इसका मतलब हुआ कि उन्‍हें एक किमी के सफर की कीमत 5 रुपये चुकानी पड़ती है. लेकिन जब आप ऑटो के बदले विमान से यात्रा करते हैं तो आपको 1 किमी की यात्रा के लिए महज 4 रुपये देने पड़ते हैं.’ सिन्‍हा के मुताबिक इस कैलकुलेशन के कारण हवाई सफर ऑटो के किराये से भी सस्‍ता होता है.

Image result for भारत में ऑटो के सफर से भी सस्‍ती है विमान यात्रा, मंत्री जी ने बताई ये कैलकुलेशन

गोरखपुर हवाई अड्डे पर नए टर्मिनल भवन के लोकार्पण समारोह में जयंत सिन्‍हा ने कहा कि हमारे विमानन क्षेत्र में क्रांति हो रही है. उन्‍होंने कहा कि हमारे रांची में 30 फ्लाइट हो गई हैं. उत्‍तर प्रदेश में ये क्रांति बहुत तेजी से फैलती जा रही है. आज फिर एक फ्लाइट को हरी झंडी दिखाई गई, जिसे मुख्यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ जी ने दिखाया है.

Continue Reading

चंडीगढ़

एक अजूबा है ये ‘बुलेट ट्रेन’, देखकर भूल जाएंगे प्लेन…पटरियों पर दौड़ता फाइव स्टार होटल

Published

on

By

एक ऐसी ‘बुलेट ट्रेन’ बनाई गई है, जिसे देखकर लोग प्लेन को भूल जाएंगे। यह पटरियों पर दौड़ता एक फाइव स्टोर होटल है, जिसमें ऐसी-ऐसी सुविधाएं, जानेंगे तो इसमें बैठकर सफर करने की चाहत जाग उठेगी।

तेजस एक्सप्रेस

15 अगस्त से चंडीगढ़-दिल्ली रेलवे ट्रैक पर यह हवाई ट्रेन ‘तेजस’ दौड़ सकती है। इसकी पुष्टि खुद नॉर्दन रेलवे के प्रबंधक विश्वेश चौबे ने की। वह बुधवार को हरियाणा मुख्यमंत्री मनोहर लाल से मुलाकात के लिए चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन पहुंचे थे। महाप्रबंधक ने उम्मीद जताई है कि 15 अगस्त से तेजस का संचालन चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन से शुरू किया जाएगा। इस दौरान नार्दन रेलवे महाप्रबंधक के साथ अंबाला मंडल के डीआरएम, सीनियर डीसीएम व चंडीगढ़ के स्टेशन अधीक्षक भी मौजूद थे।

तेजस एक्सप्रेस

तेजस ट्रेन प्रोजेक्ट के प्रपोजल पर रेल मंत्री ने भी संज्ञान लिया था। इसका प्रपोजल रेलवे बोर्ड के पास भेजा गया है। हाल हीं में तेजस के कोच भी दिल्ली आ चुके हैं। ऐसे में ट्रेन का चलना अब स्वाभाविक है। वहीं शताब्दी की संख्या कम करने की बात पर महाप्रबंधक ने कहा कि यह रेलमंत्री की अपनी व्यक्तिगत राय थी। रेलवे बोर्ड की ओर से ऐसा कुछ भी नहीं किया जा रहा है। हां, शताब्दी में पैसेंजर कम का मुद्दा गंभीर है। इस बात का अध्ययन किया जाएगा कि ऐसा क्यों हो रहा है।

तेजस एक्सप्रेस

तेजस के कोच विमान के केबिन से कम नहीं

तेजस के कोचों को आधुनिक और लग्जरी स्टाइल में डिजाइन किया गया है। तेजस के कोच किसी विमान के केबिन से कम नहीं हैं। इसमें बैठने वाले यात्री विमान का एहसास करेंगे। सुरक्षा के लिहाज से पूरी ट्रेन में सीसीटीवी कैमरे लगाए हैं। फर्श पर मार्बल फिनिश एंटर ग्रेफिटी कोचिंग होगी और रोशनी के लिए पूरी तरह से एलईडी लाइट लगाई गई है। डस्टबिन भी नए डिजाइन का लगाया है। कोच दरवाजों को गार्ड पैनल से नियंत्रित किया जा सकता है।

तेजस एक्सप्रेस

खासियतों पर डालें एक नजर

12 डिब्बों वाली तेजस 200 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ेगी। पूरी ट्रेन साउंड प्रूफ है, गेट ऑटोमेटिक हैं। वाई-फाई, सीट के पीछे टच स्क्रीन एलईडी, स्मोक डिटेक्टर, सीसीटीवी। वीनीशन विंडो- यह आकार में बड़ा है। बेहतर दृश्य, धूप से बचाव के लिए लगे पर्दे पॉवर से चलेंगे। हवाई जहाज की तरह कॉल बेल बजाते ही ट्रेन होस्टेस हाजिर होंगी। मनोरंजन के लिए एलईडी का प्रबंध है, वहीं टचलेस वाटर और सोप डिस्पेंसर सफर को और भी खुशनुमा बनाएंगे। आराम के मामले में ट्रेन के अंदर का माहौल किसी होटल से कम नहीं है।

तेजस एक्सप्रेस

गैजेट्स के लिए यूएसबी पोर्ट का भी प्रावधान है। ट्रेन में इंगेजमेंट बोर्ड, हैंड ड्रायर की सुविधा मुहैया कराई गई है। एक्जीक्यूटिव क्लास में ज्यादा आराम के लिए सीट के पीछे सर टिकाने के लिए हेडरेस्ट, पैरों के लिए फूटरेस्ट दिए गए हैं। पैसेंजर सो कर जा सकते हैं। लेटने के लिए अत्यंत सुविधाजनक सीट तैयार की गई है। स्टेशनों के बारे में और दूसरी सूचनाएं माइक के अलावा एलईडी पर भी मिलेगी। सीट और कोच के छत के निर्माण में नारंगी और पीले रंग का इस्तेमाल किया गया है।

तेजस एक्सप्रेस

कोच में तेजस यानी सूर्य के नारंगी और पीले रंग की ही इनडोर इंटीरियर विनाइल लगाई गई है। इसकी सीट, छत का भी निर्माण नारंगी और पीले रंग की विदेशी स्पॅाज और फेब्रिक से तैयार किया गया है, जिससे बाहरी कोच की तरह अंदर के रंग भी दिखे। कोच में 56 लोगों के बैठने की क्षमता के साथ एक एग्जीक्यूटिव एसी चेयर कार होगी और प्रत्येक बोगी में 78 सीट क्षमता के साथ 12 एसी चेयर कार होंगी। एक कोच में आगे-पीछे लगे दो सीसीटीवी सुरक्षा को पुख्ता बनाएंगे।

तेजस एक्सप्रेस

सबसे बड़ी खासियत यह है कि अत्याधुनिक तकनीकों की मौजूदगी के बावजूद इसमें पर्यावरण और स्वच्छता का प्राथमिक तौर पर ध्यान रखा गया है। इसके लिए बायो वैक्यूम टॉयलेट और जल संरक्षण के मद्देनजर ऐसा सिस्टम लगाया गया है, जिसमें ज्यादा से .5 से 1.5 लीटर पानी ही इस्तेमाल होगा। इससे जल के दुरुपयोग की गुंजाइश को बेहद कम कर दिया गया है। इंटरनेट कनेक्टिविटी के लिए आगे-पीछे लगी पावर कार में निर्धारित सर्वर की जगह छोड़ी गई है, वहीं सूप, चाय और कॉफी वेंडर लगाने के लिए भी अनिवार्य स्पेस का प्रावधान है।
तेजस एक्सप्रेस
मेट्रो की तर्ज वाले हाइड्रोलिक डोर इसकी खूबसूरती में चार चांद लगा रहे हैं। सबसे अहम आग लगने की सूरत में ऐसे सेंसर स्थापित किए गए है कि आग के धुएं की मात्रा के अनुसार सेंसर की आवाज ज्यादा-कम होगी। मामूली धुआं होने पर पावर कार में मौजूद गार्ड को तुरंत इसकी सूचना मिलेगी और वह आग को बुझाने को तुरंत पहुंचेगा। अगर आग ज्यादा हुई तो ट्रेन रुक जाएगी।

Continue Reading

पानीपत

इंडियल आइडल में पानीपत के अशोक की करूंगी मदद – नेहा कक्कड़

Published

on

By

पानीपत(अनिल कुमार):   बॉलीवुड की मशहूर सिंगर नेहा कक्कड़ का जीवन पानीपत से जुड़ा हुआ हैं। यहां उन्होंने पानीपत के जगदीश चंद्र की जागरण पार्टी के साथ भेंटे गायी और वह आज गायकी के क्षेत्र में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवा रही है। इन दिनों नेहा रियलिटी शो इंडियन आइडल सीजन-10 में जज की भूमिका निभा रही है।

Image result for neha kakkar with ashok in indian idol

पानीपत के अशोक चुघ को इंडियन आइडल के ऑडिशन में प्रतिभागी के रूप में चुना गया। यह वहीं चुघ परिवार है जहां पर नेहा कक्कड़ ने अपना बचपन इस परिवार के साथ बिताया। जगदीश चुघ परिवार के मुखिया थे। जिनका कुछ साल पहले निधन हो चुका है। वह जागरण मंडली के नाम से जागरण करते थे।

Image result for नेहा कक्कड़ ने कहा: इंडियल आइडल में पानीपत के अशोक की करूंगी मदद

इस परिवार से सिंगर बनने का सपना लेकर आए अशोक का कहना है कि वह भी नेहा की तरह अपने माता-पिता का नाम रोशन करना चाहते है। स्टेज पर अशोक की मां श्वेता को देखकर नेहा की आंखो में आंसू आ गए। उन्हें देखकर उनके बचपन की यादें ताजा हो गई। उन्होंने उनके परिवार को आश्वासन दिया कि उनसे जो भी बन पड़ेगा वो अशोक के लिए करेंगी।

Image result for नेहा कक्कड़ ने कहा: इंडियल आइडल में पानीपत के अशोक की करूंगी मदद

Continue Reading

Trending

Copyright © 2018 Panipat Live