Connect with us

Cities

सेवानिवृत्त बैंक मैनेजर की पत्नी की मौत, पति सहित पांच पर हत्या का केस

Published

on

सेक्टर 13-17 के पास बिचपड़ी गांव में मंगलवार शाम को बैंक से सेवानिवृत्त मैनेजर की पत्नी की संदिग्ध हालात में मौत हो गई। मायके पक्ष का आरोप है कि उसके फोन पर बात करने पर दामाद शक करता था। इसी संदेह में पति ने दो बेटों और बहुओं के साथ मिलकर गला घोंट दिया। पुलिस के अनुसार महिला की फंदा लगाने से मौत हुई है।

जींद के ऊंचाना कलां गांव की दर्शना देवी ने बताया कि सात साल पहले उसकी 26 वर्षीय बेटी नीलम की शादी बिचपड़ी के बलबीर सिंह से हुई थी। बलबीर की पहली पत्नी संतोष की मौत हो चुकी है। पहली पत्नी से चार बच्चे हैं। उसकी बेटी की छह साल की बेटी निधि है। दामाद अकसर मारपीट करते थे कि वह दूसरे लोगों से बात करती है। इस बारे में कई बार पंचायत भी हुई। बेटी दामाद और उसके परिजनों से परेशान थी।

सोमवार का पुत्रवधू कुसुम ने नीलम के मोबाइल पर कॉल की तो बलबीर ने कहा कि नीलम व्यस्त है। वे बात नहीं करेगी। बलबीर ने उसे भी गालीगलौज कर धमकाया कि आगे कॉल की तो बेटी का मुंह नहीं देख पाएगी। इसके बाद फोन बंद कर दिया। मंगलवार रात को बलबीर ने उसके छोटे बेटे सोनू को कॉल कर बताया कि नीलम की छत से गिरकर मौत हो गई है। वे रात 11:30 बजे सामान्य अस्पताल के शवगृह पहुंचे, जहां बेटी नीलम का शव रखा था। उसकी बलबीर ने अपने बेटे देसू, बिट्टू, पुत्रवधू प्रवीन और रीना के साथ मिलकर उसकी बेटी नीलम की गला घोंटकर हत्या कर दी।

बुधवार को डॉ. मोना और डॉ. पवन के बोर्ड ने पोस्टमार्टम किया। जांच अधिकारी सेक्टर-29 के एसआइ सुरेंद्र कुमार ने बताया कि डॉक्टरों ने बताया कि नीलम की मौत फंदा लगाने से हुए हैं। पोस्टमार्टम रिपोर्ट बृहस्पतिवार को मिलेगी। विसरा जांच के लिए भेजा जाएगा। फिलहाल दर्शना के बयान पर बलबीर सिंह, देसू, बिट्टू, प्रवीन और रीना के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज करके जांच शुरू कर दी है।

 

ससुराल और पुलिस को बताई अलग बात

एसआइ सुरेंद्र ने बताया कि बलबीर ने बताया है कि नीलम ने शाम चार बजे घर में पहली मंजिल पर बने कमरे में फंदा लगा लिया। पड़ोसी ने नीलम के स्वजनों को सूचना दे दी।

दामाद ने बेटी की जान ले ली : दर्शना

दर्शना ने बताया कि 2010 में हृदयघात से उसके पति सतपाल की मौत हो गई थी। उसके परिवार में गीता, धर्मबीर, कर्मबीर, सोनिया और सोनू है। बेटी नीलम सोनिया व सोनू से बड़ी थी। जींद के आहलन गांव निवासी उसकी बड़ी बहन कमला ने बेटी संतोष की शादी बिचपड़ी के बलबीर ङ्क्षसह से की थी।