Connect with us

अंबाला

सैंकड़ों आधार कार्ड को लेकर डाकिए की शर्मनाक करतूत, बच्चों ने दिखाया आईना

Advertisement सैंकड़ों आधार कार्ड को लेकर डाकिए ने ऐसी शर्मनाक करतूत कर डाली, देखकर लोग हैरान रह गए। फिर उसे बच्चों ने आईना दिखाया। Advertisement मामला पंचकूला का है। आपके बारे में पूरा ब्यौरा देने वाला और भारतीय नागरिकता का पुख्ता प्रमाण ‘आधार कार्ड’ सड़क पर सैकड़ों की संख्या में मिलने से हड़कंप मच गया। […]

Published

on

Advertisement

सैंकड़ों आधार कार्ड को लेकर डाकिए ने ऐसी शर्मनाक करतूत कर डाली, देखकर लोग हैरान रह गए। फिर उसे बच्चों ने आईना दिखाया।

Advertisement

मामला पंचकूला का है। आपके बारे में पूरा ब्यौरा देने वाला और भारतीय नागरिकता का पुख्ता प्रमाण ‘आधार कार्ड’ सड़क पर सैकड़ों की संख्या में मिलने से हड़कंप मच गया। डाक विभाग की गंभीर लापरवाही के कारण खामियाजा भुगत रहे लोगों के सवालों का जवाब न तो विभागीय कर्मी के पास है और न ही अधिकारी के पास।

Advertisement

आलम यह है कि आधार कार्ड न होने की वजह से स्कूल में दाखिला, अस्पताल में रजिस्ट्रेशन, एलपीजी सब्सिडी, निजी बैंक से लोन सहित दर्जनों बुनियादी सुविधाओं का फायदा उन सैकड़ों लोगों को नहीं मिल सकेगा, जिनके कार्ड बन चुके हैं। वहीं, इस दस्तावेज के न होने की वजह से सबसे बड़ी दिक्कत उन बच्चों को आएगी, जिनको बगैर आधार कार्ड स्कूलों में दाखिला नहीं मिल सकेगा।

Advertisement

इंदिरा कालोनी में एक साथ सैकड़ों आधार कार्ड सड़क के किनारे बिखरे मिलने पर आसपास के लोगों में भी विभागीय लापरवाही के प्रति रोष दिखा। डाक के जरिये भेजे गए आधार कार्ड घरों तक संबंधित व्यक्ति के हाथ में ही सौंपने की जिम्मेवारी पोस्टमैन की है। जिन्हें बांटने को पोस्टमैन निकला, लेकिन कार्ड घरों की बजाय सड़क पर मिले। अब मामले में डाक विभाग की ओर से क्या कार्रवाई की जाती है ये तो वक्त ही बताएगा।

बच्चों ने 20 रुपये लेकर घरों तक पहुंचाए कार्ड
बिखरे आधार कार्ड को हाथों में उठाकर बच्चों ने महज 20-20 रुपये में घरों तक पहुंचाने का बीड़ा उठाया। हालांकि मौके पर मौजूद लोगों ने बच्चों को मना किया, लेकिन कुछ बच्चों ने इस कार्ड की अहमियत समझते हुए कहा कि अगर डाकिया के पास वक्त नहीं है तो यह काम खुद कर लेंगे।

आधार कार्ड के गलत इस्तेमाल का बढ़ा खतरा
सैकड़ों लोगों तक नहीं पहुंचने वाले आधार कार्ड का अगर किसी भी जगह पर गलत इस्तेमाल किया जाता है तो उसके लिए कौन जिम्मेवार होगा, यह अभी भी एक सवाल है। इस पर संज्ञान लेते हुए डाक विभाग ने मामले में जांच के आदेश दे दिए हैं।

सड़क पर आधार कार्ड पड़े होना बेहद गंभीर मसला है। इस मामले में जांच के आदेश दे दिए गए हैं। जांच की जिम्मेवारी इंस्पेक्टर राजेश कुमार को सौंपी गई है। रिपोर्ट के आधार पर इस मामले में उचित कार्रवाई की जाएगी।

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *