Connect with us

विशेष

सैटलाइट से पता चला है कि यमुना किनारे तेल के भंडार है… जाने पूरी जानकारी

Published

on

यमुना से सटे सनाैली-बापाैली एरिया में कच्चे तेल एवं प्राकृतिक गैस की कंपनी ONGC  काे तेल का भंडार हाेने का पता चला है। सेटेलाइट इमेज से मिले क्लू के अाधार पर ONGC ने एरिया में खुदाई शुरू कराई है। जलालपुर प्रथम गांव से हाेते हुए जलमाना, अधमी के खेताें से हाेते हुए मिर्जापुर गांव की अाेर जमीन की खुदाई की गई है। जिसमें अाेएनजीसी के 150 सदस्याें की टीम लगी हुई है।

माेटर की मदद से 80 फीट तक जमीन खाेदने के बाद कैमरा डालकर डाटा सैंपल लिए जा रहे हैं। रविवार से शुरू हुई यह खुदाई साेमवार काे भी जारी रही। मंगलवार दाेपहर काे यह टीम यमुना पार कर यूपी के बुडाखेड़ा गांव की अाेर प्रवेश करेगी। जाे अलीगढ़ तक डाटा कलेक्ट करेगी।

Sanoli News - haryana news in the satellite image oil reserves were found yamuna was 8 km away aangc launches 150 people39s team in search of the area
ONGC ने इसकी जिम्मेदारी अल्फा कंपनी काे दी है। जिसके सुपरवाइजर राजू मंडल ने बताया कि सैंपल की जांच देहरादून स्थित लैब में की जाएगी। जिसके बाद पता चल पाएगा कि तेल का भंडार है या नहीं अाैर अगर है ताे उसका दायरा क्या है।

Related image

पृथ्वी के ऊपरी सतह पर दबाव के कारण नीचे की चट्टानाें अाैर खाली स्थानाें के बीच से तेल ऊपर अाता है अाैर पृथ्वी की सतह तक पहुंचता है, इसके बाद जमीन के ऊपरी हिस्सों में जमा हो जाता है। अक्सर यह तेल पृथ्वी के ऊपरी सतह के नीचे बनी (इंप्रीवियस रॉक) अभेद्य चट्टान के नीचे फंस जाता है। यहीं तेल और प्रकृतिक गैस का भंडारण होता है। इसका पता लगाने के लिए करीब 200 फीट बोरिंग की जाती है

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: बुरी नज़र वाले तेरा मुँह कला