Connect with us

Cities

स्कूल के वॉशरूम में दूसरी कक्षा की छात्रा से छेड़छाड़, स्वीपर गिरफ्तार

Published

on

निजी स्कूल में स्वीपर ने वॉशरूम में दूसरी कक्षा की छात्रा से अश्लील हरकत की। शिकायत के बाद भी शिक्षिका पूरी बात नहीं समझ पाई। मासूम ने मां को स्वीपर की करतूत बताई। स्कूल के चेयरमैन और अभिभावकों ने आरोपित के खिलाफ सनौली पुलिस थाना में शिकायत दी। पुलिस ने मंगलवार देर शाम आरोपित को गिरफ्तार कर लिया।

बापौली क्षेत्र के एक गांव स्थित निजी स्कूल में सोमवार सुबह प्रार्थना से पूर्व कक्षा दूसरी की छात्रा अपने चचेरे भाई को साथ में लेकर वॉशरूम गई। स्कूल का स्वीपर 24 वर्षीय राजेश वहां सफाई कर रहा था। छात्रा अंदर चली गई। भाई बाहर इंतजार करता रहा। जैसे ही छात्रा बाहर निकली स्वीपर राजेश ने उसे धक्का देकर वॉशरूम में बंद कर लिया। भाई बचाने आया तो उसे बाहर धक्का दिया।

भाई ने शोर मचाया तो आरोपित ने मासूम को छोड़ दिया। भाई-बहन ने सीढिय़ों पर खड़ी शिक्षिका से मामले की शिकायत की। शिक्षिका और प्रधानाचार्य ने मामला जाना और आरोपित को डांट कर छोड़ दिया। शाम पांच बजे अभिभावक छात्रा को लेकर स्कूल पहुंचे। स्कूल के चेयरमैन के साथ थाने पहुंचकर अभिभावक ने केस दर्ज कराया। स्वीपर ने छात्रा को उसकी हरकत बताने पर मारने की धमकी दी थी। छात्रा स्वीपर की हरकत और धमकी से सहमी हुई है।

Image result for SWEEPER IN washroom

सनौली थाना प्रभारी इंस्पेक्टर रवि कुमार ने बताया कि देरशाम सनौली से आरोपित स्वीपर राजेश को गिरफ्तार किया गया है। डीईईओ रामफल धनखड़ ने कहा कि सभी स्कूलों को कर्मचारियों के वेरिफिकेशन कराने के आदेश दिए हुए हैं। समय-समय पर इसकी पड़ताल की जाएगी।

मासूम की काउंसिलिंग की

चाइल्ड वेलफेयर कमेटी की सदस्य सरोज कुमारी ने बताया कि पीडि़त मासूम बच्ची की काउंसिलिंग की गई है। कम उम्र में इस प्रकार की घटना से मासूमों के मन में डर बैठ जाता है।

Image result for SWEEPER IN washroom

अभिभावक ने दी थी बहन के साथ रहने की सीख

काउंसलर सरोज कुमारी ने बताया कि चचेरे भाई-बहन अधिकतर समय साथ रहते हैं। इसलिए चचेरा भाई अपनी बहन के साथ वॉशरूम तक आया था। अभिभावकों ने भाई को अधिकतर समय बहन के साथ रहने की शिक्षा दी थी। भाई के बाहर खड़ा होने, बहन को बचाने के लिए शोर मचाने के कारण आरोपित अपने मंसूबों में कामयाब नहीं हो पाया।

स्टाफ की नहीं हो रही वेरिफिकेशन

गुरुग्राम और दिल्ली के स्कूलों में मासूमों के साथ दङ्क्षरदगी की घटनाएं सामने आने के बाद भी स्कूलों में स्टाफ की वे

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *