Connect with us

विशेष

हरियाणा सरकार ने काटी खिलाड़ियों की इनामी राशि

Published

on

हरियाणा के जिन खिलाड़ियों ने कॉमनवेल्थ गेम्स के साथ-साथ एशियन गेम्स में मेडल जीते थे, उनकी कॉमनवेल्थ गेम्स की इनामी राशि आधी कर दी गई है। जैसे ही खिलाड़ियों के खाते में एशियन गेम्स की राशि आई, इसके बाद से कुछ खिलाड़ियों ने इस पर आपत्ति जताई है। जिसमें पहलवान विनेश फौगाट और बजरंग पूनिया शामिल है। दरअसल सरकार ने यह राशि किसी सम्मान समारोह की बजाए सीधे उनके खातों में ट्रांसफर की है।

ये कहना है हरियाणा के खेल मंत्री विज का

मंत्री विज ने कहा कि हालांकि मंच से खिलाड़ियों को सम्मानित किया जाना था। इसके लिए हमने तैयारी भी कर ली थी लेकिन 3 हजार खिलाड़ी थे, ऐसे में एक खिलाड़ी को 15 मिनट भी दी जाती तो एक दिन में कार्यक्रम संभव नहीं था। इस लिए सीधे इनाम राशि खिलाड़ियों के खाते में डाली गई है। वहीं यदि किसी को लगता है कि उसकी इनाम राशि में कटौती की गई है तो खिलाड़ियों को भेजे जा रहे पत्र में लिखा गया है कि वे विभाग में आकर अपनी राशि से संबंधित जानकारी स्पष्ट कर सकता है।

ये बताया जा रहा है नियम

बजरंग पूनिया ने जब खेल विभाग में इस बारे में बातचीत की तो उन्हें बताया गया कि एक साल में कोई भी खिलाड़ी एक से ज्यादा मेडल जीतता है तो उसे सबसे बड़े मेडल की पूरी इनामी राशि दी जाएगी। उसके बाद दूसरे मेडल पर 50 प्रतिशत, तीसरे पर 25 प्रतिशत और इसके बाद के मेडल पर कोई राशि नहीं दी जाएगी।

खिलाड़ियों का कहना 75 लाख रुपए काटे गए हैं
कॉमनवेल्थ गेम्स और एशियन गेम्स 2018 में हुई थी। इसमें विनेश फौगाट, बजरंग पूनिया, नीरज चोपड़ा समेत काफी हरियाणवी खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया था। जिन खिलाड़ियों ने मेडल जीता था। उन खिलाड़ियों के खाते में हरियाणा सरकार ने कॉमनवेल्थ गेम्स की इनामी राशि डेढ़ करोड़ रुपए तो पहले ही डाल दी थी। अब एशियन गेम्स के नाम पर 75 लाख रुपए की राशि डाली गई है। विभाग का कहना है कि उन्हें एशियन गेम्स के 3 करोड़ और कॉमनवेल्थ के 75 लाख रुपए ही मिलने थे। कॉमनवेल्थ के जो 3 करोड़ पहले डाले गए हैं, उन्हें एशियन गेम्स की इनामी राशि मान लिया गया है।

source bhaskar

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *