Connect with us

गुड़गांव

NCR के 5 जिलों में पिछले महीने 7 गुना मामले बढे और 14 % मौतों में हुई वृद्धि

Published

on

राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) के अंतर्गत हरियाणा के पांच जिलों में जून में 14 गुना कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में सात गुना वृद्धि हुई। इसके चलते राज्य सरकार को इन जिलों में महामारी फैलने से रोकने के लिए विशेष ध्यान देना पड़ रहा है।

अधिकारियों ने बताया कि हरियाणा सरकार अपने पांच जिलों एनसीआर- गुरुग्राम, फरीदाबाद, सोनीपत, झज्जर और रोहतक में कड़ी निगरानी रख रही है। राज्य स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के मुताबिक इन पांच जिलों में कोरोना वायरस के संक्रमण से संबंधित मौतों की संख्या 1 जून को 14 थी, लेकिन 30 जून तक यह संख्या बढ़कर 197 हो गई।

इसके साथ ही जून की शुरुआत में इन जिलों में कोरोना वायरस के संक्रमण के मामलों की संख्या 1,653 थी, जो 30 जून तक बढ़कर 11,122 हो गई। 2 जुलाई तक हरियाणा में कोरोना वायरस के संक्रमण के कुल 15,509 मामलों में से इन पांच जिलों में करीब 12,000 मामले हैं और राज्य में कुल 251 ( covid-19 )में से 209 मौतें हुई हैं – इन जिलों में 19 मौतें हुई हैं।

NCR के 5 जिलों में पिछले महीने 7 गुना मामले बढे और 14 % मौतों में हुई वृद्धि
अगर पूरे हरियाणा के आंकड़ों पर नजर डालें तो अकेले जून में प्रदेश में कोरोना वायरस के संक्रमण के मामलों में छह गुना इजाफा हुआ है। इस अवधि में मौत के मामले 11 गुना बढ़ गए हैं। प्रदेश में कोरोना वायरस से गुरुग्राम और फरीदाबाद जिले सबसे ज्यादा प्रभावित हैं।

गुरुग्राम में 1 जून तक वायरल संक्रमण के मामलों की संख्या 903 थी और मौतों की संख्या चार थी, लेकिन 30 जून तक संक्रमण की संख्या बढ़कर 5,347 और मौत के मामले 91 हो गए। इसी तरह 1 जून तक फरीदाबाद में संक्रमण के मामलों की संख्या 392 थी और मौतों की संख्या आठ थी जो 30 जून तक बढ़कर क्रमश 3,733 और 77 हो गई। महीने की शुरुआत में सोनीपत में संक्रमण के मामलों की संख्या 212, झज्जर में 101 और रोहतक में संक्रमण के 45 मामले थे जो जून के अंत तक बढ़कर क्रमश 1,208, 261 और 573 हो गए।

स्वास्थ्य विभाग के अनुसार 1 जून तक सोनीपत में एक, झज्जर में शून्य और रोहतक में एक मौत के मामलों की संख्या 30 जून तक बढ़कर क्रमश 18, चार और सात हो गई। इस प्रकार 22 जिलों में हरियाणा में संक्रमण और मृत्यु के मामलों की संख्या 30 जून को क्रमश 2,356 और 21 से बढ़कर 14,548 और 236 हो गई।

राज्य में इस नकारात्मक पहलू के साथ-साथ सकारात्मक पहलू यह है कि जून के अंत तक वसूली की दर जून की शुरुआत में ४४.७८ प्रतिशत से बढ़कर लगभग ७० प्रतिशत हो गई । इसके साथ ही मामलों के दोगुने होने की दर आठ दिन से बढ़कर 15 दिन हो गई। उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने गुरुवार को केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह की अध्यक्षता में हुई बैठक के बाद कहा कि गुरुग्राम, फरीदाबाद, सोनीपत, रोहतक और झज्जर पर विशेष ध्यान दिया जाएगा। शाह की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में हरियाणा, उत्तर प्रदेश और दिल्ली के मुख्यमंत्रियों ने भाग लिया।

source Livehindustan

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *