Connect with us

विशेष

60 वर्षीय बुजुर्ग को पहले पिलाई शराब, फिर हौद में डूबोकर मार दिया

Published

on

Advertisement

पसीना खुर्द से 5 अक्तूबर से लापता 60 वर्षीय बुजुर्ग का रोहतक बाइपास के पास खेत में बने गड्डे में पड़ा हुआ शव मिला। शव को कुत्तों ने नोंच रखा था, पुलिस ने शव को सामान्य अस्पताल पहुंचाया, जहां उसका पोस्टमार्टम कराकर शव परिजनो को सौंप दिया है। वहीं परिजनों ने एक युवक पर हत्या की आशंका जताई, लेकिन पुलिस ने फिलहाल धारा 174 की कार्रवाई की है, जांच के बाद हत्या की धारा को जोड़ा जाएगा।

जसबीर नंबरदार ने बताया कि उनके चाचा जनेश्वर गत पांच अक्तूबर को अपने घर पर थे। इसी बीच गांव का ही एक युवक उसके चाचा और एक अन्य युवक कैलाश को ससुराल चलने की बात कहकर लेकर गया था। जिसके बाद से चाचा से लापता है। जबकि कैलाश अपने घर पर आ गया था, जिसके शरीर पर चोट के निशान थे, वह ठीक से बोल नहीं पा रहा था। उन्होंने अपने चाचा की गुमशुदगी की रिपोर्ट सेक्टर 29 थाना में भी दर्ज कराई थी।

Advertisement

चोटिल हुए कैलाश को गत 14 अक्तूबर को कैलाश को होश आया और उसने परिजनों को आतबीती बताई और वह परिजनों को रोहतक बाईपास के पास एक खेत में लेकर गया, जहां पर बने गड्डे में चाचा जनेश्वर का शव पड़ा हुआ था। शव को कुत्तों ने नोंच रखा था। जिसके बाद उन्होंने पुलिस को सूचना दी, सूचना मिलते ही सेक्टर 29 थाना पुलिस मौके पहुंची और चाचा के शव को गड्ढें से निकालकर सामान्य अस्पताल पहुंचाया।

Advertisement

पहले पिलाई शराब, फिर हौद में डूबोकर मार दिया
नंबरदार जसबीर ने बताया कि कैलाश को 14 अक्तूबर को होश आया था। उसने बताया कि पांच अक्तूबर को ही गांव का ही युवक उसे व चाचा को ससुराल ले जाने की बात कहकर ले गया था। युवक रोहतक बाइपास के पास एक खेत में ले गया। जहां पर युवक ने उन्हें शराब पिलाई और उसके बाद उनके साथ मारपीट करनी शुरू दी। चाचा जनेश्वर को हौद में डूबोकर मार दिया। कैलाश को धमकी दी कि अगर घर बताया तो वह जान से मार देगा और उसके हाथ पैर बांध दिए। जमकर मारपीट करने के बाद युवक कैलाश को नहर में फेंकने जा रहा था। रास्ते में राहगीर ने टोका तो वह कैलाश को छोड़कर फरार हो गया। राहगीर ने ही कैलाश के हाथ पैर खोले, जिसके बाद उसे गांव पहुंचाया।

फिलहाल, पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराकर शव परिजनों को सौंप दिया है। मामले में धारा 174 की कार्रवाई की गई है, कैलाश के शनिवार को कोर्ट में बयान दर्ज कराए जाएंगे, जिसके बाद केस में लगी धाराओं में फेरबदल किया जाएगा।

Advertisement
Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *