Connect with us

विशेष

AIIMS डायरेक्टर गुलेरिया बोले- अगले 6 से 8 हफ्तों के बीच आ सकती है कोरोना की तीसरी लहर

Published

on

Advertisement

कोरोना की तीसरी लहर पर भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) के डायरेक्टर डॉ. रणदीप गुलेरिया ने चेतावनी जारी की है। उन्होंने कहा है कि यदि कोरोना गाइडलाइंस का पालन नहीं किया गया और बाजारों या टूरिस्ट स्पॉट पर लगने वाली भीड़ को नहीं रोका गया तो कोरोना की तीसरी लहर सिर्फ 6 से 8 हफ्तों में पूरे देश पर अटैक कर सकती है।

डॉ. गुलेरिया ने कहा कि अभी तक की रिसर्च में ऐसे कोई सबूत नहीं मिले हैं कि कोरोना की तीसरी लहर बड़ों से ज्यादा बच्चों को प्रभावित करेगी। इससे पहले भारत के महामारी विशेषज्ञों ने पहले सितंबर-अक्टूबर तक कोरोना की तीसरी लहर आने की आशंका जताई थी।

Advertisement

देश में अप्रैल और मई महीने के बीच कोरोना की दूसरी लहर भारत में पीक पर पहुंची थी। इस बीच देशभर में कोरोना से मौतों की संख्या में रिकॉर्ड बढ़ोतरी दर्ज की गई थी। अधिकतर राज्यों में इस बीच ऑक्सीजन की शॉर्टेज भी देखी गई थी। इसके बाद पिछले कुछ दिनों से कोरोना के केस घटने शुरू हो गए हैं।

Advertisement

तीसरी लहर रोकने के 4 उपाय

1. भारत की ज्यादा से ज्यादा आबादी का वैक्सीनेशन करना होगा।
2. लोगों को कोविड गाइडलाइंस का पालन करना होगा।
3. ऐसे इलाकों की मॉनिटरिंग करनी होगी, जहां कोरोना केस तेजी से बढ़ रहे हैं।
4. जहां कोरोना पॉजिटिव मरीज 5% से ज्यादा है, वहां कंटेनमेंट क्षेत्र घोषित करें।

महाराष्ट्र में 2 से 3 हफ्ते के अंदर तीसरी लहर का अंदेशा

महाराष्ट्र में 1-2 महीने के अंदर कोरोना की तीसरी लहर आने की आशंका है। यह लहर कोरोना के बेहद खतरनाक वैरिएंट डेल्टा प्लस (AY.1) की वजह से आएगी। राज्य की कोविड टास्क फोर्स ने बुधवार को इस महामारी की समीक्षा बैठक में यह जानकारी दी थी। इसके बाद मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मेडिकल टीम और अन्य अफसरों को जरूरी इंतजाम चाक-चौबंद करने का निर्देश दिया था।

Advertisement

एम्स के डायरेक्टर गुलेरिया की बड़ी चेतावनी, बता दिया, आने वाले कितने हफ्तों  में कोरोना की तीसरी लहर देगी दस्तक!

बड़े पैमाने पर सीरो सर्वे करवाने का निर्देश दिया

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने डॉक्टर्स से बड़े स्तर पर सीरो सर्वे कराने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि इससे लोगों में कोविड एंटीबॉडीज का स्तर और टीकाकरण की जानकारी मिल सकेगी। CM ने पिछली लहरों से सीख लेने की बात पर जोर दिया।

ठाकरे ने कहा कि पहली लहर में राज्य में पर्याप्त सुविधाएं नहीं थीं, लेकिन बाद में सुविधाएं जुटाने पर हालात बेहतर हुए थे। दूसरी लहर ने हमें बहुत सिखाया। अब हमें यह सुनिश्चित करना होगा कि दवा, बिस्तर और ऑक्सीजन की कमी न हो। CM ने बताया कि राज्य को अगस्त-सितंबर के आसपास वैक्सीन के 42 करोड़ डोज मिलने की उम्मीद है।

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *