Connect with us

पानीपत

दिवाली पर बाजार में खुशहाली

Published

on

Advertisement

दिवाली पर बाजार में खुशहाली

 

Advertisement

धनतेरस पर बाजार में धनवर्षा हुई। आफर स्कीम और डिस्काउंट के साथ-साथ किसानों के पासा फसल का पैसा आने व केंद्र सरकार द्वारा कोविड को देखते हुई खरीदारी के कूपन देने का असर रहा। इस बार बर्तन के साथ साथ सोना चांदी, बाइक, कार, साड़ियों से लेकर कंबल, गिफ्ट आइटम, ड्राई फ्रूट की अच्छी मांग रही।

इस बार धनतेरस पर्व दो दिन आया है। इसी के साथ छोटी दीवाली भी मनाई जा रही है। दोगुनी खुशी है तो बाजार भी दोगुने उत्साह में है। पानीपत के इंसार बाजार, पालिका बाजार, चौड़ा बाजार, रामलाल चौक, गोहाना रोड से लेकर समालखा तक, हर जगह रौनक देखी जा सकती है। खास बात ये है कि इस बार की दीवाली अब तक पटाखों रहित ही दिखाई दे रही है।

Advertisement

दिवाली पर बाजार में खुशहाली

पानीपत में सबसे प्रमुख बाजार है इंसार बाजार। यहां पर कपड़ों से लेकर गिफ्ट आइटम की दुकानें हैं। इंसार बाजार में हलवाई हट्टे के नजदीक गिफ्ट बाजार में दो दिन से जमकर खरीदारी हो रही है। महात्मा बुद्ध से लेकर भगवान गणेश की प्रतिमाएं सबसे ज्यादा पसंद की जा रही हैं। बर्तन की दुकानों पर भीड़

Advertisement

 

बर्तन की दुकानों पर सबसे ज्यादा भीड़ रही। धनतेरस के दिन बर्तन की खरीदारी करना सबसे ज्यादा शुभ माना जाता है। इस वजह से गृहिणियां बर्तन खरीदने जरूर पहुंच रही हैं। प्रेशर कूकर हो या फिर कुछ और, बर्तन की दुकानों पर इनकी मांग खूब निकली है। कोविड की वजह से जिन दुकानों पर काम बिल्कुल ठप पड़ चुका था, वहां दुकानदारों के चेहरे पर अब रौनक देखी गई। सोना-चांदी की मांग

 

धनतेरस और दिवाली पर सोना और चांदी की खूब मांग रहती है। खासकर, चांदी के सिक्कों की। चांदी के सिक्के इस बार विशेष गिफ्ट आइटम के तौर पर खरीदे जा रहे हैं। कृष्ण कृष्ण ज्वेलर्स के रमन जेठी ने बताया कि इस बार हल्की ज्वेलरी की मांग है। तुर्की का डिजाइन पसंद किया जा रहा है। माडल टाउन से लेकर शहरभर के लोग उनके पास ज्वेलरी खरीदने पहुंच रहे हैं। नए डिजाइन की भरमार है। धन की देवी लक्ष्मी व गणेश की प्रतिमाएं खूब बिकी। खरीददारी का ट्रेंड बदला

 

धनतेरस पर खरीदारी का ट्रेंड बदला नजर आया है। सिर्फ सोना चांदी के सिक्के और बर्तन खरीदने के बजाए कार से लेकर सोफा तक, टू व्हीलर से लेकर टीवी तक लोगों की पंसद बने। रंग बिरंगे सजावटी फूलों से सजी दुकानों की रौनक ने खरीददारों की भीड़ बड़ा। रंगबिरंगे दीपक, लड़ी बिकी। कंबल बाजार गर्म

 

इन दिनों कंबल बाजार जमकर गर्म है। खूब खरीदारी हो रही है। दिवाली पर कंबल उपहार के तौर पर दिए जाते हैं। मांग बढ़ने से थोक बाजार में ही कंबल 210 रुपये प्रति किलो पहुंच गया है। ये मिक कंबल है। बाजार में हजार रुपये तक में अच्छा कंबल मिल रहा है। चौड़ा बाजार, पचरंगा बाजार में सबसे ज्यादा कंबल की दुकानें हैं। कारोबार पचास करोड़ से ज्यादा होने की उम्मीद है। दरअसल, बाहर से भी व्यापारी आए हुए हैं। कंबल व्यवसायी काकू बंसल ने बताया कि 50 प्रतिशत टर्नओवर कवर की जा चुकी है। दीपावली सीजन अच्छा चल रहा है। यदि सार्वजनिक परिवहन ट्रेन बस खुल जाती तो और अधिक कारोबार होता। 30 रुपये किलो तक मिक, पोलर के भाव बढ़ चुके हैं। पानीपत के इन बाजारों में ग्राहक पहुंचे

– कपड़ों के लिए विशेष इंसार बाजार, पालिका बाजार न्यू क्लाथ व जवाहर मार्केट

– कंबल के लिए चौड़ा बाजार, पचरंगा बाजार में पहुंचे

– साड़ी, चूड़ी कड़़े, सूटिग सर्टिंग के लिए पालिका बाजार पहुंचे

– मिठाई के लिए हलवाई हट्टा, मिट्ठन स्वीट्स, माडल टाउन

– सोना-चांदी के लिए सर्राफा बाजार

– सोना-चांदी और कपड़ों के लिए माडल टाउन

– गिफ्ट के लिए रामलाल चौक, हलवाई हट्टा, इंसार बाजार

– लालटंकी बाजार, कपड़ों, मिठाई और उपहार के लिए विशेष

– गोहाना रोड, कंबल और चादर के लिए विशेष

– किशनपुरा बाजार, कपड़ों और चादर के लिए विशेष

– सनौली रोड, बर्तन, कपड़ों के लिए विशेष

– इसके अतिरिक्त सेक्टरों में खुली दुकानों पर ग्राहकी उमड़ी।

 

 

Source : Jagran

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *