Connect with us

पानीपत

पानीपत में घर में मिले नर कंकाल मामले में बड़ा खुलासा, पति का ही था कंकाल, पत्नी ने की थी हत्‍या

Published

on

Advertisement

पानीपत में घर में मिले नर कंकाल मामले में बड़ा खुलासा, पति का ही था कंकाल, पत्नी ने की थी हत्‍या

 

टावर कंपनी के टेक्नीशियन विकास नगर के हरबीर की हत्या उसी की पत्नी गीता ने गला घोंटकर की थी। इस हत्याकांड में एक और युवक शामिल था। दोनों ने हत्या के बाद शव को घर में दफना दिया था, ताकि पुलिस व स्वजनों को पता ही न चल सके। ऐसा पुलिस की प्रारंभिक जांच में गीता ने बताया है। पुलिस अब गीता की मां मुनेश से भी पूछताछ कर रही है। सेक्टर-29 थाना प्रभारी राजबीर ङ्क्षसह ने बताया कि हरबीर की हत्या उसकी पत्नी ने एक युवक के साथ मिलकर की थी।

Advertisement

The technician was missing for 18 months, the male skeleton was found in his house, when the child was seen while digging, the wife said - Your uncle kept hitting the dog. |

आरोपित गीता ने बताया कि हरबीर शराब पीता था। उसके साथ मारपीट करता था। शराब की लत की वजह से पति ने उसके जेवर भी बेच दिए थे। परिवार और रिश्तेदारों से नाता तोड़ लिया था। बिना वजह उसके चरित्र पर शक करता था। इसी से परेशान होकर पति की हत्या कर दी। पुलिस का मानना है कि गीता मकान का निर्माण नहीं कराती तो हरबीर के हत्याकांड की गुत्थी नहीं सुलझा पाती।

Advertisement

 

पुरुष का कंकाल

Advertisement

 

शनिवार को सामान्य अस्पताल में कंकाल का पोस्टमार्टम कराया गया। डाक्टर ने पुलिस को बताया कि कंकाल पुरुष का है। कंकाल की डीएनए जांच मधुबन लैब से कराई जाएगी। थाना प्रभारी राजबीर ङ्क्षसह का कहना है कि डीएनए जांच के बाद पता चल पाएगा कि मरने वाले पुरुष की आयु कितनी है और कंकाल टेक्नीशियन हरबीर का है या नहीं। हालांकि गीता के कुबूलनाम से सच सामने आ गया है।

 

शौचालय के हौद से खुली हत्या की गुत्थी

पुलिस के प्रारंभिक पूछताछ में गीता ने बताया कि पति हरबीर हर रोज नशा करता था। ङ्क्षजदगी तबाह हो चुकी थी। पति शराब पीकर आया। उसने एक अन्य युवक के साथ मिलकर पति के हाथ बांधे और गला घोंटकर मार डाला। इसके बाद शौचालय के लिए खोदे गड्ढे में शव को दफना दिया। सड़क का लेवल तीन फीट ऊंचा उठाने के कारण गीता ने तीन दिन पहले मकान का पुनर्निर्माण शुरू कराया। शुक्रवार को जेठ हरिओम का बेटा विशेष भी काम में हाथ बंटाने लगा। जहां पर हरबीर का शव दफन था, नक्शे के अनुसार वहीं पर शौचालय का हौद बनना था। विशेष ने हौद की खोदाई शुरू की तो गीता ने मना किया कि अगले कमरे में हौद खोद ले। जेठ हरिओम को शक हुआ। वहीं पर बेटे से खोदाई कराई। मिट्टी से खोपड़ी और कुछ हड्डियां मिलीं। गीता ने कहा कि हड्डी कुत्ते की है। हरिओम व अन्य स्वजन शक जता रहे थे कि खोपड़ी हरबीर की है। गीता की मां मुनेश ने विलाप का नाटक किया।

घर से खुदाई के दौरान निकला नर कंकाल, 18 महीने से लापता था टेक्नीशियन, पत्नी  पर आरोप - Yuva Haryana

दस दिन पहले ही घर आई थी सास

पुलिस के अनुसार दस दिन पहले ही हरबीर की सास मुनेश अपनी बेटी गीता के घर आई थी। इसके बाद ही घर में चिनाई शुरू करा दी। मुनेश का दामाद के कत्ल में हाथ था या नहीं, इसको लेकर भी छानबीन की जा रही है। हरबीर के भाई हरिओम का आरोप है कि उसके भाई की हत्या की गई है। हत्याकांड में शामिल सभी आरोपितों के खिलाफ कार्रवाई की जाए।

 

पत्नी ने तीन महीने बाद दर्ज कराई थी गुमशुदगी की रिपोर्ट

तनु, मीनाक्षी और बेटे रितिक के साथ विकास नगर में रहता था। पत्नी से अक्सर विवाद होता था। 18 महीने से हरबीर संदिग्ध हालात में लापता था। लापता होने के तीन महीने बाद गीता ने सेक्टर-29 थाने में पति की  गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करा दी थी।

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *