Connect with us

City

हरियाणा रोडवेज के बस पासधारकों के लिए बड़ी राहत भरी खबर

Published

on

Advertisement

साल 2020 में कोरोना के कारण लगे लाकडाउन में जो पासधारक रोडवेज बसों में सफर नहीं कर पाए थे, उनके पैसे अब रोडवेज वापस लौटाएगा। हालांकि अभी तक डिपो में केवल सामान्य पासधारकों के पैसे लौटाने को लेकर ही दिशा-निर्देश आए हैं लेकिन विद्यार्थियों के पैसे भी लौटाने को लेकर अभी तक कोई गाइडलाइन नहीं मिली है। परिवहन विभाग के इस आदेश से प्रदेश भर में करीब 10 हजार सामान्य पासधारकों को फायदा होगा तो जींद में 200 पासधारकों को करीब दो लाख रुपये की राशि डिपो द्वारा वापस की जाएगी।

बताते चलें कि 21 मार्च 2020 से लेकर 31 मई 2020 तक संपूर्ण लाकडाउन के कारण रोडवेज बसों के पहिए पूरी तरह से जाम थे। जून में रोडवेज बसों के पहिए घूमने शुरू हो गए थे। उस दौरान रोडवेज बसों को पूरी तरह से आनरूट होने में तीन महीने का समय लगा था लेकिन स्कूल, कालेज समेत दूसरे शिक्षण संस्थान बंद पड़े थे, इस कारण विद्यार्थी बसों में सफर नहीं कर पाए थे। सामान्य पासधारक जरूर बसों में सफ करते रहे। इसलिए रोडवेज द्वारा केवल दो महीने के पास के पैसे ही रिफंड किए जाएंगे।

Advertisement

हरियाणा रोडवेज में इनके लिए फ्री है यात्रा, जानिये कौन-कौन हैं शामिल ? -  Yuva Haryana

आठ हजार रुपये तक की राशि डिपो और ज्यादा की राशि मुख्यालय से जारी की जाएगी

Advertisement

जींद डिपो प्रबंधन के अनुसार आठ हजार रुपये तक की राशि को डिपो स्तर पर ही वापस किया जाएगा लेकिन अगर पास की राशि आठ हजार से ज्यादा है तो उसकी एप्लिकेशन मुख्यालय भेजी जाएगी। वहीं से पास की राशि रिफंड हो पाएगी। जींद डिपो में करीब 200 पासधारक हैं, जो इस समय सामान्य कैटेगरी का पास बनवाए हुए हैं, उनके करीब दो लाख रुपये वापस किए जाएंगे।

इस तरह से बनता है सामान्य कैटेगरी का पास

Advertisement

स्कूल, कालेजों और शिक्षण संस्थानों में तीन, महीने, छह महीने और वार्षिक पास जारी किए जाते हैं लेकिन सामानय कैटेगरी का पास हर महीने का बनाया जाता है। इसके लिए किसी स्कूल-कालेज या दूसरे शिक्षण संस्थान से लिखित पत्र की जरूरत नहीं होगी, इसे कोई भी आम यात्री बनवा सकता है। एक महीने में अप और डाउन की 60 टिकटें होती है लेकिन पास बनवाने पर उसे रियायत मिल जाती है और उसे 40 टिकटों के पैसे रोडवेज के पास जमा करवाने पड़ते हैं। इससे यात्री का पास बनाकर दे दिया जाता है और उसे 20 टिकटों की छूट मिल जाती है। फिलहाल केवल इन्हीं पासधारकों के पैसे रिफंड किए जाएंगे।

हरियाणा रोडवेज की बस का टायर फटा, युवती घायल - roadways bus tire cracked  woman injured

एप्लिकेशन लिखकर डिपो कार्यालय में करवाएं जमा

जींद डिपो के ट्रैफिक मैनेजर विरेंद्र सिंह ने बताया कि जिस भी पास धारक का पास बना हुआ है, उसे अपने पास की फोटो कापी और एक एप्लिकेशन लिखकर डिपो के लिपिक कार्यालय में जमा करवानी होगी। पास होल्डर के कागजों का मिलान कर उसे पैसे वापस कर दिए जाएंगे।

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *