Connect with us

City

बहन की शादी से पहले भाई की हत्या, दिहाड़ी के 2500 रुपये मांगने पर युवक के गले में मारी कुल्हाड़ी

Published

on

Advertisement

बहन की शादी से पहले भाई की हत्या, दिहाड़ी के 2500 रुपये मांगने पर युवक के गले में मारी कुल्हाड़ी- फ़ोन कर कहा ‘अपने भतीजे के शव को ले जाओ’

 

हरियाणा के हिसार (Hisar Crime) में आंखें नम कर देने वाला मामला सामने आया है. एक घर में शादी की खुशियां अचानक मातम में बदल गईं. बहन की शादी से पहले भाई की अर्थी उठ गई. दिहाड़ी के बकाया 2500 रुपये लेने पहुंचे युवक की कुल्हाड़ी मारकर हत्या (Boy Murder) कर दी गई. बताया जा रहा है कि उसका 3 महीने से बकाया नहीं मिल रहा था. 12 दिन बाद उसकी बहन की शादी होने वाली थी. इसीलिए युवक को पैसों की सख्त जरूरत थी. बार-बार पैसे मांगने से आरोपी रंजिश मान गए. पैसे देने के बहान उसे बुलाकर मौत के घाट उतार दिया. हत्यारे मृतक के जानने वाले बताए जा रहे हैं.

Advertisement

खबर के मुताबिक आरोपियों ने बकाया पैसे देने के बहाने युवक को अपने घर बुलाया और बाप-बेटे ने उसके सिर में कुल्हाड़ी मारकर हत्या कर दी. बेखौफ आरोपियों ने युवक की हत्या करने के बाद उसके चाचा को फोन कर कहा कि अपने भतीजे का शव उठा ले जाओ. यह सुनकर परिवार के होश उड़ गए. वहीं पीड़ितों की शिकायत पर आरोपी बाप-बेटे के खिलाफ हत्या समेत कई धाराओं में केस दर्ज (Murder Case File) या गया है.

Advertisement

2500 रुपये मांगने पर युवक की हत्या

मृतक अतुल के भाई तेजेंद्र ने हिसार एचएमटी थाना पुलिस को दी शिकायत में कहा कि उसके भाई को दीपक नाम के युवक से लेबर के 2500 रुपये लेने थे. अतुल लकड़ी मिस्त्री का काम करता था. उसने महाबीर कॉलोनी के पास फ्लेक्स बोर्ड लगाने के काम किया था. इसीलिए उसके काम के पैसे बकाया थे. उसने बताया कि रविवार रात को करीब साढ़े 9 बजे दीपक ने अतुल को फोन करके लेबर के पैसे लेने के लिए बुलाया था. अतुल दिनेश नाम के शख्स के साथ उसके घर पैसे लेने पहुंचे थे. उसने बताया कि दीपक और उसके पिता हत्या करने के लिए पहले से ही तैयार बैठे थे. उन्होंने कुल्हाड़ी मारकर अतुल की हत्या कर दी.

‘अपने भतीजे के शव को ले जाओ’

पुलिस को दी शिकायत में कहा गया है कि अतुल की हत्या करने के बाद दीपक ने उसके चाचा अशोक को फोन कर कहा कि अपने भतीजे के शव को ले जाओ उसकी हत्या कर दी है. जैसे ही उसका परिवार मौके पर पहुंचा तो दीपक हाथ में कुल्हाड़ी लिए खड़ा हुआ था. उसका पिता राहुल भी वहीं मौजूद था. उन्होंने तुरंत पुलिस को मामले की खबर दी.

Advertisement

 

Advertisement