Connect with us

Vehicle & Transport

BS4 वाहन अगर खरीदा है मार्च के बाद, तो पढ़ें यह सुप्रीम कोर्ट का आदेश

Published

on

BS4 वाहन अगर खरीदा है मार्च के बाद, तो पढ़ें यह सुप्रीम कोर्ट का आदेश

 

सुप्रीम कोर्ट ने बीएस4 वाहनों की बिक्री से संबंधित अपने पिछले आदेश को पलट दिया है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि लॉकडाउन खत्म होने के बाद 10 दिन तक बेचे जाने वाले वाहनों का पंजीकरण नहीं किया जाएगा। सुप्रीम कोर्ट का ताजा आदेश ऑटोमोबाइल डीलर्स के लिए बड़ा झटका है। सुप्रीम कोर्ट ने यह भी स्पष्ट किया है कि इससे केवल वहां के वाहनों को ही सुरक्षा मिलेगी, जिनका पंजीकरण वाहन पोर्टल के माध्यम से हुआ है। इससे पहले 15 जून को सुप्रीम कोर्ट ने फेडरेशन ऑफ ऑटोमोबाइल डीलर्स एसोसिएशन (एफएडए) सहित ऑटोमोबाइल एसोसिएशनों को फटकार लगाते हुए कहा था कि डीलरों ने बीएस4 वाहनों की बिक्री और पंजीकरण के लिए कोर्ट के आदेश की अवहेलना की है।

सुप्रीम कोर्ट

जस्टिस अरुण मिश्रा की अध्यक्षता वाली जस्टिस एस अब्दुल नजीर और जस्टिस इंदिरा बनर्जी की अध्यक्षता वाली बेंच बीएस4 फ्यूल एमिशन स्टैंडर्ड वाले वाहनों की बिक्री और रजिस्ट्रेशन में छूट से जुड़े एक मामले की सुनवाई कर रही थी। पीठ ने कहा था कि ऑटोमोबाइल डीलरों ने बीएस4 वाहनों की बिक्री और पंजीकरण के लिए दी गई छूट पर अपने पूर्व के आदेश का उल्लंघन किया था। शीर्ष अदालत ने कहा कि उसने 1.05 लाख बीएस4 वाहनों की बिक्री और पंजीकरण की अनुमति दी थी, लेकिन तब से अब तक 2.55 लाख वाहनों की बिक्री हो चुकी है। शीर्ष अदालत ने एफएडए द्वारा वाहनों की बिक्री और पंजीकरण का ब्योरा भी मांगा था।

BS-4 Vehicle Sales Closed In Delhi-NCR - आज से दिल्ली ...

इसके साथ ही शीर्ष अदालत ने सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय से कहा था कि वह अदालत के 27 मार्च के आदेश के बाद बेचे और पंजीकृत बीएस4 वाहनों का ब्योरा पेश करे। भारत ने 1 अप्रैल से दुनिया के सबसे साफ ईंधन उत्सर्जन मानकों को लागू करने का फैसला किया है। यूरो 6 उत्सर्जन मानक सीधे भारत में यूरो 4 से लागू किए गए हैं। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने 27 मार्च को ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री को राहत दी थी और राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के पहले चरण के बाद 10 दिनों के लिए बीएस4 वाहनों की बिक्री की अनुमति दी थी।