Connect with us

City

सड़कों को बेसहारा पशुओं से मुक्त करने का अभियान आज से शुरू

Published

on

Advertisement

सड़कों को बेसहारा पशुओं से मुक्त करने का अभियान आज से शुरू, पहले शहर में राष्ट्रीय राजमार्ग से हटाए जाएंगे पशु

 

शहर के लोगों के लिए राहत भरी खबर हैं कि अब नगर निगम बुधवार से बेसहारा पशुओं को पकड़ने के लिए अभियान शुरू हो जाएगा। इसमें नगर निगम सबसे पहले शहर में नेशनल हाईवे से बेसहारा पशुओं को हटाया जाएगा। सभी बेसहारा पशुओं नैन गांव की बड़ी गोशाला में भेजा जाएगा। इसके लिए नगर निगम कमिश्नर आरके सिंह व मेयर अवनीत कौर ने कर्मचारियों की बैठक ली। इसमें प्रतिदिन 10 से 15 बेसहारा पशुओं पकड़ा जाएगा। इसमें कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई। जिसमें शुरुआत में निगम की दो गाड़ी पर तीन कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है।

Advertisement

सड़कों को बेसहारा पशुओं से मुक्त करने का अभियान आज से शुरू, पहले शहर में राष्ट्रीय राजमार्ग से हटाए जाएंगे पशु

बता दें कि नगर निगम ने बेसहारा गोवंश को पकड़ने के लिए अभियान चलाया था। नैन गांव की गोशाला को हर महीने तीन लाख रुपये देने का वादा किया गया। यहां बेसहारा गोवंश को रखा जाना था। तीन माह तक तो नैन गोशाला में बेसहारा पशु रखे गए। फिर हाथ खड़े कर दिए। नगर निगम ने गोशाला को नौ लाख रुपये भी दिए। गोशाला के प्रबंधकों ने जगह नहीं होने के हवाला दिया। अब शहर जिले की कोई भी गोशाला गोवंश को लेने के लिए तैयार नहीं है। गोशाला ने पशु लेने से इन्कार किया तो निगम ने रुपये देने बंदकर दिए थे। अब फिर से योजना सिरे चढ़ते दिखाई दे रही है। 10 से 15 बेसहारा पशुओं को पकड़ा जाएगा

Advertisement

नगर निगम के अधिकारियों के अनुसार कुछ दिन अभी रोजाना 10 से 15 बेसहारा पशुओं को पकड़ा जाएगा। इसमें शहर में मुख्य सड़कों से सबसे पहले अभियान की शुरुआत की जाएगी। हर माह 1500 से बेसहारा पशुओं को पकड़ने का लक्ष्य निर्धारित किया जाएगा। सबसे ज्यादा यहां रहती है समस्या

– मलिक पेट्रोल पंप के पास शाम होते ही 30 से ज्यादा गोवंश खड़े रहते हैं। हादसों का कारण बन रहे हैं। – सेक्टर 25 स्थित मित्तल मेगा माल के चारों तरफ पशुओं को डेरा बना रहता है। इसमें 50 से ज्यादा पशु घूमते रहते हैं। – संजय चौक जीटी रोड पर रात को सबसे ज्यादा पशु रहते हैं। इससे सनौली व जाटल रोड की तरफ से आने वाले वाहनों के साथ हादसा हो सकता है। – गोहाना रोड पर पर 200 से ज्यादा आवारा पशु दिनरात सड़कों पर घूमते रहते हैं। – असंध रोड पर शनि मंदिर तक 300 से ज्यादा पशु घूमते रहते हैं। हादसे का खतरा गोशाला में फैली अव्यवस्था में होगा सुधार

Advertisement

नगर निगम की मेयर अवनीत कौर ने जागरण से बातचीत में बताया कि नैन गोशाला में अव्यवस्थाएं हैं। लेकिन गोशाला प्रबंधकों से बात की गई है। उन्हें ठीक करना उनकी जिम्मेदारी है। फिलहाल व्यवस्था को सुधारने के लिए एडीसी से मुलाकात की जाएगी। इसमें गोशाला में पक्का फर्श किया जाएगा और शेड बनाए जाएंगे व प्रतिदिन रिपोर्ट भी ली जाएगी। निगम गोशाला को प्रति माह चार लाख रुपये देगी।

Advertisement