Connect with us

पानीपत

कंपनी मैनेजर को अगवा कर 1 रु. प्रति टन कमीशन किया था सेट, 5 गिरफ्तार

Published

on

Spread the love

कंपनी मैनेजर को अगवा कर 1 रु. प्रति टन कमीशन किया था सेट, 5 गिरफ्तार

 

रिफाइनरी के पीपीएमसी प्रोजेक्ट में कार्यरत एमईएल कंपनी में साइट मैनेजर श्रीकांत को बदमाशों ने फरवरी माह में किडनैप कर लिया था। कंपनी में लोडिंग के काम में एक रुपया प्रति टन कमीशन सेट होने के बाद रिहा किया था। इस मामले को सीआईए 3 ने मंगलवार को खुलासा कर दिया। पुलिस ने इस मामले में 5 बदमाश गिरफ्तार कर लिए हैं। आरोपियों से वारदात में प्रयुक्त राइफल, बंदूक, पिस्तौल और कार को बरामद कर लिया है। सीआईए-थ्री प्रभारी अनिल छिल्लर ने बताया कि इस मामले में साइट मैनेजर श्रीकांत ने 4 फरवरी को केस दर्ज कराया था।

सुपरवाइजर की नौकरी करता था अरुण

प्रभारी ने बताया कि बदमाश अरुण कालीरमन 2013 में पीपीएमसी प्रोजेक्ट में बतौर सुपरवाइजर नौकरी करता था। पिछले साल उसने कंपनी में अपना टैंकर लगवा दिया। इस दौरान अरुण को पता लगा कि कंपनी सुरेंद्र काला को 50 पैसे प्रति टन के हिसाब से कमीशन देती है। जिस पर उसने अपने रिश्तेदार अंकित के साथ मैनेजर का कमीशन सेट करने की योजना बना ली। प्रभारी ने बताया कि अंकित ने 1 साल पहले लव मैरिज की थी।

रिफाइनरी के पास से उठाया था

हथियारबंद लोगों ने श्रीकांत को रिफाइनरी के पास से उठाया था। जांच में अरुण कालीरमन निवासी असंध, सुरजीत और अंकित निवासी मोहाना, सोनीपत के नाम सामने आए। पता लगा कि वह किसी मामले में सोनीपत जेल में बंद है। 4 सितंबर को प्रोडक्शन वारंट पर लेकर पूछताछ की। उसने साथियों के नाम बताए। सोमवार को जाेगिंद्र उर्फ भोलू निवासी खरखौदा, सोनीपत तथा प्रवीण काजल निवासी घरौंड को गिरफ्तार कर लिया।