Connect with us

Cities

Coronavirus: जागरूक जनता का लापरवाही भरा कदम, जिलों में धारा 144, हालात सामान्‍य दिनों की तरह

Published

on

कोरोना वायरस के चलते सरकार गंभीर है। पानीपत को लॉकडाउन कर दिया, जबकि सभी जगह धारा 144 लागू कर रखा है। इसके बावजूद जागरूक जनता लापरवाही भरा कदम उठा रही है। प्रशासन की अपील के बावजूद लोग घरों से न सिर्फ निकल रहे, बल्कि पार्कों से लेकर चौक चौराहों में एकजुट हो रहे हैं। हालात सामान्‍य दिनों की तरह हैं।

पानीपत में लॉकडाउन के बावजूद लोगा अनावश्‍यक रूप से घरों से बाहर निकल रहे हैं। पुलिस उन्हें समझाकर वापस भेज रही है। वहीं आवश्‍यक दुकानों के अलावा अन्‍य कास्‍मेटिक, इलेक्ट्रिक और शराब के ठेके भी खुले हैं। वहीं बाजार को पूरी तरह से बंद करा दिया गया है। जबकि सब्‍जी मंडी में भीड़ है।

करनाल में पुलिस कर रही जागरूक

करनाल में लॉकडाउन की स्थिति नहीं है, लेकिन एहतियातन धारा १४४ लागू है। शहर में आवागमन पर रोक नहीं है। प्राइवेट वाहन, ई रिक्शा, ऑटो चल रहे हैं। रोडवेज की इंटरस्टेट सेवाएं बंद हैं। रेलवे स्टेशन भी बंद है। ट्रेनें नहीं चलने से सिर्फ टिकट कैंसल कराने वाले पहुंच रहे हैं। घंटाघर, सदर बाजार और अन्य क्षेत्रों में दुकानें अपेक्षाकृत कम खुली हैं। पुलिस कुछ जगह अनाउंसमेंट भी कर रही है। राजकीय अस्पताल में फ्लू ओपीडी, फिजिशियन, गायनी, शल्य चिकित्सा को छोड़कर शेष सभी ओपीडी बंद हैं। कैमिस्ट व लैब खुले हैं।

Coronavirus: जागरूक जनता का लापरवाही भरा कदम, जिलों में धारा 144, हालात सामान्‍य दिनों की तरह

किराने की दुकानें, डेयरी और रोजमर्रा की वस्तुएं उपलब्ध हैं। शिक्षण संस्थान, होटल, ढाबे, रेस्टोरेंट, मॉल, धार्मिक संस्थान, स्टेडियम, जिम बंद हैं। पांच से अधिक लोगों का एक जगह एकत्र होने पर धारा १४४ के तहत कार्रवाई के आदेश हैं। प्रशासनक की तरफ से हेल्पलाइन नंबर 100, 101, 108, 01842272201, 9817701572 जारी कर दिए गए हैं।

कैथल में खुले बाजार, भीड़ कम

जनता कर्फ्यू के बाद सोमवार को बाजार खुल गए हैं। अन्य दिनों की तरह भीड़ काफी कम रही।  रोडवेज बस अड्डा, रेलवे स्टेशन पूरी तरह से बंद है। सब्जी मंडी में भीड़ सामान्य दिनों की तरफ है।  राशन और दूध की दुकानों पर भीड़ सुबह के समय कुछ ज्यादा रही, लेकिन जैसे-जैसे दिन निकलता गया तो ग्राहकों की भीड़ कुछ कम होती गई।  ट्रेनों के कैंसल किए जाने के बाद लोग टिकटों को कैंसल करवाने के लिए आ रहे है।  शहर के तलाई बाजार, रेलवे गेट बाजार, मैन बाजार, छात्रावास रोड, शास्त्री मार्केट, भगत सिंह चौक, जनता मार्केट में दुकानें खुली रही, लेकिन आवाजाही बहुत ही कम देखने को मिली।

ये सब बंद

जिलेभर के शिक्षण संस्थान, मॉल, धार्मिक स्थल, खेल स्टेडियम और जिम पहले से ही बंद हैं। इसलिए वहां सन्नाटा पसरा हुआ है। सरकारी कार्यालयों में भी शहीदी दिवस पर अवकाश के चलते बंद हैं। जहां लोग एकत्रित हैं वहां हर जगह कोरोना को लेकर चर्चा हो रही है। कोरोना के भय के चलते लोग सुबह व शाम के समय सैर करने के लिए भी नहीं निकल रहे हैं। लोगों घरों में बैठकर ही समय व्यतीत कर रहे हैं। केवल अवकाश कार्यो के लिए घरों से बाहर निकल रहे हैं। बच्चे टीवी देखकर और गेम खेलकर टाइमपास कर रहे हैं।

कुरुक्षेेेत्र के सन्निहित सरोवर पर बड़ी संख्या में श्रद्धालु पहुंचे

धर्मनगरी में सोमवार को सुबह बाजार खुल गए। दिन चढ़ने के साथ लोगों की आवाजाही भी तेज हुई। कई बड़े शोरूम और पिज्जा हट खुले। पुलिस ने बाजारों में पहुंचकर लोगों को धारा १४४ के बारे में बताया। शहर में २० या इससे अधिक लोगों के इकट्ठा होने पर रोक है। चैत्र चौदस मेला स्थगित किया हुआ है। पिहोवा सरस्वती स्थल पर मेला नहीं लगा। इधर, सन्निहित सरोवर पर सुबह ही बड़ी संख्या में श्रद्धालु पहुंच गए। उन्होंने यहां कर्मकांड कराएं। प्रशासन व पुलिस ने मौके पर पहुंचकर लोगों को बाहर किया।

जींद में भी नहीं मान रहे लोग, धारा 144 के बावजूद जमा हो रही भीड़

रविवार को जनता कर्फ्यू का जहां लोगों ने पूरी ईमानदारी से पालन किया। लेकिन सोमवार को सुबह से ही खरीददारी के लिए सब्जी मंडी में भीड़ लगी रही। लोग आलू, प्याज व अन्य सब्जियां खरीदने में लगे रहे। यही हाल बाजार का रहा। सभी दुकानें खुली थी। मेन बाजार, तांगा चौक समेत पूरे शहर में लोगों की भीड़ रही। कोरोना वायरस के चलते जिला प्रशासन ने धारा 144 लागू की हुई है। लोगों से भीड़ वाली जगहों पर ना जाने और ज्यादा जरूरी होने पर ही घर से बाहर निकलने का आह्वान किया गया है। लेकिन इसके बावजूद लोग इसे गंभीरता से नहीं ले रहे। जिले में फिलहाल कोई कोरोना का पॉजिटिव केस नहीं मिला है। देश व दूसरे राज्यों से आए 120 लोगों की जांच हो चुकी है। जिनमें कोरोना के लक्षण नहीं मिले हैं। डीसी डॉ. आदित्य दहिया ने जिलावासियों से आह्वान किया कि इस महामारी से निपटने में सरकार व प्रशासन का सहयोग करें। खाने-पीने व दूसरे चीजों की जितनी जरूरत है, उतनी ही खरीदें। अनावश्यक बाहर ना निकलें और जहां तक संभव हो सके, सफर करने से भी बचें।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *