Connect with us

विशेष

Coronavirus: ऑक्सीजन लेवल कम होने पर कोरोना के मरीज न करें ये गलती, बढ़ जाएगी समस्या!

Published

on

Advertisement

Coronavirus: ऑक्सीजन लेवल कम होने पर कोरोना के मरीज न करें ये गलती, बढ़ जाएगी समस्या!

 

भारत में कोरोना वायरस के एक दिन में सबसे ज्यादा नए संक्रमित मरीजों के मामले सामने आए हैं. देशभर के अस्पतालों में बेड और ऑक्सीजन सिलेंडर की सबसे ज्यादा कमी देखने को मिल रही है. इस बीच सोशल मीडिया पर एक पोस्ट तेजी से वायरल हो रही है जिसमें शरीर में ऑक्सीजन का लेवल बढ़ाने के लिए एक घरेलू नुस्खा अपनाने की सलाह दी जा रही है. लेकिन क्या सच में किसी घरेलू नुस्खे से ऑक्सीजन के लेवल को बढाया जा सकता है, यहां जानें इस दावे की हकीकत.

Advertisement

कपूर, लौंग, अजवाइन और नीलगिरी के तेल से क्या बढ़ता है ऑक्सीजन लेवल?

will this remedy increase oxygen

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे इस पोस्ट में लिखा है कि कपूर, लौंग, अजवाइन और नीलगिरी यानी यूकेलिप्टस के तेल की कुछ बूंदें डालकर पोटली बना लें और इसे पूरे दिन सूंघते रहें. ये शरीर में ऑक्सीजन लेवल बढ़ाने में मदद करता है. पोस्ट में यह भी कहा गया है कि लद्दाख में पर्यटकों को ऐसी पोटली दी जाती है जब वे ऊंचाई पर जाते हैं और उनके शरीर में ऑक्सीजन का लेवल कम होने लगता है.

दावे को साबित करने के लिए कोई वैज्ञानिक आधार नहीं

no scientific proof

हैरानी की बात ये है कि इस वायरल मैसेज को केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने भी शेयर किया है. आपको बता दें कि इस तरह के घरेलू नुस्खे को साबित करने के लिए किसी तरह की कोई रिपोर्ट मौजूद नहीं है (No reports to prove the claim) जो यह कह सके कि कपूर, लौंग, अजवाइन और नीलगिरी के तेल से ब्लड में ऑक्सीजन का लेवल बढ़ता है और सांस से जुड़ी परेशानी में आराम मिलता है.

Advertisement

कपूर सूंघने के नुकसान

inhaling camphor

आयुर्वेदिक एक्सपर्ट्स की मानें तो कपूर सफेद रंग का ज्वलनशील पदार्थ है जिसकी गंध बेहद तेज और तीखी होती है और यह दिमाग को हाइपर एक्टिव कर देती है जिससे शरीर में खून का बहाव तेज हो जाता है. कपूर की थोड़ी सी भी ज्यादा मात्रा सूंघना आपके लिए खतरनाक हो सकता है. नाक, गले और आंखों में जलन के साथ ही गंभीर दौरे पड़ने का भी जोखिम हो सकता है.

  लौंग सूंघने के नुकसान
clove side effects

लौंग में यूजेनॉल होता है जो लीवर की कार्यक्षमता में सुधार करता है और पाचन से जुड़ी दिक्कतें दूर करने में मदद करता है. लेकिन यही यूजेनॉल टॉक्सिसिटी यानी विषाक्तता का भी कारण बन सकता है. लौंग को सूंघने से शरीर में ऑक्सीजन का लेवल बढ़ता है इससे जुड़े कोई शोध मौजूद नहीं हैं. लेकिन लौंग सूंघना खतरनाक जरूर हो सकता है.

Advertisement

अजवाइन और नीलगिरी का तेल

ajwain and eucalyptus oil

अजवाइन भले ही पेट के लिए फायदेमंद हो लेकिन कई लोगों को अजवाइन से एलर्जी भी हो सकती है. इसे सूंघने के क्या फायदे नुकसान हो सकते हैं, इस बारे में अब तक कोई शोध मौजूद नहीं है. वहीं नीलगिरी के तेल की बात करें तो यह मांसपेशियों या जोड़ों में दर्द होने पर आराम दिलाने में मदद करता है. लेकिन इसे सूंघने से शरीर में ऑक्सीजन का लेवल बढ़ सकता है, इस बात को साबित करने के लिए भी कोई वैज्ञानिक शोध या रिपोर्ट मौजूद नहीं है.

कोरोना के मरीज न करें ये गलती

avoid this mistake

कोरोना के मद्देनजर कई तरह के घरेलू नुस्खे इन दिनों सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहे हैं. लेकिन किसी भी तरह के उपाय को करने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह जरूर लें वरना आपकी सेहत को नुकसान हो सकता है या फिर दिक्कतें भी बढ़ सकती हैं.

 

Source : Aaj Tak

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *