Connect with us

पानीपत

पानीपत में हाईवे पर बैठे लोग, तस्वीरों में देखिए शहर के हालात

Published

on

Advertisement

पानीपत में हाईवे पर बैठे लोग, तस्वीरों में देखिए शहर के हालात

 

पानीपत शहर के वार्ड तीन से पूर्व पार्षद हरीश शर्मा का शव करीब 75 घंटे बाद सोनीपत के खुबड़ू के पास मिल गया। शर्मा का शव मिलते ही परिवार में चीख-पुकार मच गई। सोनीपत के सिविल अस्‍पताल में शव का पोस्‍टमार्टम हुआ।

Advertisement

पोस्‍टमार्टम हाउस के बाहर प्रमोद विज।

Advertisement

रोने लगे विज 

पोस्‍टमार्टम हाउस के बाहर विधायक प्रमोद विज भी रोने लगे। इधर, पानीपत में उनकी पार्षद बेटी अंजली सहित परिवार के लोगों के आंसू नहीं थमे।

Advertisement

harishpanipat

हाईवे पर लगा दिया जाम।

धरने पर बैठे 

शाम होते-होते सोनीपत से जैसे ही एंबुलेंस से शव पानीपत लाया गया, वैसे-वैसे लोगों का आक्रोश बढ़ता गया। इतना ही नहीं शव पहुंचने से पहले ही अंजली शर्मा, उनका भाई गौरव और वार्ड के लोग हाईवे पर धरने पर बैठ गए।

harishpanipatnews

भारी पुलिसबल तैनात।

बर्खास्‍त करने की मांग 

एसपी, तत्‍कालीन चौकी इंचार्ज बलजीत सिंह, एएसआइ महावीर पर केस दर्ज करने। इन्‍हें बर्खास्‍त करने की मांग पर अड़ गए।

सोनीपत के पास मिला शव। 

सड़क पर बैठ गए, पानीपत हाईवे जाम 

लोग तहसील कैंप के कट के पास ही धरने पर बैठ गए। दिल्‍ली की ओर जाने वाला रास्‍ता बंद कर दिया।

धरने पर बैठे लोग।

हमें इंसाफ चाहिए

पार्षद अंजली शर्मा ने कहा, हमें इंसाफ चाहिए। हम क्‍या आतंकवादी थी, जो रातभर पुलिस घर आती रही। सभी पुलिसकर्मी बर्खास्‍त हों। यही हमारी मांग है।

harish

एनडीआरएफ टीम ने शुरू की तलाशी। 

 

बुलाई थी एनडीआरएफ टीम

इससे पहले सुबह ही गाजियाबाद से एनडीआरएफ टीम बुला ली थी। गाजियाबाद से टीम आई थी। सुबह ही तलाशी अभियान शुरू हो गया था। आखिरकार शव मिल ही गया।

 

 

हरीश शर्मा, फाइल फोटो। 

क्या है मामला 

दीवाली की रात पटाखे बिक रहे थे। एक स्टाल पर पुलिस ने छापा मारा तो हरीश शर्मा वहां पहुंच गए। समर्थक को बचाने के लिए उन्होंने कह दिया कि पटाखे उनके हैं। थोड़ी देर में अंजली शर्मा वहां पहुंचीं। उन्होंने आरोप लगाया कि पुलिस ने उनके साथ दुर्व्यवहार किया है। उन्होंने इसकी शिकायत पुलिस को दी। पुलिस ने इस पर कार्रवाई करने की बजाय, हरीश शर्मा, अंजली शर्मा सहित  10 लोगों पर 11 धाराओं में केस दर्ज कर लिया। जब कहीं सुनवाई नहीं हुई तो हरीश शर्मा ने नहर में छलांग लगा दी। उन्हें बचाने कूदे उनके दोस्त राजेश शर्मा की भी डूबने से मौत हो गई। 

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *