Connect with us

विशेष

क्या Pondicherry University के छात्र ने खोज लिया कोरोना संक्रमण का घरेलू इलाज? सरकार ने दी सफाई

Published

on

Advertisement

क्या Pondicherry University के छात्र ने खोज लिया कोरोना संक्रमण का घरेलू इलाज? सरकार ने दी सफाई

 

 

Advertisement

देश में कोरोना वायरस (Coronavirus in India) का कहर लगातार बढ़ता जा रहा है और रोजाना रिकॉर्ड मामले सामने आ रहे हैं. इस बीच सोशल मीडिया पर एक पोस्ट वायरल हो रहा है, जिसमें दावा किया जा रहा है कि पॉन्डिचेरी यूनिवर्सिटी (Pondicherry University) के एक छात्र ने कोरोना वायरस का घरेलू इलाज ढूंढ लिया है और डब्ल्यूएचओ ने इसे मंजूरी दे दी है.

वायरल पोस्ट में इन 3 चीजों से इलाज का दावा

वायरल पोस्ट में लोक सभा सांसद के हवाले से कहा जा रहा है, ‘पॉन्डिचेरी यूनिवर्सिटी (Pondicherry University) के एक भारतीय छात्र रामू ने कोविड-19 का घरेलू उपचार खोज लिया, जिसे डब्ल्यूएचओ ने पहली बार में ही स्वीकृति प्रदान कर दी. उसने साबित कर दिया कि एक चम्मच काली मिर्च का चूर्ण, दो चम्मच शहद, थोड़ा सा अदरक का रस लगातार 5 दिनों तक दिया जाए तो कोरोना के प्रभाव को 100 प्रतिशत तक समाप्त किया जा सकता है.’

Advertisement

पीआईबी ने बताई वायरल दावे की सच्चाई

सोशल मीडिया पर पोस्ट वायरल होने के बाद पीआईबी ने दावे को लेकर ट्वीट किया और बताया कि यह फर्जी है. पीआईबी फैक्ट चेक (PIB Fact Check) ने ट्विटर पर लिखा, ‘एक फर्जी खबर में दावा किया जा रहा है कि पॉन्डिचेरी यूनिवर्सिटी के एक छात्र ने कोविड-19 का घरेलू उपचार ढूंढ लिया है और डब्ल्यूएचओ द्वारा भी इसे स्वीकृति दी गई है. ऐसे भ्रामक संदेश साझा न करें. कोविड-19 से जुड़ी सही जानकारी के लिए आधिकारिक सूत्रों पर ही विश्वास करें.’

छवि

24 घंटे में 3.52 नए केस और 2812 मौत

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में भारत में 3 लाख 52 हजार 991 लोग कोरोना वायरस (Coronavirus) से संक्रमित हुए है, जबकि इस दौरान 2812 लोगों की जान गई. इसके बाद भारत में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 1 करोड़ 73 लाख 13 हजार 164 हो गई है, जबकि 1 लाख 95 हजार 123 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं.

Advertisement

देश में एक्टिव केस 28 लाख के पार

आंकड़ों के अनुसार, देशभर में अब तक कोविड-19 से 1 करोड़ 43 लाख 04 हजार 382 लोग ठीक हुए हैं. हालांकि पिछले कुछ दिनों में स्वस्थ होने की दर में लगातार गिरावट आई है और यह 82.62 प्रतिशत रह गई है. इसके साथ ही एक्टिव मामले लगातार बढ़ रहे हैं और देशभर में 28 लाख 13 हजार 658 लोगों का इलाज चल रहा है, जो कुल संक्रमितों की संख्या का 16.25 फीसदी है.

 

Source : Zee News

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *