Connect with us

पानीपत

सही सलामत मिल जाए हरीश शर्मा, यही हम सबकी दुआ है.. पानीपत को बड़ी हानि न हो जाए

Published

on

सही सलामत मिल जाए हरीश शर्मा, यही हम सबकी दुआ है.. पानीपत को बड़ी हानि न हो जाए

हरीश शर्मा की तलाश में आक्सीजन सिलेंडर से लैस गोताखोरों की टीम नहर में उतरी। शव मिलता है तो एसआइ बलजीत और इएसआइ महावीर के खिलाफ केस भी दर्ज हो सकता है। बता दें कि दीवाली की रात पटाखे बेचने वालों का बचाव करने आए हरीश शर्मा पर ही पुलिस ने पटाखे बेचने का आरोप लगाते हुए केस दर्ज कर लिया। उनकी पार्षद बेटी अंजली शर्मा पर भी 11 धाराओं में केस दर्ज किया। इसी तनाव में हरीश ने नहर में छलांग दी। उन्‍हें बचाने कूदे दोस्‍त राजेश शर्मा का शव मिल चुका है। हरीश की तलाश हो रही है।

हरीश की तलाश के लिए पटियाला से पानीपत पहुंची गोताखोर टीम।

50 लोग तलाश कर रहे

पूर्व पार्षद हरीश शर्मा के दोस्त डिपो होल्डर राजेश शर्मा का शव सिवाह बाईपास के पास मिला। हरीश शर्मा का अब तक पता नहीं चल सका है। 32 ग्रामीण जाल लगाकर तलाश कर रहे हैं। इसके अलावा गोताखोरों सहित 50 लोगों की टीम खुबड़ू झाल तक तलाश में जुटी है।

महाराणा से खुबड़ू तक करीब 25 किलोमीटर लंबा नहरी रास्ता है। आमतौर पर शव खुबड़ू झाल के पास अटक जाते हैं। अगर यहां से शव आगे निकल जाए तो तलाश बेहद मुश्किल हो जाती है।

 

खुबड़ू झाल तक पहुंचे विधायक विज

विधायक प्रमोद विज खुबड़ू झाल तक पहुंच गए। यहां पर उन्होंने छह युवकों की बाइक पर ड्यूटी लगाई है। ये युवक नहर के किनारे देख रहे हैं। ग्रामीणों को अपना नंबर दे रहे हैं, ताकि अगर कोई शव मिले तो तुरंत सूचना मिल सके। इसके अलावा नरवाना और कुरुक्षेत्र से सात गोताखोरों को बुलाया है। पटियाला से आशु मलिक गोताखोर के साथ तीन युवक और बुलाए हैं। जिन्होंने राइस मिलर रोहित के शव की तलाश की थी। तीन दिन बाद रोहित का शव नहर से मिला था।

 

Source : Jagran