Connect with us

City

नशा युवाओं को अपराध के रास्ते पर धकेल रहा, पानीपत में वारदात कर यूपी में छिप जाते

Published

on

नशा युवाओं को अपराध के रास्ते पर धकेल रहा, पानीपत में वारदात कर यूपी में छिप जाते

नशा युवाओं को अपराध के रास्ते पर धकेल रही है। लत पूरी करने के लिए युवा चोरी की वारदात कर रहे हैं। पुलिस पकड़कर आरोपितों को जेल भिजवा देती है। जमानत पर छूटते ही फिर से वारदात कर देते हैं। युवा दिन में रेकी करते हैं और रात को चोरी की वारदातों को अंजाम दे देते हैं। पुलिस इस तरह के पांच गिरोह के 12 बदमाशों को काबू कर चुकी है। कई गिरोह के बदमाश उत्तर प्रदेश के हैं। जो कि वारदात के बाद उत्तर प्रदेश में छिप जाते हैं। पुलिस की कार्रवाई महज छापामारी तक सिमट कर रह जाती है।

Panipat Crime: नशा युवाओं को अपराध के रास्ते पर धकेल रहा, पानीपत में वारदात कर यूपी में छिप जाते

केस-एक : तीन युवकों ने गिरोह बनाकर कर ली चोरी की तीन वारदात

डाबर कालोनी का विक्रांत उर्फ बोबी, विक्रम और दीपक को नशे की लत है। नशे के लिए रुपये न होने पर तीनों ने गिरोह बनाया और ढाई महीने में परशुराम कालोनी स्थित घर से लाखों के जेवर व नकदी चोरी कर ली।

केस-दो : दस बाइक चुरा ली

पुलिस ने बाइक चोर गिरोह के आका महबूब को गिरफ्तार कर जेल भिजवा दिया था। जेल से छूटते ही महबूब ने शहर में अलग-अलग थाना क्षेत्रों से दस बाइक चुरा ली। क्राइम इनवेस्टिगेशन एजेंसी (सीआइए-थ्री)ने महबूब को गिरफ्तार किया। आरोपित ने कुबूल किया कि वह नशा करता है। उसके पास रुपये नहीं थे। इसी वजह से बाइक चुराने लगा।

केस- तीन : दो बदमाशों ने गिरोह बनाकर कर ली चोरियां

बतरा कालोनी के सोनू अपने दोस्त शैंकी के साथ नशा खेलता था। रुपये न होने पर दोनों ने गिरोह बनाकर आठ महीने में चोरी की 20 वारदात कर दी। पुलिस ने दोनों को काबू किया। आरोपितों ने बताया कि वे

दुकान, मकान और मंदिर में चोरी की थी।

 

 

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *