Connect with us

City

सनाैली राेड, जीटी राेड, संजय चाैक व तहसील कैंप में निकासी न हाेने से भरा पानी अब समाधान को कमिश्नर ने जारी किए नंबर

Published

on

Advertisement

Advertisement

  • शहर में हुई 25 एमएम बारिश में धुले निगम, पब्लिक हेल्थ व एचएसवीपी के दावे
  • नगर निगम व पब्लिक हेल्थ के डीजल इंजन व बिजली से चलने वाले पंपसेट भी नहीं हाे रहे प्रयाेग
  • कमिश्नर बोले- शहरवासियों का कम से कम समय में समस्या का समाधान किया जाएगा

 

शहर में बरसाती पानी जमा नहीं हाेने देने के लिए नगर निगम कमिश्नर आरके सिंह ने 16 जून काे सफाई शाखा अधिकारियाें व कर्मचारियाें की मीटिंग बुला निर्देश दिए थे। इसके 4 दिन बाद ही साेमवार काे शहर में हुई 25 एमएम बारिश ने नगर निगम समेत, पब्लिक हेल्थ व एचएसवीपी के दावे भी धाे दिए।

Advertisement

Heavy Rain Relief From The Heat, Waterlogging Make Trouble - भारी बरसात से लोगों को गरमी से राहत, जलभराव से परेशानी | Patrika News

शहर की प्रमुख सड़काें व चाैक चाैराहाें में शायद ही काेई ऐसी जगह बची हाे, जहां पर डेढ़ से 3 फुट तक पानी जमा नहीं हुआ है। अब समस्या से निपटने के लिए कमिश्नर ने सफाई शाखा के मुख्य सफाई निरीक्षक, सफाई निरीक्षक व सहायक सफाई निरीक्षकाें के माेबाइल नंबर जारी किए हैं। साथ ही शहरवासियाें का आह्वान किया है कि जलभराव के संकट समेत एरिया में फैली गंदगी की भी शिकायत दर्ज करवा सकते हैं। शिकायत पर टीम कम से कम समय में पहुंच जाएगी।

Advertisement

कपड़े बचाने की तरकीब- एसडी काॅलेज राेड पर बारिश से पानी भर गया। दुकानों के सामने से वाहन तेज गति से जाने लगे तो अंदर रखे कपड़े खराब हाे गए। इसके बाद दुकानदाराें ने राेड के बीच में पर्दा लगा दिया, ताकि चालक समझें सामने सीवर खुला है। इसके बाद सभी धीमी गति से निकलने लगे और कपड़े खराब होने से बच गए। - Dainik Bhaskar

बदतर हालात- इन क्षेत्रों में भरा सबसे ज्यादा पानी

शहर में प्रमुख रूप से सेक्टर-11/12, सनाैली राेड, जीटी राेड, संजय चाैक, तहसील कैंप एरिया, अनाज मंडी, शिव चाैक, कुटानी राेड, सैनी काॅलाेनी, ओल्ड इंडस्ट्रियल एरिया, माॅडल टाउन, आठ मरला, कच्चा कैंप, एसडी काॅलेज राेड, अमर भवन चाैक, चाैड़ा बाजार व स्काई लार्क राेड पर निकासी के उचित प्रबंध नहीं हाेने से सबसे ज्यादा पानी भरा है।

Advertisement

Water In The Streets And Streets Due To Continuous Rain - लगातार बारिश से सड़कों-गलियों में पानी ही पानी - Panipat News

विभागों के पास हैं 20 से ज्यादा पंपसेट

शहर के जिन क्षेत्रों में बरसाती पानी सबसे ज्यादा भरता है, वहां के पानी की निकासी के लिए पंपसेट लगाने हाेते हैं। नगर निगम व पब्लिक हेल्थ के पास डीजल इंजन व बिजली से चलने वाले 20 से ज्यादा पंपसेट हैं। इनका प्रयाेग नहीं हाे पा रहा है। असंध राेड रेलवे अंडर पास के नीचे भरे पानी काे निकालने के लिए जरूर कभी कभार पंपसेट प्रयाेग कर लिया जाता है, बाकी अन्य एरिया में प्रयाेग नहीं हाेते।

शहरवासी अपने एरिया में करें फाेन- कमिश्नर

शहर में बरसाती पानी साफ हाेने में अब ज्यादा समय नहीं लग रहा है। बारिश में भी कर्मचारी नालाें व जालियाें में फंसने वाले प्लास्टिक पाॅलिथीन, बाेतलें व थर्मोकॉल समेत अन्य कूड़े काे निकालते रहते हैं। फिर भी किसी काे जलभराव व सफाई संबंधी काेई दिक्कत है ताे वे अपने एरिया से संबंधित अधिकारी काे फाेन करके सूचित करें। समाधान कम से कम समय में कराया जाएगा।

-आरके सिंह, कमिश्नर, नगर निगम, पानीपत।

Advertisement

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *