Connect with us

पानीपत

फ्रिज से मिठाई खाई और फिर किताब से लेकर कपड़े व सोने-चांदी के गहने समेत 10 लाख की चोरी

Published

on

Advertisement

फ्रिज से मिठाई खाई और फिर किताब से लेकर कपड़े व सोने-चांदी के गहने समेत 10 लाख की चोरी

 

सेक्टर-29 थाना क्षेत्र के विकास नगर में चोरों ने बड़ी चोरी काे अंजाम दे दिया। चोरों ने पहले फ्रिज से मिठाई और अन्य सामान खाकर अपनी भूख मिटाई। इसके बाद चोरों ने रसोई से लेकर बैड और अलमारी में कुछ सामान नहीं छोड़ा। सोने-चांदी के जेवर, कैश, रसोई का राशन, LED, म्यूजिक सिस्टम, फैंसी लाइट के साथ चोर बच्चों की किताबें तक ले गए। पीड़ित ने सेक्टर-29 थाने में शिकायत दी है।

Advertisement

विकास नगर के अशोक कुमार ने बताया कि वह बाइक मैकेनिक और ऑटो पार्टस सेलर हैं। वह परिवार के साथ 14 जनवरी को दोपहर 1 बजे अपने साले निर्मल की शादी में गन्नौर के लिए निकले थे। शनिवार सुबह उनके परिचित की पत्नी उनके घर आई। आवाज देने पर किसी ने दरवाजा नहीं खोला तो वह खुद अंदर आ गई। अंदर सभी सामान बिखरा पड़ा था। महिला ने उन्हें फोन करके घर के हालात बताए। जिसके बाद वह आनन-फानन में घर पहुंचे।

चोरी की जानकारी देता पीड़ित अशोक। - Dainik Bhaskar

Advertisement

घर आकर देखा तो रसोई से लेकर बैडरूम तक का सामान बिखरा हुआ था। फ्रिज और रसोई से खाने का सामान तक गायब मिला। चोरों ने बच्चों की किताब तक नहीं छोड़ी। उन्होंने शादी में देने के लिए 15 कंबल खरीदे थे। पत्नी के सिले और बिना सिले सूट, जैकेट, रजाई थीं। अलमारी में सोने-चांदी के जेवर, नोट व मूर्ति रखी थी। एक लाख रुपये कैश था। चोरों ने रसोई के साथ बैड और अलमारी सब खंगाल दी। उन्होंने बताया कि चोर पूरी तैयारी के साथ आए थे। अब उनके पास ओढ़ने के कंबल और पहनने के कपड़ों के सिवा कुछ नहीं बचा है। चोर गाड़ी में सामान भरकर ले गए हैं।

शुक्रवार शाम तक सब ठीक था
अशोक ने बताया कि उन्होंने पास में ही रहने वाले अपने छोटे भाई से घर की निगरानी के लिए कहा था। भाई शुक्रवार शाम को घर देखकर गया था, तब सबकुछ ठीक था। शुक्रवार की रात को चोरों ने पूरी तसल्ली के साथ वारदात काे अंजाम दिया है।

Advertisement

एक रात में लुट गई 22 साल की कमाई
अशोक ने बताया कि वह 22 साल ने फ्लोरा चौक पर बाइक रिपेयरिंग और स्पेयर पार्ट्स का काम कर रहा है। इन 22 सालों में उन्होंने जो भी जोड़ा था, चोर सब ले गए।

पुलिस नहीं लगाती गश्त
अशोक ने बताया कि वह दिन में तो घर पर नहीं रहता, लेकिन रात में आज तक पुलिस का सायरन सुनाई नहीं दिया। उन्होंने पुलिस और प्रशासन से कॉलोनी में रात के समय पुलिस गश्त कराने की मांग

Advertisement