Connect with us

City

हरियाणा में बिजली फुल, फिर भी गुल ओवरलोड से लग रहें कटो ने उड़ाई रातों की नींद

Published

on

Advertisement

हरियाणा सरकार दावा करती है कि प्रदेश में बिजली फुल है, लेकिन फिर भी गुल हैं. रात के दौरान लगने वाले लंबे बिजली कटो ने लोगों की रात की नींद उड़ा दी है. मानसून के इंतजार में बैठे हरियाणा में प्रचंड गर्मी के बीच बिजली की खपत भी रिकार्ड स्तर पर पहुंच गई है. प्रदेश में बिजली की खपत नया रिकॉर्ड बनाते हुए 11 हजार 383 मेगावाट पर पहुंच गई है. इससे पहले 3 जुलाई 2019 को बिजली खपत 11 हजार मेगावाट के पार पहुंची थी.

रिकॉर्ड स्तर पर पहुंची बिजली की मांग

बृहस्पतिवार शाम 7 बजे तक प्रदेश में बिजली की डिमांड 10 हजार 97 मेगावाट पर पहुंच चुकी थी, जिसमें से 9 हजार 984 मेगावाट बिजली की आपूर्ति हो पाईं. प्रदेश के पास मौजूदा समय में 12 हजार 187 मेगावाट बिजली का भंडार उपलब्ध है. हिसार के खेदड़ थर्मल पॉवर प्लांट को छोड़ दें तो प्रदेश के सभी थर्मल पॉवर प्लांटों में तमाम यूनिटों में बिजली उत्पादन का काम जारी है.

Advertisement

हरियाणा में बिजली कट ने लोगाें की हालत बुरी कर दी है। (फाइल फोटो)

12 हजार 187 मेगावाट बिजली उपलब्ध

तापमान में लगातार बढ़ोतरी से बिजली की खपत रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गई है जिससे फीडर ओवरलोड होने लगें हैं. ओवरलोडिंग की वजह से फीडर ब्रेकडाउन होने पर बिजली कट भी बढ़ गए हैं. हालांकि बिजली विभाग दावे कर रहा है कि कोई कट नहीं लग रहें हैं लेकिन अधिकतर जिलों में गांव से लेकर शहरों तक में अनेकों जगहों पर लाइनों में फाल्ट आने से बिजली गुल हो रही है. विशेषकर ढाणियों (खेतों में बने मकान) में हालात और भी खराब है क्योंकि पिछले दिनों आंधी के कारण गिरे खंभे और ट्रांसफार्मर अभी तक ठीक नहीं हो सकें है. फीडर ब्रेकडाउन होने की वजह से लग रहें कटो के चलते कई जगहों पर लोग बिजली कर्मचारियों से उलझते हुए भी नजर आएं हैं.

Advertisement

थर्मल पावर प्लांटों में उत्पादन बढ़ा

बिजली की आपूर्ति को पूरा करने के लिए महीनों से बंद पड़ी पानीपत थर्मल पॉवर प्लांट की यूनिट नंबर सात और आठ को फिर से चालू किया गया है. दोनों यूनिटों से 500 मेगावाट बिजली का उत्पादन हो रहा है. इसी तरह यमुनानगर स्थित दीनबंधु छोटूराम थर्मल पॉवर प्लांट में लगाई गई 300-300 मेगावाट की दोनों यूनिटें करीब एक महीने से चालू है. पहले यहां एक यूनिट तकनीकी खराबी के चलते बंद पड़ी थी. हिसार के खेदड़ थर्मल पॉवर प्लांट में 600 मेगावाट की एक यूनिट में पूरी क्षमता के साथ उत्पादन हो रहा है.

Bangalore power cuts today| Bengaluru power cut: List of areas where power  supply will be affected from January 18 to 22 | Bengaluru News

Advertisement

एक हजार मेगावाट बिजली अतिरिक्त उपलब्ध

प्रदेश में बिजली की कोई कमी नहीं है. मांग की तुलना में हमारे पास एक हजार मेगावाट बिजली अतिरिक्त उपलब्ध है. अगर फ़ीडर पर ज्यादा लोड की वजह से कही कोई फाल्ट आ रहा है तो उसे तुरंत प्रभाव से ठीक किया जा रहा है ताकि इस भयंकर गर्मी के मौसम में लोगों को किसी प्रकार की कोई दिक्कत ना हो. दूरदराज इलाकों में आंधी की वजह से पड़े खंभों और ट्रांसफार्मरों को ठीक करने का काम युद्धस्तर पर चला हुआ है ताकि जल्द से जल्द बिजली आपूर्ति शुरू की जा सके:

रणजीत सिंह चौटाला, बिजली मंत्री, हरियाणा

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *