Connect with us

करनाल

पिता ने मोबाइल पर गेम खेलने से मना किया था, छात्र ने उठाया खौफनाक कदम, सदमे में परिवार

Published

on

Advertisement

पिता ने मोबाइल पर गेम खेलने से मना किया था, छात्र ने उठाया खौफनाक कदम, सदमे में परिवार

 

करनाल में 17 वर्षीय छात्र रोहित ने काछवा पुल के समीप पश्चिमी यमुनानहर में छलांग लगा दी। बात बस इतनी सी थी कि पिता ने उसे मोबाल पर गेम खेलने के लिए डांटा था। इससे नाराज होकर रोहित घर से निकल गया। पैदल ही सीधे नहर पर पहुंचा। यहां अपने कपड़े व मोबाइल रखा और नहर में छलांग लगा दी। हालांकि उसे देख कुछ दोस्त भी पीछे लगे, लेकिन वे उसे पकड़ नहीं पाए।

Advertisement

सूचना मिलते ही थाना रामनगर एसएचओ जगबीर सिंह टीम के साथ मौके पर पहुंचे। चार गोताखोरों को नहर में उतारा गया, जिन्होंने सर्च अभियान चलाया। लेकिन, देर शाम तक रोहित का कोई पता नहीं चल सका।

छात्र द्वारा नहर में छलांग लगाने की सूचना के बाद मौके पर पहुंचे स्वजन।

Advertisement

एसएचओ जगबीर सिंह का कहना है कि फिलहाल यही पता चल रहा है कि रोहित दसवीं कक्षा का छात्र था। उसने पिता की डांट के चलते ही यह कदम उठाया है। उसने रात को अपने किसी दोस्त के पास व्हट्सएप मैसेज भी भेजा था कि वह जिंदगी से परेशान है। पूरे मामले की जांच की जा रही है।

 

Advertisement

लॉकडाउन में छिना रोजगार, युवक ने लगाया मौत को गले

वहीं दूसरे मामले में एक युवक ने फंदा लगाकर अपनी जीवनलीला समाप्त कर ली। लॉकडाउन के बाद से बेरोजगारी से तंग आकर उसने यह आत्मघाती कदम उठाया। मृतक मूल रूप से कैथल जिला के गांव मुन्नारेहड़ी गांव का रहने वाला 27 वर्षीय विकास है। वह अपनी पत्नी के साथ यहां हांसी रोड पर रह रहा था। उसने रहस्यमयी हालत में घर में ही पंखे से लटकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। किसी काम के चलते घर से बाहर गई पत्नी वापस आई तो उसे लटका देख हैरान रह गई। उसने स्वजनों व पुलिस को जानकारी दी। पुलिस ने शव फंदे से उतारकर पोस्टमार्टम के बाद स्वजनों को सौंपा।

 

 

Source : Jagran

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *