Connect with us

City

खंभे हटाने के लिए चौथा एस्टीमेट भी तैयार, तीन के टेंडर जारी

Published

on

Advertisement

खंभे हटाने के लिए चौथा एस्टीमेट भी तैयार, तीन के टेंडर जारी

गोहाना रोड को फोरलेन करने के प्रोजेक्ट में अब अफसरों ने तेजी दिखाई है। बिजली निगम ने बिजली के खंभे हटाने के लिए चौथा एस्टीमेट भी तैयार करके इसे पीडब्ल्यूडी के हवाले कर दिया है। पीडब्ल्यूडी की इलेक्ट्रिक विग के एक्सईएन ने भी तत्परता से काम करते हुए इसे करनाल भेज दिया है। 80 लाख के इस एस्टीमेट की डेढ़ फीसद राशि यानी, 1.20 लाख रुपये पीडब्ल्यूडी की ओर से बिजली निगम के खाते में जल्द जमा करा दी जाएगी। उधर, अब तक सौंपे गए तीन एस्टीमेट पर टेंडर जारी कर वर्क आर्डर भी दे दिया है। असंध की सचिन इलेक्ट्रिक्ल कंपनी को इसका काम सौंपा गया है। दैनिक जागरण ने सिलसिलेवार खबरें प्रकाशित कर गोहाना रोड की समस्या और ठेकेदार की लापरवाही को उजागर किया था। इसके बाद शहर के विधायक और जिला प्रशासन ने गंभीरता से इस प्रोजेक्ट पर काम शुरू कराया।

Advertisement

दरअसल, करनाल की एमके इन्फ्रा को गोहाना रोड बनाने का प्रोजेक्ट मिला है। खंभों को शिफ्ट करने से पहले ही ठेकेदार ने पूरी सड़क को खोद दिया। बारिश होते ही पूरी सड़क पर पानी भर गया। हालात दूषित तालाब के हो गए। हादसे होने लगे। एक युवक तो कई दिन तक अस्पताल रहा। अब जब तक खंभे नहीं हटते, तब तक सड़क यूं ही गड्ढानुमा रहेगी। अफसरों से जवाब तलब हुआ। तब जाकर बिजली के खंभे शिफ्ट करने की प्रक्रिया में तेजी आई। खंभे और तार खरीदे जा रहे हैं

पीडब्ल्यूडी के एक्सईएन नवीन ने बताया कि एक सप्ताह में बिजली के खंभे शिफ्ट करने की प्रक्रिया शुरू हो सकती है। असंध की कंपनी को टेंडर दे दिया है। बिजली निगम को कुछ कागजी औपचारिकताएं करनी हैं। तब तक खंभे और अन्य सामान खरीद लिया जाएगा। ये हैं चार एस्टीमेट, पांचवें का इंतजार

Advertisement

जीटी रोड पर गोहाना रोड की शुरुआत से लेकर नहर तक सड़क को 14 करोड़ के बजट से फोरलेन किया जाना है। यहां तक पूरी सड़क बिजली निगम के चार डिविजन में आती है। माडल टाउन, सनौली, इसराना और सबअर्बन डिविजन के खंभे और तार लगे हैं। जीटी रोड से पुल तक 58 लाख, शुगर मिल के पास 26 लाख, डाहर तक 80 लाख और शुगर मिल संजय कालोनी के पास 80 लाख के एस्टीमेट तैयार हुए हैं। पांचवां एस्टीमेट 33केवी लाइन का है। ये काम बिजली निगम को ही पूरा करना है। अब तक जो हुआ, जागरण बना जनता की आवाज

Advertisement

1- ठेकेदार ने खंभों के शिफ्ट हुए बिना ही सड़क को खोद दिया

2- दैनिक जागरण ने सवाल उठाया तो सांसद संजय भाटिया मौके पर पहुंचे, रोड़े डलवाए

3- शहर के विधायक प्रमोद विज मौके पर पहुंचे, जल्द समाधान का दिया आश्वासन

4- वादे अनुसार काम नहीं हुआ, दूसरी तरफ लोग हादसे के शिकार होने लगे

5- गड्ढों में रोड़े जाने लगे, विधायक विज ने अफसरों की बैठक बुलाई

6- बिजली के खंभे हटे नहीं, एयरटेल ने अपने खंभे और लगा दिए

7- दैनिक जागरण ने पूरे तंत्र की पोल खोलते हुए रिपोर्ट प्रकाशित की

8- अगले ही दिन पीडब्ल्यूडी, नगर निगम की टीम पहुंची, एयरटेल के खंभे हटाए गए

9- बिजली निगम ने एस्टीमेट बनाने शुरू किए, पांच सितंबर मंगलवार तक चार एस्टीमेट पास हुए

10- अब 33 केवी के एस्टीमेट का इंतजार, बिजली निगम की उच्चस्तरीय कमेटी करेगी पास जागरण ने पहुंचाई बात, बना दबाव : ललित गोयल

गोहाना रोड वेलफेयर एसोसिएशन के प्रधान ललित गोयल का कहना है कि दैनिक जागरण जनता की आवाज बना है। ठेकेदार की लापरवाही को सामने लाए। जनप्रतिनिधियों तक बात पहुंचाई। अफसरों पर तेज गति से काम करने का दबाव बना है। खंभे शिफ्ट करने के बाद सड़क का निर्माण जल्द हो। जिस भी अधिकारी के स्तर पर लापरवाही बरती गई, उस पर कार्रवाई भी हो। ठेकेदार पर भी जुर्माना लगाया जाना चाहिए।

Advertisement