Connect with us

City

नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन बेचने वाले गिरोह का भंडाफोड़, सरगना सहित 11 आरोपित पुलिस के शिकंजे में

Published

on

नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन बेचने वाले गिरोह का भंडाफोड़, सरगना सहित 11 आरोपित पुलिस के शिकंजे में

शहर में मेडिकल स्टोर संचालकों से लेकर दुकानदारों का आपदा के समय रुपये की खनक के लिए इमान डोल गया। उन्होंने रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी शुरू कर दी। 12 हजार रुपये में एक इंजेक्शन सरगना से खरीद कर आगे 30 हजार रुपये में बेच दिया। पुलिस की चौकसी की वजह से गिरोह का भंडाफोड़ हो गया। ज्यादा इंजेक्शन की सप्लाई नहीं हो पाई। इंजेक्शन कम ही लोगों को लग पाए। अन्यथा ज्यादा लोगों की सेहत के साथ खिलवाड़ हो जाता।

नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन बेचने वाले गिरोह के 11 लोग गिरफ्तार।

सरगना समेत 11 लोग गिरफ्तार

पुलिस ने गिरोह के सरगना मोहम्मद शाहवार सहित 11 आरोपितों को गिरफ्तार किया। 23 रेमडेसिविर इंजेक्शन, दो कार व रेपर बरामद किए। पुलिस ज्यों-ज्यों  अंतरराज्यीय रेमडेसिविर इंजेक्शन गिरोह की परतें खोलती गई त्यों-त्यों इस धंधे से जुड़े लोगों बेनकाब होते चले गए। गिरोह को भंडाफोड़ करने वाले पुलिसकर्मियों को एसपी शशांक कुमार सावन ने सम्मानित किया।

ऐसे फैला रखा था जाल

सीआइए-वन प्रभारी इंस्पेक्टर राजपाल ने बताया कि हैदराबादी अस्पताल में मेडिकल स्टोर चला रहे प्रदीप ने  मोहम्मद शाहवार से रेमेडेसिविर इंजेक्शन खरीदे। इसके बाद इंजेक्शन कलंदर चौक के केशव उर्फ कन्नू, जलालपुर के सुनील और गरुनानकपुरा के सुमित को बेच दिए। तीनों ने इंजेक्शन शहर के अलग-अलग हिस्सों में बेच दिए। चारों आरोपितों ने शहर में जाल फैला रखा था। पुलिस ने काबू कर पूछताछ की और अन्य आरोपितों को भी दबोच लिया।

पंजाब और उत्तर प्रदेश में भी बेचे गए थे इंजेक्शन

मोहम्मद शाहवार व उसके गुर्गे पंजाब , उत्तर प्रदेश और हरियाणा में भी रेमडेसिविर इंजेक्शन बेचते थे। पंजाब की रोपड़ पुलिस ने आरोपित मोहम्मद शहवार, शाह आलम व मोहम्मद अरसद को गिरफ्तार किया। पानीपत सीआइए-थ्री ने तीनों आरोपियों को पंजाब की रोपड़ जेल से प्रोडक्शन वारंट पर लिया और आरोपितों की निशानदेही पर सहारनपुर के अखलद उर्फ अली को गिरफ्तार कर लिया। आरोपित के कब्जे से 48 लाख रुपये बरामद किए। पुलिस कई अन्य आरोपितों की तलाश में छापामारी कर रही है।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *