Connect with us

जींद

जींद में बुजुर्गों को निशाना बना रहा गिरोह, चाय पिलाकर लूट लेती हैं महिलाएं

Published

on

Advertisement

जींद में बुजुर्गों को निशाना बना रहा गिरोह, चाय पिलाकर लूट लेती हैं महिलाएं

 

 

Advertisement

जिले में बुजुर्गों को नशीला पदार्थ पिलाकर सोने के जेवरात व नकदी निकालने वाला गिरोह सक्रिय हैं। पिछले 15 दिन में गिरोह छह बुजुर्गों को अपना निशाना बना चुका है। शनिवार को भी नई सब्जी मंडी के निकट अलेवा निवासी वृद्धा कमला देवी को चाय में नशीला पदार्थ पिलाकर उसकी कानों से दो सोने की बाली व 800 रुपये की नकदी लेकर फरार हो गए। महिला को बेसुध हालात में नागरिक लोगों ने नागरिक अस्पताल में दाखिल करवाया। जहां से चिकित्सकों ने उसकी गंभीर हालात देखते हुए पीजीआई रोहतक रेफर कर दिया, लेकिन स्वजन उसे उपचार के लिए शहर के एक निजी अस्पताल में ले गए।

अलेवा निवासी देवेंद्र लोहान ने शहर थाना पुलिस को दी शिकायत में बताया कि वह जिला अदालत में वकील है। शनिवारद दोपहर बाद उनको किसी ने बताया कि अलेवा की एक वृद्धा नई सब्जी मंडी के निकट बेसुध हालात में पड़ी हुई है। इसका पता चलते ही वह मौके पर गया तो रिश्ते में दादी कमला देवी थी। उसने कमला देवी को पानी पिलाया तो वह कुछ होश में आई।

Advertisement

15 दिनों से जींद में यह गिरोह सक्रिय है। बुजुर्गों को निशाना बना रहा है।

उसने बताया कि जब वह सब्जी मंडी की तरफ जा रही थी तीन महिलाएं आई और उससे बात करने लगी। बातों में उलझाकर  महिलाएं उसके लिए चाय लेकर आई। जैसे ही उसने चाय पी तो उसकी आंखे बंद होने लगी और बेसुध हो गई। जब होश आया तो उसकी कानों से दो बाली और 800 रुपये की नकदी गायब थी। शहर थाना पुलिस ने अज्ञात महिलाओं के खिलाफ नशीला पदार्थ देने का मामला दर्ज करके आसपास के एरिया में लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज को खंगाल रही है।

Advertisement

पर्ची में इनाम निकलने का झांसा देकर कर रहा ठगी

ठग गिरोह जिले के अलग-अलग एरिया में बुजुर्ग लोगों के साथ ठगी की घटना को अंजाम दे रहा है। पुरुषों को गिरोह के लोग पर्ची में इनाम निकलने का झांसा देकर उनके साथ ठगी करते हैं। इस गिरोह की ठगी का शिकार हरियाणा पुलिस से सेवानिवृत एएसआई तक को बना चुके हैं। सीसीटीवी कैमरों से बचने के लिए गिरोह के लोग शहर के बाहर सुनसान एरिया में ही ऐसी घटनाओं को अंजाम देते हैं। जहां पर रास्ता पूछने के बहाने पहले तो बुजुर्गों को रोक लेते हैं। बाद में पर्ची में इनाम निकालकर अपने लालच में फंसा लेते हैं।

बाद में मौका पाकर नशीला पदार्थ सुंघाकर बेसुध कर देते हैं। बाद में जेवरात निकालकर फरार हो जाते हैं। अब तक सफीदों दो, जुलाना में दो, उचाना में दो, जींद शहर में दो वारदातों को अंजाम दे चुके हैं, लेकिन पुलिस उनको पकड़ नहीं पाई है।

 

 

Source : Jagran

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *