Connect with us

पानीपत

पानीपत में घी की फ़ैक्टरी पर मारा छापा, यहां कई ब्रांड नाम से नकली-मिलावटी देसी घी बनते..

Published

on

Advertisement

पानीपत में घी की फ़ैक्टरी पर मारा छापा, यहां कई ब्रांड नाम से नकली-मिलावटी देसी घी बनते..

सीएम फ्लाइंग दस्ते ने खटीक बस्ती स्थित दुर्गा ट्रेडिग कंपनी और दुर्गा फूड प्रोसेस में छापा मारा। चार घंटे से अधिक समय तक चली छापेमारी में दोनों कंपनियों का क्रय-विक्रय का रिकॉर्ड जब्त किया। खाद्य सुरक्षा विभाग की टीम ने विभिन्न ब्रांड के देसी घी, ब्लेंडेड एडिबल वेजिटेबल ऑयल (वनस्पति तेल) और पाम ऑयल के 11 नमूने लिए हैं।

Advertisement

 

दस्ते का नेतृत्व कर रहे डीएसपी शीतल सिंह ने बताया कि विनोद गुप्ता की खटीक बस्ती में दो फर्म हैं। शिकायत थी कि यहां कई ब्रांड नाम से नकली-मिलावटी देसी घी, वनस्पति तेल और पाम ऑयल तैयार कर,बड़े पैमाने पर बाजार में सप्लाई होता है। देसी घी तैयार करने के लिए दूध, वनस्पति ऑयल तैयार करने के लिए कच्चा माल कहां से आता है। तैयार माल कहां-कहां सप्लाई होता है, लैब कहां है? इस संबंध में कंपनी मालिक संतोषजनक उत्तर नहीं दे सके। खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन से जारी दो लाइसेंस की प्रतिलिपि जरूर दिखाई। मौके पर जिला खाद्य सुरक्षा अधिकारी डा. श्यामलाल और कराधान उत्पाद कर निरीक्षक नरेंद्र कुंडू को मौके पर बुलाया गया। दोनों कंपनियों के कंप्यूटर की हार्ड डिस्क में मौजूद डाटा को पेन ड्राइव में लिया गया है।

Advertisement

सीएम फ्लाइंग दस्ते का घी कंपनी पर छापा, 11 सैंपल भरे

उधर, जिला खाद्य सुरक्षा अधिकारी ने बताया कि दुर्गा ट्रेडिग कंपनी से छह, दुर्गा फूड प्रोसेस से पांच सैंपल लेकर लैब भेजे गए हैं। देसी घी, वनस्पति तेल और पाम ऑयल मानव शरीर के लिए नुकसानदेह है अथवा नहीं, रिपोर्ट आने पर कुछ कहना उचित रहेगा। लगभग 17 हजार लीटर का था स्टॉक :

Advertisement

 

कंपनियों में हरियाणा स्पेशल, रतना गोल्ड, बांसुरी तड़का, न्यूट्री, अवसर वनस्पति, होटल किग, नेचर फ्रैश जैसे ब्रांड से देसी घी, वनस्पति तेल और पाम ऑयल तैयार किया जा रहा था। छापामार दस्ता के मुताबिक मौके पर करीब 17 हजार लीटर का स्टॉक मौजूद था। दुर्गा ट्रेडिग से लिए सैंपल

– बिहारी जी देसी घी

– ब्रज ग्वाला देसी घी

– राधिका देसी घी

– श्री तुलसी देसी घी

– दो सैंपल कंटेनर से दुर्गा फूड प्रोसेस से लिए सैंपल

– दो सैंपल हरियाणा स्पेशल ब्लेंडेड एडिबल वेजिटेबल ऑयल

– एक सैंपल बांसुरी गोल्ड

– एक सैंपल पाम ऑयल

– एक सैंपल वनस्पति घी ऑनलाइन भी ट्रेडिग

कंपनियां बड़े पैमाने पर ऑनलाइन कारोबार भी करती हैं। ऑनलाइन ट्रेडिग करने वाली कई बड़ी कंपनियों के रैपर से पैक्ड पैकेट मौके पर रखे दिखे। छापामार दस्ते ने बताया कि पैकेट कंपनी बाहर से कच्चा माल मंगाती हैं। जीएसटी में बड़ी धांधली से इन्कार नहीं किया जा सकता। वर्जन :

मैनुअल रिकॉर्ड तो बहुत ज्यादा नहीं मिला है। स्टॉक की गणना कर ली गई है। दोनों कंपनियों के कंप्यूटर की हार्ड डिस्क में मौजूद डाटा जब्त किया गया है। इसकी जांच में कई दिन भी लग सकते हैं। जीएसटी में हेराफेरी हुई अथवा नहीं, अभी नहीं बता सकता।

नरेंद्र कुंडू, ईटीओ वर्जन :

मेरे पास देसी घी और वेजिटेबल ऑयल उत्पादन का लाइसेंस है। छापामार दस्ते को दस्तावेज दिखाए गए हैं। सीएम फ्लाइंग दस्ते का रूटीन निरीक्षण है। हम पूरी पारदर्शिता के साथ बिजनेस कर रहे हैं।

विनोद मित्तल, कंपनी डायरेक्टर

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *