Connect with us

पानीपत

नकली नोट से चाचा को लगाया चूना, दो पकड़े गए

Published

on

Advertisement

नकली नोट से चाचा को लगाया चूना, दो पकड़े गए

एक किशोर ने रसलापुर गांव में अपने चाचा की परचून की दुकान से 100 रुपये के दो नकली नोट देकर सामान खरीद लिया। पुलिस ने इस मामले में 14 वर्षीय किशोर व उसके 15 वर्षीय दोस्त को गिरफ्तार कर लिया है।

Advertisement

रसलापुर गांव के सद्दाम ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उसकी गांव में परचून की दुकान है। वीरवार को उसके भाई के बेटे ने सामान खरीदा और 100 रुपये का नोट दे दिया। इसी तरह से दूसरी बार भी भतीजा 100 रुपये देकर सामान खरीद ले गया। उसे शक हुआ और बैंक में जाकर तसल्ली की तो मैनेजर ने बताया कि दोनों नोट नकली हैं। इसके बाद दोनों नोट बापौली थाना पुलिस को सौंप दिए। असली आरोपित पुलिस ने छोड़ दिए

Printing of ₹2,000 notes not stopped, clarifies government

आरोपित किशोर के चाचा ने मुख्यमंत्री, गृहमंत्री, डीजीपी, आइजी करनाल और एसपी को शिकायत देकर आरोप लगाया कि गांव के तीन लोग नकली नोटों का धंधा करते हैं। इन्हीं लोगों ने बहका कर उसके भतीजे को 100 रुपये के पांच नोट देकर दुकान से सामान लेने के लिए भेज दिया। थाने में पांच नकली नोट पेश किए गए थे। थाना प्रभारी ने तीन असल गुनाहगारों को छोड़ दिया और उसके भतीजे को फंसा दिया।

Advertisement

2000 Rupees note might soon go out of circulation

दो आरोपितों को पकड़ा, आरोप बेबुनियाद

Advertisement

बापौली थाना प्रभारी श्रीभगवान ने संपर्क करने पर बताया कि नकली नोट मामले में दो किशोरों को गिरफ्तार कर अदालत में पेश किया, जहां से उन्हें बाल सुधार गृह अंबाला में भेज दिया गया है। दोनों आरोपितों ने कभी बताया कि वे राहगीर से नकली नोट लाए थे तो तभी कहा कि किसी किसी ग्रामीण से लाए हैं। किशोरों से सख्ती से पूछताछ नहीं की जा सकती थी। उन पर लगाए गए आरोप बेबुनियाद हैं।

Advertisement